अखिलेश  

(Search results - 162)
  • News20, Nov 2019, 7:00 AM IST

    जानें क्यों अखिलेश के लिए मुलायम हो रहे हैं शिवपाल

     शिववाल ने इटावा में बड़ा बयान देते हुए कहा कि वह वे सपा से गठबंधन को तैयार हैं। लिहाजा अब अखिलेश को भी इस बात के लिए तैयार हो जाना चाहिए। लेकिन यहां पर शिवपाल ये भी कहना नहीं भुले कि राज्य में सीएम अखिलेश यादव ही होंगे। शिवपाल ने कहा कि उन्होंने कभी नहीं कहा कि उन्हें प्रदेश का सीएम बनना है। बल्कि वह अखिलेश के लिए ही कहते थे कि उन्हें प्रदेश का सीएम होना चाहिए। लिहाजा प्रदेश का अगला सीएम अखिलेश ही होंगे। 

  • पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव

    News3, Nov 2019, 1:34 PM IST

    उपचुनाव की सफलता के बाद पार्टी को मजबूत करने में जुटे अखिलेश

    फिलहाल अखिलेश ने सबसे पहले संगठनात्मक ढांचे को मजबूत बनाने की कवायद शुरू की है। राज्य में हुए विधानसभा उपचुनाव में सपा 11 में से 3 सीटें जीतने में कामयाब रही। जबकि भाजपा खाते में 8 सीटें आई वहीं बसपा एक भी  सीट नहीं जीत पाई। जिसके बाद पार्टी को लग रहा कि करीब ढाई साल बाद होने वाले चुनाव में  मुख्य मुकाबला भाजपा और सपा के बीच में ही होगा। लिहाजा अभी से पार्टी चुनाव में जुट गई है।

  • News30, Oct 2019, 7:58 PM IST

    मुलायम से मिले योगी, शिवपाल मौजूद लेकिन अखिलेश रहे गायब

    अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की समाजवादी पार्टी के संरक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव से मुलाकात काफी अहम मानी जा रही है। क्योंकि किसी दौर में मुलायम भी राम मंदिर बाबरी मस्जिद को लेकर विवादों में रहे और उन्होंने अयोध्या में कार सेवकों पर गोली चलाई थी और उसके बाद उन्होंने खुद को मुल्ला मुलायम सिंह कहना पसंद किया था। 

  • News27, Oct 2019, 12:01 PM IST

    कार्यकर्ताओं में जोश भरने को फिर साइकिल में पैडल मारेंगे अखिलेश

    असल में अखिलेश यादव को ये बात समझ में आ गई है कि अब आने वाले विधानसभा चुनाव में असल लड़ाई भाजपा और  सपा की है। क्योंकि उपचुनाव में जिस तरह से जनता ने नतीजे दिए हैं। वह किसी भी हाल में भाजपा के पक्ष में नहीं है। क्योंकि भाजपा सत्ताधारी पार्टी है और उसके बाद भी उसे एक सीट का नुकसान हुआ है जबकि सपा को तीन सीटें मिली हैं। उसकी कुल सीटों में दो सीटों का इजाफा हुआ है।

  • News18, Oct 2019, 7:32 PM IST

    प्रचार न करने के फैसले के बाद रामपुर में आजम की पत्नी का चुनाव प्रचार करेंगे, क्या हैं इसके मायने

    सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव रामपुर विधानसभा सीट में हो रहे उपचुनाव में प्रचार करेंगे। अखिलेश यादव चुनाव प्रचार के अंतिम दिन यानी शनिवार को रामपुर पहुंचेंगे और वहां जनसभा करेंगे। वह रामपुर में आजम खान की पत्नी के लिए वोट मांगेगे। फिलहाल अखिलेश यादव के इस फैसले के बाद राजनीतिक मायने निकाले जाने लगे हैं। क्योंकि अखिलेश यादव ने पहले फैसला किया था कि वह उपचुनाव के लिए चुनाव प्रचार नहीं करेंगे। उसके बाद अचानक रामपुर में चुनाव प्रचार करना, किसी के समझ नहीं आ रहा है।

  • पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव

    News15, Oct 2019, 9:32 AM IST

    अस्तित्व के लिए जूझ रही है सपा, लेकिन अखिलेश नहीं करेंगे उपचुनाव में प्रचार

    फिलहाल सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यूपी विधामसभा उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार नहीं करने का फैसला किया है। हालांकि इसके कारण क्या हैं। ये कोई सपा नेता बताने को तैयार नहीं हैं। असल में कुछ नेताओं का ये कहना है कि पार्टी की स्थिति कई सीटों में काफी खराब है। जिसके कारण अखिलेश यादव ने प्रचार न करने का फैसला किया है।

  • News1, Oct 2019, 8:36 AM IST

    शिवपाल ने दिया अखिलेश को झटका, परिवार को लेकर हुए ‘मुलायम’

    प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने सपा और अखिलेश यादव के प्रति नरमी दिखाते हुए कहा कि सपा के लिए अभी भी समय है। उन्होंने कहा कि वह परिवार के लिए फैसला कर सकते हैं। लेकिन उनकी पार्टी का सपा में विलय नहीं बल्कि सपा के साथ चुनावी गठबंधन हो सकता है। शिवपाल ने कहा कि छह महीने पहले लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने इसके लिए कोशिश भी की थी। लेकिन घर के ही षड़यंत्रकारियों ने ऐसा नहीं होने दिया।

  • News30, Sep 2019, 10:33 AM IST

    रामगोपाल और आजम की बली लेकर शिवपाल को ‘बाहुबली’ घोषित कर सकेंगे अखिलेश!

    रविवार को ही सपा के विधानसभा में नेता रामगोविद चौधरी ने बयान दिया है कि अगर शिवपाल अपनी पार्टी का सपा में विलय करा लें तो उनकी विधानसभा की सदस्यता बरकरार रह सकती है। वहीं कुछ दिन पहले अखिलेश ने खुलेतौर पर बयान दिया था कि अगर कई पार्टी में आना चाहता है तो उसका स्वागत है। जब उनसे पूछ गया कि शिवपाल को भी पार्टी में लिया जा सकता है तो उन्होंने कहा कि सपा में लोकतंत्र है। ये नियम सबके लिए लागू है।

  • SP legislator, nahid hasan, Akhilesh yadav, BJP, Kairana, yogi adityanath

    News29, Sep 2019, 2:47 PM IST

    आजम के बाद अब ‘फरार’ हैं अखिलेश के विधायक नाहिद

    रामपुर में सपा सांसद पिछले कई दिनों से फरार चल रहे हैं। अब सपा के ही शामली से विधायक नाहिद हसन फरार हैं। अपने विवादित बयानों और दबंगई के लिए बदनाम नाहिद हसन पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। जिसके कारण वह फरार चल रहे हैं। पिछले दिनों गाड़ी की चेकिंग के दौरान नाहिद ने कैराना के सब-डिविजनल मजिस्ट्रेट अमित पाल शर्मा के साथ बदलसूलकी की।

  • Akhilesh Yadav has refused ticket to Aperna Yadav, may fight Shivpal party symbol

    News29, Sep 2019, 10:14 AM IST

    फिर अखिलेश ने मुलायम को दिखाया ठेंगा, क्या बहू करेगी बगावत

    असल में कैंट सीट को भाजपा का गढ़ माना जाता है। हालांकि अभी तक भाजपा ने किसी को प्रत्याशी नहीं बनाया है। सपा ने यहां से मेजर आशीष चतुर्वेदी को टिकट दिया है। जबकि यहां से मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू टिकट पर दावेदारी कर रही थी। क्योंकि यहां पर 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में अपर्णा को मुलायम की सिफारिश पर अखिलेश यादव ने टिकट दिया था।

