Search results - 6 Results
  • Richa patel Bharti

    News16, Jul 2019, 7:50 PM IST

    'आज कुरान बांटने को कह रहे हैं, कल कहेंगे इस्लाम कुबूल लो', ऐसा कहकर ऋचा ने अदालत का आदेश मानने से किया इनकार

    रांची की रहने वाली ऋचा पटेल भारती इन दिनों सोशल मीडिया और समाचार माध्यमों के बीच चर्चा में हैं। उन्हें स्थानीय अदालत ने कुरान की पांच प्रतियां बांटने की शर्त पर जमानत दी थी। लेकिन ऋचा ने इस आदेश को मानने से इनकार कर दिया है।  
     

  • जिन्ना और मौदूदी

    Views9, Mar 2019, 6:14 PM IST

    पाकिस्तान को आतंक की फैक्ट्री बनाने वाला वह शख्स, जिसने जिन्ना के हाथ से छीन लिया था यह देश

    मोहम्मद अली जिन्ना पाकिस्तान के पिता कहे जाते है क्योंकि  वे मुस्लिम बहुल पाकिस्तान बनाना चाहते थे। मगर जिन्ना ने सांप्रदायिकता का जो बीज बोया जब वह फला फूला तो वह इस्लामी कट्टरतावाद और जिहादी मानसिकता का वटवृक्ष बन गया। जिन्ना के जाते एक दशक भी नहीं गुजरा कि पाकिस्तान के धर्मपिता  मौलाना मौदूदी की सोच  ने पाकिस्तान का अपहरण कर लिया और वह संकीर्णता में ढल गया और बन गया एकरंगी,संकीर्ण और पिछड़ी सोचवाला पाकिस्तान।

    आज की स्थिति वाला वह पाकिस्तान, जो पूरी दुनिया के लिए खतरा बना हुआ है। 

  • devband

    News28, Dec 2018, 1:54 PM IST

    तीन तलाक बिल को नही मानेंगे देवबंदी उलेमा

    उलेमाओं का कहना है कि सरकार की तरफ से लाया गया तीन तलाक का बिल शरीयत में दखलंदाजी है। मुसलमान तो सिर्फ और सिर्फ कुरान का ही कानून मानेगा शरीयत में जो है हम उसी पर ही चलेंगे और तमाम मुसलमान औरतें भी वही कानून मानती हैं जो शरीयत में है। 
     

  • Azam Khan

    News27, Dec 2018, 10:15 PM IST

    तीन तलाक पर अब क्या बोले सपा नेता आजम खान

    तीन तलाक को अपराध घोषित करने वाला बिल लोकसभा में पास भले ही हो गया हो लेकिन इसके विरोधियों के सुर नरम नहीं पड़े हैं।

  • lets become fundamentalist hindu

    Views24, Oct 2018, 7:25 PM IST

    तो चलिए हम सब 'रुढ़िवादी' हिंदू बन जाते हैं

     इस इक्कीसवी सदी में हमारे लिये यह उचित समय है जब हम एक समुदाय को दूसरे समुदाय के विरोध में खड़ा करने वाले हानिकारक, अप्रमाणित रुढ़िवाद का त्याग करें? सब से अच्छा विकल्प है कि हम हिंदू मूलतत्वों का अनुसरण करें। तो चलें, हम सब मनुष्यों में, कुदरत में और पशुओं में भी ईश्वरत्व देखनेवाले रुढ़िवादी हिंदू बनें। इससे संपूर्ण विश्व का लाभ होगा।

  • God and Allah is not Parbrahm parmeshwar

    Views15, Oct 2018, 4:03 PM IST

    ‘परमब्रह्म परमेश्वर’ से अलग हैं ‘गॉड’ और ‘अल्लाह’

    प्राचीनकाल में जब ईसाईयत और इस्लाम का कोई अस्तित्व नहीं था, तब सर्वोच्च सत्य के बारे में वैदिक धर्म की समझ बहुत ही परिपक्व थी। हिंदू परंपरा में परमसत्य को ब्रह्म के नाम से जाना जाता है। यह सबसे सूक्ष्म, अदृश्य, जागृत जैसे समस्त संसार का आधार है। ऋषियों ने उद्घोषणा की, कि ब्रह्म वह नहीं है जिसे आंखें देखती हैं, बल्कि ब्रह्म वह है जिसकी वजह से आंखें देख पाती हैं। ब्रह्म वह नहीं है जिसे मस्तिष्क सोचता है, बल्कि ब्रह्म वह है जिसकी वजह से मस्तिष्क सोच पाने में सक्षम हो पाता है। यह बात अब्राहमिक धर्मों के भगवान के लिए नहीं कही जा सकती।