भोपाल सीट  

(Search results - 9)
  • News29, May 2019, 7:57 PM IST

    भोपाल से जीतने वाली साध्वी प्रज्ञा के नए प्रण से ममता बनर्जी के यू टर्न तक, देखिए माय नेशन के 100 सेकेंड्स में

    लोकसभा चुनाव में मध्य प्रदेश की भोपाल सीट से कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह को हराने वाली बीजेपी की सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने एक बड़ा फैसला लिया है। साध्वी ने कहा कि सांसद के तौर पर  मिलने वाला वेतन वह खुद पर खर्च नहीं करेंगी और जरूरत मंदों के लिए इस्तेमाल करेंगी। 
     

  • The big decision taken by Sadhvi Pragya, defeating Digvijay singh from bhopal

    News29, May 2019, 9:04 AM IST

    दिग्गी राजा को हरा कर अब साध्वी प्रज्ञा ने लिया ये 'प्रण'

    लोकसभा चुनाव के दौरान सबकी नजर भोपाल सीट पर लगी थी। यहां पर साध्वी प्रज्ञा ने कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह को करारी शिकस्त दी। इस सीट का प्रभाव मध्य प्रदेश की ज्यादातर सीटों पर पड़ा।

  • sadhvi pragya

    News22, May 2019, 5:35 PM IST

    भोपाल सीट पर साध्वी प्रज्ञा से दिग्विजय के मात खाने की आशंका

    मध्य प्रदेश की भोपाल सीट पर साध्वी प्रज्ञा और दिग्विजय सिंह के मुकाबले पर सबकी नजर है। दोनों के बीच दुश्मनी का पुराना इतिहास है। जिसने चुनावी जंग को निजी अदावत में बदल दिया है। इस सीट का जो परिणाम संभावित है, एग्जिट पोल के मुताबिक वही कमोबेश पूरे मध्य प्रदेश में दोहराया जाने वाला है। 

  • sadhvi pragya

    News12, May 2019, 6:58 PM IST

    साध्वी प्रज्ञा से जूझने में इतने व्यस्त रहे दिग्विजय कि खुद ही नहीं डाला वोट

    मध्य प्रदेश की भोपाल सीट पर मुकाबला इतना जबरदस्त दिखा कि वहां से खड़े कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह खुद ही मतदान नहीं कर पाए। यहां से साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर बीजेपी के टिकट पर उनके मुकाबले में हैं। 

  • Vision paper of sadhvi pragya bhopal

    News10, May 2019, 6:04 PM IST

    साध्वी प्रज्ञा ने जारी किया पार्टी का दृष्टि पत्र

    भोपाल: लोकसभा चुनाव से पहले भोपाल सीट के लिए बीजेपी ने दृष्टि पत्र जारी किया। जिसे पार्टी की आधिकारिक प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ने पेश किया। यह दृष्टि पत्र महिला सुरक्षा, शिक्षा, मज़दूर, किसानो को ध्यान में रख कर बनाया गया है। 

  • In Bhopal seat fight between pragya and digvijay singh abashed in Dharma

    News10, May 2019, 2:37 PM IST

    भोपाल सीट पर सिमटी धर्म की लड़ाई, पार्टी नहीं साध्वी Vs दिग्विजय

     पिछले एक महीने के भीतर ही साध्वी प्रज्ञा ठाकुर राज्य ही नहीं बल्कि देश में हिंदुत्व का एक बड़ा चेहरा बनकर उभरी हैं। बीजेपी उनकी इस छवि को भी भुना रही है। लेकिन साध्वी की इस छवि के कारण कांग्रेस के प्रत्याशी दिग्विजय सिंह यानी दिग्गी राजा की मुश्किलें बढ़ गयी हैं। आमतौर पर मुस्लिमों का पक्ष लेने वाले दिग्गी राजा अब मंदिरों के चक्कर लगा रहा है। यहां तक पार्टी की रणनीति के तरह उनकी चुनावी सभाओं में टोपी लगाए मुस्लिम नजर नहीं आते हैं। 

  • Sadhvi pragya Thakur would follow yogi mantra during ban in election campaign

    News2, May 2019, 10:42 AM IST

    मतदाताओं को साधने के लिए साध्वी प्रज्ञा को मिला ‘योगी मंत्र’

    चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश की हाई प्रोफाइल सीट कही जाने वाली भोपाल से बीजेपी की उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के चुनाव प्रचार पर 72 घंटे की रोक लगा दी है। साध्वी अपने बयानों के कारण सुर्खियों में हैं। उन्होंने पिछले दिनों अयोध्या की बाबरी मस्जिद को लेकर विवादित बयान दिया था। इस मामले को संज्ञान में लेते हुए चुनाव आयोग ने उनके प्रचार पर 72 पर रोक लगा दी है।

  • Sadhvi pragya thakur will be bjp candidate in Bhopal seat against digvijay singh

    News17, Apr 2019, 8:18 AM IST

    ‘राजा’ के खिलाफ भोपाल में ताल ठोकेंगी ‘साध्वी’, संघ ने बढ़ाया नाम बीजेपी आज लगाएगी मुहर

    भोपाल सीट पर कांग्रेस ने काफी पहले ही दिग्विजय सिंह का नाम फाइनल कर दिया था। दिग्विजय सिंह को चुनाव लड़ाने के पक्ष में राज्य के मुख्यमंत्री कमलनाथ थे। लेकिन अभी तक बीजेपी ने इस सीट पर किसी को फाइनल नहीं किया था। 

  • Who will be from BJP fight against Digvijay singh in Bhopal seat

    News13, Apr 2019, 3:41 PM IST

    दिग्गी के ‘हिंदू आतंकवाद’ का कौन देगा जवाब, शिवराज, उमा या फिर साध्वी प्रज्ञा

    पहले दिग्विजय सिंह चुनाव लड़ने के इच्छुक नहीं थे, लेकिन कमलनाथ की सलाह पर उन्होंने पार्टी को चुनाव लड़ने के लिए हामी भर दी है। लेकिन अभी तक बीजेपी इस मामले में पीछे है। बीजेपी में पहले कई नामों पर चर्चा हुई, लेकिन अब पार्टी तीन नामों पर विचार कर रही है। दिग्विजय सिंह राज्य के दो बार मुख्यमंत्री रहे हैं और राज्य में कांग्रेस के दिग्गज नेता माने जाते हैं।