पूर्व केन्द्रीय मंत्री  

(Search results - 46)
  • <p>तब लालू प्रसाद बिहार के मधेपुरा से लोकसभा चुनाव हार गए थे। रघुवंश प्रसाद सिंह लोकसभा में पार्टी के नेता बने। सरकार को घेरने वाले सबसे प्रखर आवाज बने थे।</p>

    NewsSep 13, 2020, 8:20 PM IST

    रघुवंश प्रसाद सिंह का राजकीय सम्मान से किया जाएगा अंतिम संस्कार, नेताओं ने अनुभवों से किया याद

    रघुवंश प्रसाद सिंह ने दिल्ली एम्स में आज अंतिम सांस ली और कल उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। बताया जा रहा है कि अंतिम यात्रा और इससे जुड़े सारे कार्यक्रम उनके पैतृक आवास बिहार के शाहपुर में होंगे। वहीं रघुवंश प्रसाद के निधन के बाद सियासी गलियारे में शोक की लहर है।

  • <p>खबर है कि वो आरजेडी में जा रहे हैं और काफी समय से नीतीश कुमार के संपर्क में हैं। यह भी चर्चा है कि रघुवंश जेडीयू से अपने बेटे को एमएलसी बनाने की मांग कर रहे हैं। राज्यसभा में उपसभापति चुनाव और बिहार चुनाव से पहले एनडीए की कोशिश थी कि रघुवंश को अपने पाले में कर लिया जाए। आरजेडी में रघुवंश के कद का कोई नेता नहीं है।&nbsp;</p>

    NewsSep 12, 2020, 1:19 PM IST

    लालू के परिवार पर रघुवंश प्रसाद का तंज, महापुरुषों की जगह एक ही परिवार की छप रही हैं फोटो

    दो दिन पहले ही रघुवंश प्रसाद सिंह ने राजद से इस्तीफा दिया था। रघुवंश प्रसाद को राजद  के दिग्गज नेताओं में माना जाता था और वह लालू प्रसाद यादव के साथ राजद की स्थापना के दिनों से ही हैं। रघुवंश प्रसाद सिंह ने लिखा है कि वर्तमान में राजनीति में गिरावट आ गई है और इससे लोकतंत्र पर ख़तरा है।

  • <p><br />
रघुवंश प्रसाद सिंह को 2014 में लगातार वैशाली में पांच जीत के बाद हार का सामना करना पड़ा था। इस समय राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेता और पार्टी सुप्रीमों लालू प्रसाद यादव के संकटमोचक रहे डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह इन दिनों नाराज चल रहे हैं।(फाइल फोटो)</p>

    NewsSep 11, 2020, 7:01 PM IST

    जानें क्यों रघुवंश बाबू ने नीतीश कुमार को लिखी चिट्ठी, क्या है काबुल से क्नेक्शन

    रघुवंश प्रसाद सिंह ने फेसबुक पर अपनी चिट्ठी को पोस्ट करते हुए नीतीश कुमार से तीन मांगों को पूरा करने गुजारिश की है।  हालांकि अभी तक रघुवंश प्रसाद सिंह ने जदयू में जाने का ऐलान नहीं किया है। लेकिन माना जा रहा है कि जदयू नेतृत्व से उनकी बातचीत चल रही है और इसके बाद ही उन्होंने राजद से इस्तीफा दिया है।

  • <p>जब हमने इस वेबसाइट से जुड़ी जानकारी निकलाने की कोशिश की तो मालूम पड़ा&nbsp;इंडिया न्यूज एक पॉलिटिकल व्यंग्य की साईट है। यहां व्यंग के साथ राजनीतिक खबरें पोस्ट की जाती हैं सिंधिया वाली खबर भी एक&nbsp;पॉलिटिकल सटायर था..जिसका हकीकत से कोई वास्ता नही है।</p>

    NewsJun 6, 2020, 12:58 PM IST

    सिंधिया का खेल बिगाड़ने के लिए 'विभीषण' तलाश रही है कांग्रेस

    राज्यसभा की तीन सीटों पर होने चुनाव में भाजपा आसानी से दो सीटों पर जीत हासिल कर सकती है। जबकि कांग्रेस एक सीट पर जीत हासिल करेगी। वहीं कांग्रेस ने मैदान में दो प्रत्याशियों को उतारा है।  हालांकि संख्या बल के आधार पर कांग्रेस एक ही सीट जीत सकती। वहीं फिलहाल कांग्रेस भाजपा के प्रत्याशी ज्योतिरादित्य सिंधिया की राह में मुश्किलें पैदा करने की  तैयारी में है।

