मुलायम सिंह  

(Search results - 72)
  • undefined

    NewsMar 25, 2020, 6:51 PM IST

    फिर एकजुट हो सकता है मुलायम परिवार, शिवपाल फिर हो सकते हैं सपाई

    हालांकि होली में एक नजरा देखा गया था जिसमें मुलायम का परिवार दो साल के बाद एक जुट दिखा था। हालांकि कार्यकर्ताओं द्वारा अखिलेश शिवपाल जिंदाबाद के नारे को लेकर अखिलेश यादव नाराज हो गए थे। होली के बाद मुलायम सिंह के पैतृक गांव सैफई में अखिलेश व शिवपाल दोनों एक ही मंच पर दिखे थे।

  • undefined

    NewsJan 19, 2020, 6:40 PM IST

    नेताजी ने दिया था शिवपाल यादव को धोखा, शिवपाल ने किया इशारा

    समाजवादी पार्टी से अलग होकर दो साल पहले पार्टी बनाने वाले शिवपाल सिंह की यादव की पार्टी हालांकि लोकसभा चुनाव में कोई खास करिश्मा नहीं दिखा सकी। लेकिन कई सीटों पर उसने सपा को हराने में अहम भूमिका भी निभाई। शिवपाल सिंह यादव फिरोजाबाद से सपा प्रत्याशी और अपने भतीजे अक्षय यादव के खिलाफ चुनाव लड़े थे। लेकिन शिवपाल को हार का सामना करना पड़ा। 

  • NSG

    NewsJan 13, 2020, 8:11 AM IST

    मुलायम, माया को झटका देने की तैयारी में केन्द्र सरकार, घटेगा रूतबा

    केन्द्र सरकार ने कुछ दिन पहले ही गांधी परिवार से एसपीजी की सुरक्षा वापस ली है। वहीं अब केन्द्र सरकार ने वीआईपी सुरक्षा में बदलाव करने का फैसला किया है। वीआईपी की सुरक्षा में तैनात एनएसजी कमांडो को हटाकर उन्हें आंतकवाद विरोधी अभियानों के लिए लगाया जाएगा। 

  • undefined

    NewsJan 10, 2020, 8:35 AM IST

    अखिलेश यादव कर एनआरसी का विरोध तो मुलायम की बहू कर रही है समर्थन

    अपर्णा ने कहा  कि इस मुद्दे पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए और उदारवादी नेताओं को समझना चाहिए कि यह राष्ट्र हित में किया गया कार्य है। हालांकि इससे पहले भी अपर्णा केन्द्र सरकार के समर्थन में खुलकर आई थी। वहीं आजम प्रकरण में भी अपर्णा यादव ने पार्टी के खिलाफ बयान दिया था। लेकिन उसके बावजूद अभी तक अखिलेश यादव अपर्णा के खिलाफ किसी भी तरह की कार्यवाही नहीं कर सके हैं।

  • undefined

    NewsNov 21, 2019, 8:25 AM IST

    यादव परिवार में 22 नवंबर को हो सकता है बड़ा ऐलान

    हालांकि किसी ने इस मामले को लेकर औपचारिक बयान नहीं दिया है। लेकिन लग रहा है कि यादव परिवार में लोगों ने इस एकता के लए कोशिशें शुरू कर दी हैं। कुछ समय पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बड़ा देकर सबके चौंका दिया था कि अगर कोई पार्टी में आना चाहता है तो उसका स्वागत है। सपा प्रमुख का ये इशारा शिवपाल सिंह की तरफ थे। लेकिन अब मुलायम सिंह और सपा को लेकर नरम हो रहे हैं। शिवपाल ने दो दिन पहले इटावा में कहा कि वह भी चाहते हैं कि परिवार में एकता हो।

  • Story of Mulayam-Mayawati relation see through pictures

    NewsNov 8, 2019, 8:47 AM IST

    गेस्ट हाउस कांड को लेकर फिर 'मुलायम' हुईं माया

    इस साल लोकसभा चुनाव में करीब ढाई दशक के बाद मुलायम सिंह यादव और बसपा प्रमुख मायावती एक ही मंच पर दिखे। मायावती ने मुलायम सिंह के लिए मैनपुरी में वोट भी मांगे और मुलायम ने मायावती की जमकर तारीफ की। लोकसभा चुनाव से पहले गठबंधन बनाकर दोनों दलों इतिहास तो रचा लेकिन ये ज्यादा दिन नहीं चला। 

  • undefined

    NewsOct 30, 2019, 7:58 PM IST

    मुलायम से मिले योगी, शिवपाल मौजूद लेकिन अखिलेश रहे गायब

    अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की समाजवादी पार्टी के संरक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव से मुलाकात काफी अहम मानी जा रही है। क्योंकि किसी दौर में मुलायम भी राम मंदिर बाबरी मस्जिद को लेकर विवादों में रहे और उन्होंने अयोध्या में कार सेवकों पर गोली चलाई थी और उसके बाद उन्होंने खुद को मुल्ला मुलायम सिंह कहना पसंद किया था। 

  • Akhilesh Yadav has refused ticket to Aperna Yadav, may fight Shivpal party symbol

    NewsSep 29, 2019, 10:14 AM IST

    फिर अखिलेश ने मुलायम को दिखाया ठेंगा, क्या बहू करेगी बगावत

    असल में कैंट सीट को भाजपा का गढ़ माना जाता है। हालांकि अभी तक भाजपा ने किसी को प्रत्याशी नहीं बनाया है। सपा ने यहां से मेजर आशीष चतुर्वेदी को टिकट दिया है। जबकि यहां से मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू टिकट पर दावेदारी कर रही थी। क्योंकि यहां पर 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में अपर्णा को मुलायम की सिफारिश पर अखिलेश यादव ने टिकट दिया था।

