पूजा  

(Search results - 105)
  • <p>vat savitri</p>

    News22, May 2020, 10:31 AM

    आज है वट सावित्री व्रत, जानें पूजा विधि

    पुराणों के मुताबिक सत्यवान पत्नी सावित्री ने भगवान यम से अपने पति को पुनर्जीवित करने के लिए मजबूर कर दिया था। यह व्रत हिंदू पंचांग के ज्येष्ठ मास (महीने) के अमावस्या (कोई चंद्रमा दिन या अमावस्या दिवस) के दिन मनाया जाता है। जबकि यह उत्तर भारत में ज्येष्ठ के महीने के मध्य में इसे मनाया जाता है। वहीं दक्षिण के अधिकांश क्षेत्रों ज्येष्ठ मास की अमावस्या से शुरू करते हैं।
     

  • <p>bhagwan shiv1</p>

    News19, May 2020, 11:55 AM

    आज प्रदोष व्रत, जानें कैसे करें भगवान भोलेनाथ की पूजा और जानें व्रत मुहूर्त, व्रत के नियम और लाभ

    भारत में कई त्योहार हैं और इन्हीं में से है प्रदोष व्रत जो भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए लिया जाता है। भगवान शिव के भक्तों द्वारा रखे जाने वाले व्रत में से एक प्रदोष व्रत है। हिंदू कैलेंडर के अनुसार प्रत्येक महीनें 13 वें दिन प्रदोष व्रत मनाया जाता है। इस महीने का प्रदोष व्रत आज यानी 19 मई 2020 को पड़ रहा है। 

  • শাস্ত্র মতে, সকালে ও সন্ধ্যায় দুবেলা ঠাকুর দেওয়ার সময় তুলসী গাছে জল দিয়ে পুজো করলে দেবতার কৃপাদৃষ্টি পাওয়া সম্ভব হয়। এতে করে জীবনের বহু সমস্যা কাটিয়ে উঠতে পারবেন সহজেই।

    Spirituality16, May 2020, 7:02 PM

    तुलसी की पूजा करने से घर में धन के साथ ही आती है शांति

    हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे को सबसे पवित्र माना जाता है। अधिकांश हिंदूओं के घरों में तुलसी का पौधा होता है, और लोग हर दिन स्नान करने के बाद इसकी पूजा करते हैं। तुलसी, जिसे वृंदा के नाम से भी जाना जाता है। तुलसी को भगवान विष्णु की पत्नी भी माना जाता है। इसलिए वह हमेशा विष्णु के विभिन्न अवतारों से संबंधित त्योहारों से शामिल होती है। कुछ मान्यताओं के अनुसार, तुलसी पृथ्वी पर देवी लक्ष्मी की अभिव्यक्ति हैं।

  • <p>বদ্রীনাথ মন্দিরের অবস্থান অলকানান্দা নদীর বাম তীরে নর ও নারায়ণ নামের দুই পর্বতের মাঝখানে। অনন্য সুন্দর প্রাকৃতিক অবস্থানের জন্যেও এর খ্যাতি রয়েছে।</p>

    News29, Apr 2020, 2:23 PM

    खुले बाबा केदारनाथ के कपाट, पीएम की तरफ की गई पूजा अर्चना

    आज केदारनाथ धाम के मुख्य पुजारी शिव शंकर लिंग ने सदियों से चली आ रही परंपरा के मुताबिक कपाट को खोला। उनके साथ देवस्थानम बोर्ड के प्रतिनिधियों के साथ ही 20 कर्मचारी कपाट खुलने पर धाम में पहुंचे और पूजा अर्चना की। वहीं पुलिस और प्रशासन की तरफ से 15 लोग यहां मौजूद रहे। अभी तक किसी कोरोना संकट के कारण केदारनाथ जाने की अनुमति नहीं है। 

  • undefined

    Astrology2, Apr 2020, 10:40 AM

    आज 2 अप्रैल(गुरुवार) का राशिफल आचार्य जिज्ञासु जी द्वारा

    आज नवमी के दिन नवदुर्गा की आराधना कर कन्याओं की पूजा करें। आज वृषभ राशि के जातकों को पहले किए गए निवेश के लिए अच्छे संकेत मिल रहे हैं। कन्या राशि के जातकों को कार्यक्षेत्र में सफलता मिलेगी।

  • undefined

    Astrology1, Apr 2020, 12:40 PM

    अष्ठमी के दिन मां नवदुर्गा का करें ध्यान, आज 1 अप्रैल( बुधवार) का राशिफल आचार्य जिज्ञासु जी द्वारा

