कट्टरता  

(Search results - 7)
  • undefined

    Views25, Apr 2019, 12:19 PM

    श्रीलंका से आतंकवाद के जहरीले छींटे दक्षिण भारत पर पड़ने की आशंका

    भारत के बिल्कुल पास के सिंहल द्वीप यानी श्रीलंका में लगभग चार सौ जानें लेने वाली तौहीद जमात का एक धड़ा तमिलनाडु में भी सक्रिय है। यहां इसे तमिलनाडु तौहीद जमात (टीएनटीजे) के नाम से जाना जाता है। यहां इसकी स्थापना एक तमिल मुस्लिम अरिंगर कुझु ने की थी । जिसका मकसद है पूरे भारतीय उपमहाद्वीप में सच्चे इस्लाम को फैलाया जाए। यही आईएस की भी विचारधारा है, जो सच्चे इस्लाम के नाम पर इस्लाम के कट्टरतावादी रुख का प्रसार करने के लिए हर हिंसक तरीका अपनाता है। 

  • जिन्ना और मौदूदी

    Views9, Mar 2019, 6:14 PM

    पाकिस्तान को आतंक की फैक्ट्री बनाने वाला वह शख्स, जिसने जिन्ना के हाथ से छीन लिया था यह देश

    मोहम्मद अली जिन्ना पाकिस्तान के पिता कहे जाते है क्योंकि  वे मुस्लिम बहुल पाकिस्तान बनाना चाहते थे। मगर जिन्ना ने सांप्रदायिकता का जो बीज बोया जब वह फला फूला तो वह इस्लामी कट्टरतावाद और जिहादी मानसिकता का वटवृक्ष बन गया। जिन्ना के जाते एक दशक भी नहीं गुजरा कि पाकिस्तान के धर्मपिता  मौलाना मौदूदी की सोच  ने पाकिस्तान का अपहरण कर लिया और वह संकीर्णता में ढल गया और बन गया एकरंगी,संकीर्ण और पिछड़ी सोचवाला पाकिस्तान।

    आज की स्थिति वाला वह पाकिस्तान, जो पूरी दुनिया के लिए खतरा बना हुआ है। 

  • Army chief General Bipin Rawat

    Nation9, Jan 2019, 12:52 PM

    आतंकवाद कुछ लोगों के लिए जंग लड़ने का नया तरीकाः सेना प्रमुख

    - जनरल रावत ने कहा, आतंकवाद कई सिर वाले दानव की तरह पैर पसार रहा है और यह तब तक मौजूद रहेगा जब तक कुछ देश अपनी नीति के तौर पर इसका इस्तेमाल करना जारी रखेंगे।

  • dead body

    News18, Dec 2018, 4:39 PM

    मजहबी कट्टरता खत्म करके मरने के बाद मोहम्मद अली का शरीर किया गया अस्पताल में दान

    आम तौर पर मुस्लिम समुदाय में मृत्यु के बाद अंगदान करने के उदाहरण नहीं मिलते हैं। माना जाता है कि उनकी धार्मिक मान्यताएं इसमें आड़े आती हैं। लेकिन ग्रेटर नोएडा के एक मुस्लिम परिवार ने मजहब के उपर इंसानियत को मानते हुए अपने परिवार के एक बुजुर्ग का शरीर मेडिकल कॉलेज के लिए दान कर दिया।

  • Ambedkar on pakistan

    Views6, Dec 2018, 6:48 PM

    ‘जय भीम-जय मीम’ कहने वालों ने क्या पाकिस्तान पर बाबासाहेब अंबेडकर के विचार पढ़े भी हैं?

    संविधान निर्माता बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर की आज पुण्यतिथि है। आज भले ही उनके कथित अनुयायी  उन्हें अंबेडकरवाद की संकुचित विचारधारा में कैद करने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन अंबेडकर सभी सीमाओं से परे हैं। उनका राष्ट्रवाद असंदिग्ध है। आज ‘जय भीम-जय मीम’ का नारा लगाने वाले शायद इस बात से वाकिफ नहीं हैं कि वह मजहबी कट्टरता और पाकिस्तान को जन्म देने वाले ‘द्विराष्ट्रवाद’ के विचार के कितने बड़े विरोधी थे। 

  • Muslim population increasing

    News1, Dec 2018, 1:31 PM

    पाकिस्तान से लगी राजस्थान सीमा पर बढ़ रही है मजहबी कट्टरता

    राजस्थान से लगने वाली पाकिस्तान की सीमा पर मुस्लिम आबादी में भारी इजाफा देखने को मिल रहा है। यही नहीं इन इलाकों में अचानक मजहबी कट्टरता भी जोर पकड़ रही है। यह सनसनीखेज जानकारी सामने आई है बीएसएफ(बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स) के एक सर्वेक्षण में।  

  • Why PM Attained Dawoodi bohra program in Indore

    News15, Sep 2018, 6:08 PM

    जानिए दाऊदी बोहरा समुदाय के कार्यक्रम में क्यों गए पीएम मोदी

    दाऊदी बोहरा समुदाय की मान्यताएं कट्टरपंथी वहाबी इस्लाम से बहुत अलग है। इसलिए कई बार तो कट्टरपंथी मौलाना, दाऊदी बोहरा लोगों को मुसलमान मानते ही नहीं। खुद बोहरा समुदाय के लोग मोहम्डन कहे जाने की बजाए खुद को मोमिन कहा जाना ज्यादा पसंद करते हैं।