  • Yogi government's big decision regarding Mulayam Singh, favorite car will not be able to travel 'Netaji'

    NewsSep 22, 2019, 3:26 PM IST

    मुलायम सिंह को लेकर योगी सरकार का बड़ा फैसला, पसंदीदा कार में सफर नहीं सकेंगे ‘नेताजी’

    पिछले दिनों ही योगी सरकार ने मुलायम सिंह और उनके परिवार से लोहिया ट्रस्ट का बंगला खाली करा लिया था। उससे पहले योगी सरकार ने मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव को मिले सरकार बंगलों को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद खाली करा दिए थे। अखिलेश के बंगले को लेकर काफी विवाद भी हुआ था और वहां से पानी की टोंटी भी गायब हुई थी।

  • undefined

    NewsSep 14, 2019, 3:51 PM IST

    योगी सरकार ने दिया मुलायम खानदान को झटका

    यूपी के प्रसिद्ध मुलायम खानदान का झटका देते हुए योगी आदित्यनाथ की सरकार ने उनसे लोहिया ट्रस्ट बिल्डिंग खाली करा ली है। राज्य के संपत्ति विभाग ने लखनऊ के पॉश इलाके  विक्रमादित्य मार्ग स्थित लोहिया ट्रस्ट के नाम से आवंटित बंगला खाली करा लिया है। इस ट्रस्ट के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव हैं, जबकि उनके छोटे भाई शिवपाल यादव इसके सचिव हैं। 
     

  • Know why now Akhilesh will investigate the allegations against Azam Khan

    NewsSep 7, 2019, 4:09 PM IST

    आजम खान और उपचुनाव की मजबूरी में फंसे अखिलेश

    जानकारी के मुताबिक  9 सिंतबर को आजम खान के समर्थन में अखिलेश यादव रामपुर में प्रदर्शन करेंगे। इसके लिए रामपुर के आसपास से जिलों के कार्यकर्ताओं से पार्टी ने रामपुर में एकत्रित होने को कहा है। ऐसा पहली बार हो रहा है जब अखिलेश यादव पूरी तरह से आजम के समर्थन में उतर रहे हैं। जबकि पिछले कुछ समय से अखिलेश ने आजम खान से दूरी बनाकर रखी थी। 

  • sp will first decide Yadav family seats while other candidate will get next

    NewsSep 7, 2019, 1:19 PM IST

    मुलायम परिवार में फिर होने वाली है बगावत!

    अखिलेश की अपर्णा से नाराजगी को इसी बात से समझा जा सकता है कि जब अपर्णा ने संभल सीट से लोकसभा का टिकट मांगा तो अखिलेश ने शफीकुर रहमान बर्क को पार्टी का टिकट दिया। गौरतलब है कि 2016 में यादव परिवार में विवाद हुआ था और मुलायम से छोटे भाई शिवपाल सिंह ने अपने अलग पार्टी बनाई थी तो पार्टी की लांचिंग पर अपर्णा मुलायम सिंह के साथ शिवपाल के मंच पर दिखी थी। जिसके बाद अखिलेश उनसे नाराज चल रहे हैं।

  • Mulayam Singh yadav disappeared from star campaigner list of Samajwadi party

    NewsSep 4, 2019, 11:45 AM IST

    आजम पर अखिलेश की खामोशी और मुलायम का हल्ला बोल, क्या हैं इसके राजनैतिक मायने

    असल में रामपुर जिला प्रशासन ने जमीन पर कब्जा करने के मामले में भू-माफिया घोषित किया है। यही नहीं आजम खां के खिलाफ करीब छह दर्जन मुकदमे दर्ज होने के बाद समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव को आजम खां के समर्थन में उतरना पड़ा है। हालांकि पिछले दिनों सपा ने रामपुर में विरोध प्रदर्शन किया था। लेकिन फिलहाल आजम के मुद्दे पर पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव खामोश हैं। 

  • Will SP follow the path of Congress, Akhilesh will leave the throne and hand over the command of the party to Mulayam

    NewsSep 3, 2019, 12:24 PM IST

    मझधार में फंसे अखिलेश के पुत्रमोह में दो साल बाद पत्रकारों से रूबरू होंगे ‘नेताजी’

    असल में समाजवादी पार्टी अपने अस्तित्व के बाद सबसे मुश्किल दौर में खड़ी है। पार्टी के दिग्गज नेता पार्टी से किनारा कर रहे हैं। मुलायम सिंह यादव ने अस्सी के दशक के अंतिम सालों में सपा का गठन किया था और उसके बाद पार्टी चार पर सत्ता में रही। लेकिन आज पार्टी की स्थिति ये है कि उसके लोकसभा में पांच सदस्य हैं और राज्य विधानसभा में 47 विधायक। 

  • Mulayam's daughter-in-law got separated from Akhilesh Yadav on article 370

    NewsAug 6, 2019, 8:19 PM IST

    अखिलेश यादव से जुदा हुई मुलायम की बहू की राह !

    सपा संरक्षक की बहू ने कहा कि अराजक तत्वों का दमन नागपंचमी के शुभ दिन हुआ है और इससे लोगों में खुशी है। उन्होंने कहा कि इसको हिंदू मुसलमान अलगाव के चश्मे से ना देखें। वहीं अपर्णा ने अपने ट्वीट के अंत में जय हिंद भी लिखा। फिलहाल समाजवादी पार्टी जम्मू कश्मीर पुनर्गठन विधेयक के खिलाफ है और पार्टी ने लोकसभा और राज्यसभा में इसका विरोध किया है