वामपंथी  

(Search results - 29)
  • <p>P Sharma Oli, Nepal Politics, Nepal Communist Party<br />
&nbsp;</p>

    NewsJul 14, 2020, 9:23 AM IST

    अब सरकार बचाने को और कितना गिरेंगे वामपंथी पीएम ओली, खेला धर्म का बड़ा दांव

    फिलहाल नेपाल में प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली की सरकार बचती नहीं दिख रही है। चीन की तमाम कोशिशों के बाद नेपाल के नाराज नेता ओली को प्रधानमंत्री के पद से हटाना चाहते हैं। जबकि चीन इन नेताओं के बीच समझौता कराने के लिए रात दिन एक किए हुए है। लेकिन अब अपनी सत्ता को जाता देख ओली ने धर्म का दांव खेला है। 

  • nepal1 2

    NewsMay 25, 2020, 9:27 PM IST

    जानें क्यों चीन की भाषा बोल रहा है नेपाल

    कालापानी और लिपुलेख को नक्शे में शामिल करने के बाद पैदा हुए सीमा विवाद के बीच हालांकि नेपाल के सुरों में नरमी आई है। लेकिन नेपाल लगातार भारत को निशाना बना रहा है। नेपाल के प्रधानमंत्री ने कह रहे हैं कि नेपाल में कोरोना संक्रमण भारत से आ रहा है और इससे पहले नेपाल भारतीय सीमा को अपना बता चुका है। जबकि नेपाल अच्छी तरह से जानता है कि नेपाल में जाने वाले सामान 90 फीसदी भारतीय सीमा से जाता है।

  • deep dive

    NewsJan 15, 2020, 4:31 PM IST

    मुस्लिम चरमपंथियों ने कांग्रेस सांसद शशि थरूर को नरम चरमपंथी के तमगा से नवाजा

    पिछले दिनों हमने थरूर को सीए विरोध प्रदर्शन के दौरान इस्तेमाल की जा रही ला इल्ल इल्लल्लाह चैट के खिलाफ बोलते देखा था। हमने उन्हें ट्वीट करते हुए देखा था कि सीएएस  के लिए हो रहे विरोध प्रदर्शनों को इस्लामी चरमपंथ को भी जन्म नहीं देना चाहिए। शायद यही कारण था कि जब वह शाहीन बाग में अपने साथी जेहादियों के साथ हाथ मिलाने के लिए गए थे तो उसी इसका और हिंदू विरोध के राग का सामना करना पड़ा। यही नहीं थरूर के इस्लाम चरमपंथी दोस्तों ने उन्हें एक नरम चरमपंथी कहा। 

  • Leftists make children like Greta a scapegoat just to save their existence

    NewsSep 30, 2019, 8:39 PM IST

    सिर्फ अपना वजूद बचाने के लिए ग्रेटा जैसे को बच्चों को बलि का बकरा बनाते हैं वामपंथी

    यहां तक कि जो वीडियो वायरल हुआ, उसमें हमने देखा है कि कैसे उसकी पंक्तियों को देखा गया। यह वास्तव में गलत है। एक बच्चा बचपन का हकदार है और असफल माता-पिता को लाइमलाइट देने का बोझ नहीं उठाता है। ये बच्चे स्कूल में पढ़ाई और खुद के लिए निर्णय लेने में होना चाहिए। इसके बजाय, प्रसिद्धि के प्यासे माता-पिता की भूख, जो उन्हें भाग्यशाली होने पर नोबेल पुरस्कार जीतने के लिए बोली में रैलियों का हिस्सा बनने के लिए धक्का देती है। 

  • Leftist historians and writers are 'gurus' in manipulating history

    NewsSep 26, 2019, 3:42 PM IST

    इतिहास से छेड़छाड़ करने में ‘गुरु’ हैं वामपंथी इतिहासकार और लेखक

    इतिहासकारों का मानना है कि महाभारत ईसा पूर्व 1200 (+/- 200 वर्ष) के आसपास हुआ था जबकि अशोक की अवधि ईसा पूर्व से 304 से 232 पूर्व थी। यह हमेशा हमारी विरासत और संस्कृति को बर्बाद करने के लिए एक वामपंथी प्रचार रहा है। ऐसा ही एक महाभारत है। वामपंथियों के लिए महाभारत का अर्थ एक भ्रामक कल्पना है। इस कल्पना को धिक्कारने की आवश्यकता है।

  • How can some historians destroy India's glorious past so easily

    SpiritualitySep 11, 2019, 7:40 AM IST

    प्राचीन भारत के गौरव को चंद वामपंथी इतिहासकार कैसे मिटा सकते हैं?