  • Seat sharing formula could not finalise among congress and his alliance partner in Karnataka and west Bengal

    NewsMay 29, 2020, 1:46 PM IST

    खड़गे और देवेगौड़ा पर दांव खेल सकती है सोनिया

    पूर्व प्रधान मंत्री और जनता दल (सेक्युलर) सुप्रीमो एचडी देवगौड़ा, और पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को 2019 के लोकसभा चुनाव में हार का सामने करना पड़ा था। लिहाजा अब दोनों राज्यसभा के जरिए एक बार फिर राष्ट्रीय राजनीतिक प्रवेश करना चाहते हैं। हालांकि राज्य से कांग्रेस एक सीट आसानी से जीत सकती है और बचे हुए मतों को वह जेडीएस की तरफ ट्रांसफर कर सकती है।
     

  • undefined

    NewsJan 20, 2020, 8:31 AM IST

    मध्य प्रदेश में लगने लगा है ‘महाराज’ का दरबार, कमलनाथ का घटेगा कद

    पिछले चार दिनों से ज्योतिरादित्य सिंधिया भोपाल दौरे पर हैं। जिसके बाद से ही प्रदेश की सियासत का पारा चढ़ा हुआ है। भोपाल दौरे के पहले दिन उन्होंने अपने करीबी नेताओं और कमलनाथ सरकार के कैबिनेट मंत्रियों के साथ मुलाकात की थी। जिसके बाद इस चर्चा को बल  मिला कि सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद उन्हें पार्टी आलाकमान का आर्शीवाद मिल गया है।

  • undefined

    NewsDec 19, 2019, 4:27 PM IST

    शरद पवार ने राहुल गांधी पर कसा तंज, जानें क्यों कहा उन्हें देश में रहना चाहिए

     पवार ने कहा कि देश के कुछ हिस्सों में भाजपा विरोधी भावनाएं बढ़ रही हैं। पवार ने कहा कि लोगों को इस तरह के बदलाव के लिए एक विकल्प की आवश्यकता होती है, और इस तरह के विकल्प के लिए राहुल गांधी को देश में रहना चाहिए।

  • Jyotiraditya Scindia

    NewsDec 13, 2019, 11:02 AM IST

    चार तथ्यों से समझे, कैसे ‘बागी’सिंधिया शब्दों के बाण से कर रहे हैं ‘शहीद’ होने की तैयारी

    मध्य प्रदेश की राजनीति में सिंधिया परिवार की धमक है। पिछली तीन पीढ़ीयों से इस परिवार का दखल है। देश की सत्ता पर काबिज दोनों राजनैतिक दल कांग्रेस और भाजपा में इस परिवार के सदस्य है। लेकिन तीसरी पीढ़ी के ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस के दिग्गज नेता माने जाते हैं। लेकिन वह पिछले एक साल से पार्टी नेतृत्व से नाराज चल रहे हैं। सिंधिया को राहुल गांधी का करीबी माना जाता है। 

  • undefined

    NewsDec 4, 2019, 2:56 PM IST

    चिदंबरम 106 दिन बाद निकले तिहाड़ जेल से बाहर, कांग्रेस मनाएगी जश्न

    सुप्रीम कोर्ट ने आईएनएस मीडिया मामले में कांग्रेस के नेता पी.चिदंबरम को जमानत दे दी है। कोर्ट ने आज हाई कोर्ट के फैसले को रद्द कर दिया है। हालांकि ईडी ने उनकी जमानत का विरोध करते हुए कहा कि वह सक्षम व्यक्ति है और देश  छोड़कर जा सकते हैं। लिहाजा कोर्ट ने उनके देश छोड़ने पर रोक लगा दी है। फिलहाल चिदंबरम को जमानत मिलने से कांग्रेस पार्टी को भी बड़ी राहत मिली है। 

