delhi assembly elections

TOTAL SEATS: 70

rekha

रेखा से लेकर श्रीदेवी तक बॉलीवुड एक्ट्रेस की दुर्लभ तस्वीरें, जो उनकी बोल्डनेस को करती हैं बयां

उस वक्त बॉलीवुड में आजकल की तरह बोल्ड और सेक्सी लुक्स का फैशन नहीं था। लेकिन कभी अभिनेत्रियों ने अपने बोल्ड अवतार को फिल्मों में दिखाया। हालांकि ये रूप ज्यादा सेक्सी और हॉट नहीं कहा जा सकता है। लेकिन उस वक्त को देखते हुए इन अभिनेत्रियों को बोल्ड कहा जा सकता है। एन इवनिंग इन पेरिस में शर्मिला टैगोर अपने बिकिनी में दिखाई दी थी। लेकिन इसके बाद स्मिता पाटिल ने अपना बिकनी अवतार दिखाया।

Hollywood
undefined
Video Icon

काशी-महाकाल एक्सप्रेस में भगवान शिव की रिजर्व सीट पर असदुद्दीन ओवैसी ने ऐसे उठाए सवाल

रविवार को वाराणसी से इंदौर चलने वाली काशी महाकाल एक्सप्रेस की शुरुआत हुई। ट्रेन की खासियत है कि ये भगवान शिव के तीन तीर्थों को एक साथ जोड़ती है। ट्रेन में एक सीट भगवान शिव के लिए रखी गई है। अब इस सीट और ट्रेन को लेकर सवाल उठने लगे हैं। AIMIM प्रमुख ओवैसी ने ट्विटर पर पीएम मोदी को संविधान की प्रस्तावना की तस्वीर मैं टैग किया।

News
Cricket

न्यूजीलैंड को हराकर भारत ने रचा इतिहास

भारतीय टीम ने विदेशी धरती पर मेजबान टीम को टी-20 मैचों की सीरिज में 5-0 से हराया है। ऐसा करने वाली भारतीय टीम पहली टीम बनी है। भारतीय टीम ने आज माउंट माउंगानुई में पांचवें और अंतिम टी-20 के मुकाबले में सात रन से जीत दर्ज की। भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने चार ओवरों में 12 रन देकर तीन विकेट लिए।

News

क्या हैं भाजपा के लिए दिल्ली हार के मायने, कहां फेल हो गई 'भगवा पार्टी'

भाजपा दिल्ली की सत्ता से पिछले 27 वर्षों से बाहर है और अब उसे अगली लड़ाई के लिए पांच साल के लिए इंतजार करना होगा। चुनाव में भाजपा को महज आठ सीटें मिली हैं वहीं आप को 63 सीटें मिली हैं। जो पिछले विधानसभा चुनाव से चार सीटें कम है। लेकिन एक सच्चाई ये भी है कि भाजपा अपने लोकसभा चुनाव के प्रदर्शन को दोहरा नहीं सकी। जबकि लोकसभा चुनाव हुए महज छह महीने ही हुए हैं। लिहाजा भाजपा को भी सोचना होगा कि कहां पर उससे गलती हुई है।

Harish Tiwari

अर्थव्यवस्था में दिखाई दे रहे हैं सुधार के संकेत

इस वर्ष की पहली छमाही के लिए संचयी विकास 4.8 प्रतिशत रहने की भविष्यवाणी की गई है और कहा गया है कि बाद की दूसरी छमाही में इसमें सिर्फ मामूली सुधार संभव है। हालांकि, अर्थव्यवस्था में सुधार के अच्छे संकेत दिखाई देते हैं, लेकिन अभी अर्थव्यवस्था में वित्तपोषण, ऋण, ऋण प्रवाह और खर्च के लिए आमदनी की कमी की समस्याएं गहरी परेशानी पैदा करने वाली लगती हैं।

Abhinav Khare

न जमीन न जनाधार, पीके को ले डूबी बड़ा नेता बनने की हसरत!

आखिरकार नीतीश कुमार पार्टी उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर और पवन वर्मा को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। ये दोनों पहले नेता हैं जिन्होंने नागरिकता कानून को लेकर नीतीश कुमार के फैसले पर सवाल उठाने शुरू किए थे। दोनों नेता पार्टी में ही  रहकर नीतीश कुमार पर विपक्षी दलों की तरह हमले कर रहे थे। जबकि नीतीश कुमार चुप थे। नीतीश कुमार को कभी प्रशांत किशोर का करीबी माना जाता है।

Harish Tiwari

उज्जवल है देश का भविष्य, प्रगति के दे रहा है संकेत

हमने ये अनुमान लगाया था कि ऑटोमोबाइल, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स, एफएमसीजी, सीमेंट, रियल एस्टेट और फाइनेंशियल सर्विसेज जैसे विभिन्न क्षेत्रों को ये प्रभावित कर रही है। लेकिन देर हो चुकी थी,क्योंकि हमें मंदी का एहसास बाद में हुआ। हालांकि हमारी खपत सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 70 प्रतिशत से अधिक है। लिहाजा हमारी खपत कम होने का असर देश की अर्थव्यवस्था पर दिखाई देने लगा।

Abhinav Khare
Ayodhya verdict: These veterans, including Rahul Gandhi, Sangh chief, said these things
Video Icon
3, Dec 2019, 9:45 PM IST

कांग्रेस के नेता ने बताया राहुल गांधी के बेटे के बारे में

आम तौर पर जनसभा में नेताओं की जुबान तो फिसल ही जाती है। लिहाजा अब देखें कैसे कांग्रेस के नेता राहुल गांधी को मृतक बता रहे हैं तो कुछ नेता बता रहे हैं कि राहुल गांधी का बेटा भी है।

समाचार