    आज अष्ठमी के दिन मां की आराधन कर कन्याओं की पूजा करें और जरूरतमंदों को भोजन कराकर दान करें। मकर राशि के जातकों के व्यक्तिगत और व्यावसायिक जीवन बदलाव हो सकता है। वहीं मीन राशि के जातक बिना किसी कारण के उदास और उदास हो सकते हैं। अष्ठमी के दिन मां नवदुर्गा का करें ध्यान, आज 1 अप्रैल( बुधवार) का राशिफल आचार्य जिज्ञासु जी द्वारा
     

  • undefined

    News25, Mar 2020, 2:38 PM

    चैत्र नवरात्र प्रारंभ: पहला नवरात्र आज, कलश स्थापना कर करें शैलपुत्री की पूजा

    चैत्र नवरात्रि में मां दुर्गा नौका पर सवार होकर आएंगी और ये बेहद शुभ माना जाता है और इसके साथ ही इस साल के नवरात्र में सर्वसिद्धि योग बन रहे हैं। इस साल के नवरात्र पूरे 9 दिनों के हैं।  न तो इस साल कोई नवरात्र कम हो रहे हैं और नहीं बढ़ रहे हैं। जो काफी शुभ माना जाता है। 

  • undefined

    News3, Mar 2020, 12:46 PM

    होली में राशियों के अनुसार दें आहुति, करें शत्रु और दरिद्रता का नाश

    अगर आप घर की दरिद्रता को नाश करना चाहते हैं और अपने दिक्कतों को दूर करना चाहते हैं तो आपके पास होली के मौके पर एक मौका है। क्योंकि होलिका दहन के दिन आप अपनी समस्याओं का दहन कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे आप अपनी राशियों के अनुसार ही होलिका में  जरूरी सामाग्री की आहुति अर्पित करें। इस बार रंगों के महापर्व होली में होलिका दहन फाल्गुन शुक्ल पूर्णिमा पर नौ मार्च को पूर्वफाल्गुन नक्षत्र में है। सोमवार को प्रदोष काल से लेकर निशामुख रात्रि 11 बजकर 26 मिनट होलिका है। ज्योतिष के जानकार  आचार्य जिज्ञासु जी के द्वारा आप होलिका में आहुति देकर बीमारियों, दरिद्रता और शत्रुओं का नाश कर सकते हैं।

    आचार्य जिज्ञासु का कहना है कि होलिका की भस्म पवित्र होती है।  होली के दिन संध्या बेला में इसका टीका लगाने से सुख-समृद्धि और आयु में वृद्धि होती है। वहीं अगर आप कई परेशान हैं तो होलिका में आहुति जरूर दें। ऐसा कर आप अपने कष्टों को कम कर सकते हैं। वहीं दूसरी तरफ इस दिन नई फसल और खुशहाली की कामना भी की जाती है। कहा जाता है कि होलिका की आग में सेंक कर लाए गए धान्यों को खाने से काया हमेशा निरोगी बनी रही थी है और घर में कोई  भी स्थिति हो लेकिन माता अन्नपूर्णा की कृपा बनी रहती है।

    आचार्य जिज्ञासु के मुताबिक नौ मार्च को होलिका दहन का शुभ मुहूर्त प्रदोष काल से मध्यरात्रि तक है। होलिका दहन के दिन सुबह छह बजकर आठ मिनट से लेकर दोपहर 12:32 बजे तक भद्रा है इसीलिए होलिका दहन भद्रा के बाद किया जाएगा। शास्त्रों के मुताबिक भद्रा को विघ्नकारक माना गया है  और भद्रा में होलिका दहन करने से हानि और अशुभ फल मिलते हैं।
     

  • undefined

    Spirituality1, Feb 2020, 8:09 AM

    दो फरवरी को है मासिक दुर्गाष्‍टमी, ऐसे करें मां दुर्गा की पूजा ताकि घर में आए सुख और समृद्धि

    दुर्गा अष्टमी (Masik Durgashtami) को मासिक दुर्गा अष्टमी भी कहा जाता है। कहा जाता है कि अगर मां को प्रसन्न करना है तो दुर्गाअष्टमी के दिन मां दुर्गा की पूजा करनी चाहिए। मां दुर्गा की विधि के साथ पूजा करनी चाहिए। इससे मां प्रसन्न होती और भक्तों के कष्टों को दूर करती है।

  • cow

    News30, Jan 2020, 7:12 PM

    गौ की करें सेवा, दूर होंगे वास्तु और ग्रह दोष

    अगर आप सुबह शाम पूजा के वक्त गाय के घी का दिया अपने मंदिर या पूजा के स्थान में जलाते हैं तो घर से कई तरह के दोष समाप्त होते हैं। हिंदू धर्म में धार्मिक तौर पर गाय का बहुत महत्व है। विभिन्न अवसरों पर गाय की पूजा होती है। हिंदू शास्त्रों, वेदों और पुराणों में भी गाय की महिमा का वर्णन किया गया है और गाय की पूजा को उत्तम पूजा बताया गया है।