  • ভেঙে গেল পিসি- ভাইপো জোট। ছবি- গেটি ইমেজেস

    News21, Sep 2019, 2:07 PM IST

    ...तो चुनावी बिसात में ऐसे अखिलेश यादव देंगे माया बुआ को पटखनी

    राज्य में 13 विधानसभा सीटों पर चुनाव होने हैं। लेकिन मायावती ने अखिलेश यादव के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। लेकिन अखिलेश यादव ने मायावती के खिलाफ अभी तक कोई बड़ा बयान नहीं दिया है। लेकिन अब अखिलेश मायावती को राजनैतिक तौर पर पटखनी देने की तैयारी में हैं। 

  • News20, Sep 2019, 6:36 PM IST

    अखिलेश यादव के बदले सुर, चाचा शिवपाल की वापसी पर बोले सबके लिए खुले हैं दरवाजे

    आज लखनऊ में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने चाचा शिवपाल यादव की समाजवादी पार्टी में ढके-छिपे अंदाज में वापसी के संकेत दिए हैं। हालांकि अखिलेश ने साफ तौर पर किसी का नाम नहीं लिया लेकिन उन्होंने कहा कि अगर कोई पार्टी में आना चाहता है उसका स्वागत है। उन्होंने कहा समाजवादी विचार को भी नेता पार्टी में आना चाहता है तो उसके लिए दरवाजे हमेशा खुले हैं। 

  • shivpal yadav

    News19, Sep 2019, 6:13 AM IST

    शिवपाल ने दी अखिलेश को चुनौती, जानें क्या कहा चाचा ने भतीजे टीपू से

    पिछले हफ्ते ही समाजवादी पार्टी ने विधानसभा अध्यक्ष को पत्र  लिखकर शिवपाल की सदस्यता रद्द करने की मांग की है। असल में अभी तक शिवपाल विधानसभा में सपा के विधायक हैं। लेकिन पार्टी छोड़ने के बाद उन्होंने अपनी नई पार्टी का गठन किया। हालांकि अभी  तक सपा ने उन्हें पार्टी से निकाला नहीं है। ऐसे में शिवपाल चाहते हैं कि सपा उन्हें पार्टी से निकाल दे। ताकि वह शहीद का दर्जा प्राप्त कर फिर मैदान में जा सकें। 

  • News17, Sep 2019, 7:41 AM IST

    महाराष्ट्र में सोनिया-पवार ने दिखाया बड़ा दिल, अखिलेश यादव को 370 पर दिया रिटर्न गिफ्ट

    लोकसभा चुनाव में सपा ने उत्तर प्रदेश में बसपा के साथ हुए गठबंधन में कांग्रेस को शामिल नहीं किया था। लेकिन कांग्रेस ने सपा को सम्मान देते हुए चार सीटें दी हैं। सपा राज्य में सात सीटें मांग रही थी। हालांकि माना जा रहा है कि एक सीट पर फ्रेंडली फाइट भी होगी। यही नहीं संसद में केेन्द्र सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर से अनुच्छेेद 370 का विरोध सपा ने किया था। जिसके बाद कांग्रेस ने सपा  को राज्य में अपने गठबंधन मेें शामिल किया है।

  • News14, Sep 2019, 9:25 AM IST

    ‘लापता’ हैं आजम खान, आखिर क्यों बनाई अखिलेश के समर्थन रैली से दूरी

    सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को रामपुर में जिला प्रशासन के विरोध के लिए एक प्रदर्शन का आयोजन किया था। हालांकि ये प्रदर्शन पिछले मंगलवार को ही होना था। लेकिन मुहर्रम के चलते जिला प्रशासन ने अखिलेश यादव को रामपुर में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी। जिसके बाद अखिलेश यादव ने शुक्रवार के लिए इस कार्यक्रम को करने का फैसला किया।