  • undefined

    NewsNov 27, 2019, 8:53 AM IST

    एकजुटता दिखाने के लिए राहुल और प्रियंका आज तिहाड़ में मिलेंगे चिदंबरम से

    फिलहाल ईडी  कोर्ट ने चिंदबरम को जमानत देने से मना कर दिया है। जिसके बाद उन्हें फिलहाल जेल में ही रहना पडेगा। चिदंबरम पर आईएनएक्स मीडिया मामले में रिश्वत लेने का आरोप है और वह तिहाड़ जेल में बंद हैं। हालांकि जेल में बंद चिदंबरम से अभी तक ज्यादातर कांग्रेस के नेता मिल चुके हैं और उसके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ले चुके हैं। लिहाजा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव ने प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी चिदंबरम से मिलने का फैसला किया है।

  • undefined

    NewsOct 22, 2019, 9:57 AM IST

    क्या 370 के बाद वीर सावरकर पर बंट रही है कांग्रेस

    असल में महाराष्ट्र में भाजपा के चुनावी घोषणापत्र में वीर सावरकर को भारत रत्न देने की मांग की है। हालांकि कांग्रेस सावरकर का विरोध करती आई है। यहां तक कि राजस्थान में कांग्रेस सरकार ने सरकारी पाठ्यक्रम को बदल कर सावरकर के आगे से वीर हटाकर अंग्रेजों से माफी मांगने वाले नेता के तौर पर पेश किया है। 

  • home made meals allowed to chidambaram

    NewsOct 18, 2019, 8:08 AM IST

    ईडी की रिमांड में चिदंबरम की होगी बल्ले बल्ले, खाएंगे छप्पन भोग और मखमली बिस्तर के साथ मिलेगा एसी रूम

    फिलहाल राउस एवेन्यू कोर्ट ने चिदंबरम की हिरासत को 24 अक्तूबर तक बढ़ा दिया है। हालांकि दो दिन पहले ही कोर्ट ने ईडी को उनसे पूछताछ करने की अनुमति दी थी। जिसके बाद बुधवार को ईडी के अफसरों ने उनसे तिहाड़ जेल में दो घंटे से ज्यादा पूछताछ की थी। हालांकि ईडी के अफसरों के पास चिदंबरम को अपनी कस्टडी में लेने का आदेश नहीं था। लिहाजा वह चिदंबरम को अपने साथ पूछताछ के लिए नहीं गए। 

  • Chidambaram, Tihar Jail, Supreme Court, INX Media, Supreme Court Hearing, Delhi Court

    NewsOct 15, 2019, 6:15 PM IST

    पी.चिदंबरम की बढ़ी मुश्किलें, अब तिहाड़ जेल में ईडी करेगी पूछताछ

    फिलहाल ये अब तय हो गया है कि पी.चिदंबरम जेल में ही रहेंगे। क्योंकि कोर्ट ने पूर्व मंत्री को जमानत नहीं दी है। वहीं कोर्ट ने ईडी को तिहाड़ जेल में पूर्व वित्त मंत्री से पूछताछ करने की इजाजत दे दी है। लिहाजा अब उनकी मुश्किलें बढ़ने जा रही हैं। ईडी बुधवार को पूर्व वित्त मंत्री से पूछताछ करेगी। यही नहीं कोर्ट ने ये भी कहा कि अगर ईडी चिदंबरम को गिरफ्तार करना चाहती है तो उसे कोर्ट इसके लिए इजाजत देती है। चिदंबरम तिहाड़ जेल में इस समय बंद हैं। 

  • undefined

    NewsOct 1, 2019, 6:49 PM IST

    जेल के खाने से उकता गए हैं चिदंबरम, घर का खाना खाने की मांगी इजाजत

    आईएनएक्स मीडिया मामले में पी चिदंबरम दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है। चिदंबरम को जेल में आम कैदियों को दी जाने वाली सहूलियतें दी जा रही है। इसी के तहत उन्हें जेल का खाना दिया जा रहा है। लेकिन अब चिदंबरम को जेल का खाना रास नहीं आ रहा है। लिहाजा उन्होंने कोर्ट में इसके लिए अपनी याचिका दायर की है। जिसके तहत उन्हें न्यायिक हिरासत में घर का खाना खाने की अनुमति दी जाए। 

  • louise

    NewsSep 29, 2019, 12:31 PM IST

    चिदंबरम, डीके शिवकुमार के बाद इस कांग्रेस नेता की पत्नी की हुई जमानत याचिका खारिज

    असल में कांग्रेस के नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद की पत्नी लुईस खुर्शीद एक एनजीओ चलाती हैं। इस एनजीओ पर आरोप है कि उसने सरकारी पैसे का दुरुपयोग किया है और दिव्यांगों को बांट जाने वाले उपकरणों में घोटाला किया है।