  • sarsawati maa

    News29, Jan 2020, 6:39 AM

    बसंत पंचमी: तीन ग्रह के लिए शुभ, जानें मां सरस्‍वती पूजा की पूरी विधि

    बसंत पंचमी(Basant Panchami) आज है। हालांकि इसके मुहूर्त को लेकर कुछ लोगों में विवाद है। कुछ का कहना है कि बसंत पंचमी 29 को है तो कुछ का कहना कि 30 जनवरी को। लेकिन ये दोनों ही दिन है। क्योंकि 29 जनवरी( बुधवार) को पंचमी तिथि सुबह 10.46 से शुरू होगी, जो गुरुवार दोपहर 1.20 बजे तक रहेगी। लिहाजा इन दो दिनों में शुभ मुहूर्त पर कोई भी पूजा कर सकता है।

  • সরস্বতী পুজোর ছবি

    Astrology27, Jan 2020, 6:31 AM

    बसंत पंचमी: ऐसे करें मां सरस्वती की पूजा, जानें कब है शुभ मुहूर्त

    देशभर में बसंत पंचमी(Vasant Panchami) 29 जनवरी को मनाई जाएगी। भारत से लेकर बांग्लादेश और नेपाल में बसंत पंचमी(Vasant Panchami) का त्योहार बड़े धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन मां सरस्वती की पूजा विधि विधान से की जाती है। इसे मां सरस्वती का जन्मोत्सव भी कहा जाता है। बसंत पंचमी माघ महीने के शुक्ल पक्ष के दिन मनाई जााती है। इसे श्रीपंचमी भी कहा जाता है।

  • ddep dive

    News6, Jan 2020, 9:26 PM

    हिंदुत्व और मूर्ति पूजा के खिलाफ हैं फैज की कविताएं, तो भारत में व्यवहारिक कैसे

    फैज़ अहमद फ़ैज़ एक पाकिस्तानी कवि हैं। पाकिस्तान जैसे अत्याचारी राष्ट्र में मूर्तियों को तोड़ना बिल्कुल सामान्य बात है, लेकिन भारत में ऐसा नहीं करना हो सकता है। मूर्तिपूजन हिंदू धर्म का एक अभिन्न अंग है और ऐसी कविताएं हिंदू धर्म का अपमान करने के लिए अलावा कुछ नहीं हैं। हालांकि फैज की मूल कविताएं पाकिस्तानी तानाशाहों के खिलाफ थी जो इस्लाम के नियमों का पालन करने में विफल रहे।

  • nusrat jhan diwali

    Entertainment28, Oct 2019, 1:35 PM

    नुसरत जहां ने पति निखिल जैन के साथ मनाई दिवाली, क्या कट्टरपंथियों को चिढ़ा रही हैं टीएमसी सांसद

    तृणमूल कांग्रेस की सांसद और बांग्ला फिल्मों की अभिनेत्री नुसरत जहां ने अपने निखिल जैन के साथ दिवाली का त्योहार मनाया। उन्होंने इस मौके पर सभी को बधाई दी और सेफ दिवाली  मनाने की बात कही। हालांकि इससे पहले नुसरत दुर्गा पूजा और राखी का त्योहार मना चुकी हैं। पिछले दिनों उन्होंने दुर्गा पूजा पर एक वीडियो भी सोशल मीडिया में पोस्ट किया था। नुसरत जहां ने अपने पति निखिल जैन  के साथ दिवाली से पहले गरीब बच्चों को उपहार बांटे और सभी को त्योहार की बधाई दी। नुसरत ने इस मौके पर मां लक्ष्मी की पूजा भी की। फिलहाल हिंदू त्योहारों को मनाने के लिए नुसरत कट्टरपंथी मुस्लिमों  के निशाने पर हैं। कट्टरपंथी उनसे धर्म बदलने की बात भी कह चुके हैं। लेकिन नुसरत का कहना है कि वह सभी धर्मों का सम्मान करती हैं।

  • undefined

    Lifestyle23, Oct 2019, 8:06 PM

    भारतीय संस्कृति में करवाचौथ का आखिर क्या है महत्व

    करवा चौथ शादीशुदा महिलाओं के लिए बेहद ही खास त्योहार है। इस दिन महिलाएं पूरा दिन निर्जला व्रत रखती हैं और पति की लंबी उम्र की कामना करती हैं। पत्नी रात में चांद को देखकर पति के हाथों से पानी पीकर व्रत तोड़ती है। ये काफी कठिन होता है लेकिन महिला पति के लिए दिल से पूरे दिन भूखे पेट रहकर उसकी सुरक्षा के लिए पूजा-पाठ करती है।