    भारत का इतिहास हजारों वर्षों से गौरवपूर्ण रहा है। यह मात्र किस्से कहानियों तक सीमित नहीं है। बल्कि हमारे मंदिरों और ग्रंथों के रुप में इसके जीवंत उदाहरण मौजूद हैं। हालांकि इसे नष्ट करने की कई बार कोशिश की गई। जिसमें असफलता प्राप्त होने के बाद वामपंथी इतिहासकारों ने बौद्धिक कुचक्र चलाया। लेकिन ईश्वर की कृपा से अपने प्राचीन ज्ञान विज्ञान के सहारे भारत अब जग रहा है।   
     

  • Romila Thapar

    NationSep 2, 2019, 2:48 PM IST

    आखिर रोमिला थापर को बायोडाटा देने में मुश्किल क्या है?

    मशहूर वामपंथी इतिहासकार रोमिला थापर से जेएनयू प्रशासन ने फिर से उनका बायोडाटा मांगा है। जिसे उन्होंने अपनी बेइज्जती करार दिया है। लेकिन क्या सचमुच ऐसा है? 
     

  • undefined

    NewsAug 3, 2019, 7:08 PM IST

    मोदी सरकार ने वामपंथियों के हाथ से छीना मजदूरों के हित का सबसे बड़ा मुद्दा

    मजदूर और उनसे संबंधित मुद्दों पर वामपंथी दल अपना एकाधिकार समझते हैं। लेकिन मोदी सरकार ने एक ऐसा कदम उठाया है। जिससे देश के सभी मजदूरों का हित सुरक्षित हो गया है। उनको मिलने वाली न्यूनतम मजदूरी पूरे देश में एक समान हो गई है। यह मजदूरों के हित के लिए मोदी सरकार का सबसे बड़ा कदम है। 
     

  • Tiananmen Protest

    NewsJun 2, 2019, 11:45 AM IST

    चीन के रक्षामंत्री का दावा, राजनीतिक स्थिरता के लिए जरूरी था थियानमेन चौक नरसंहार

    रक्षा मंत्री वेई फेंघ ने दावा किया है कि बीते 30 साल के दौरान चीन की वामपंथी सरकार ने देश को बहुत आगे ले जाने का काम किया है। 4 जून 1989 के दिन चीन सरकार के सामने कड़ी चुनौती थी और उसने देश को आगे ले जाने के लिए इस प्रदर्शन को खत्म करने के लिए कड़ा फैसला लिया था।

  • undefined

    NewsApr 10, 2019, 4:58 PM IST

    इजराइल में राष्ट्रवादियों की जीत, पीएम मोदी ने 'दोस्त' को दी बधाई

    बेंजामिन नेतन्याहू रिकॉर्ड पांचवीं बार बनेंगे पीएम। सत्ता संभालने के साथ ही नेतन्याहू इजराइल के इतिहास में सबसे ज्यादा समय तक कुर्सी पर रहने वाले पीएम बन जाएंगे। इस तरह वह इजरायल के जनक कहे जानेवाले डेविड बेन से आगे निकल जाएंगे।

  • Jean Dreze

    NewsMar 28, 2019, 4:14 PM IST

    आखिर झारखंड में हिरासत में क्यों लिए गए ज्यां द्रेज? जानिए चार कारण

    झारखंड पुलिस का कहना है कि उनके पास वामपंथी अर्थशास्त्री को नक्सल प्रभावित दुमका जिले में हिरासत में लिए जाने का पर्याप्त आधार है। हर किसी से बहस करना बेमानी है।

  • Students of a chaotic JNU, mistreated the wife of the Vice Chancellor hostage for several hours

    NewsMar 26, 2019, 8:55 AM IST

    अराजक हुए जेएनयू के छात्र, बवाल के बाद कुलपति की पत्नी से बदसलूकी कर बंधक बनाया

    वामपंथी दलों का गढ़ मानें जाने वाले जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्रों ने सोमवार की शाम को कैंपन में जमकर बवाल काटा। अराजक हुए छात्रों ने कैंपस में स्थित कुलपति के घर में घुसकर तोड़फोड़ की। छात्रों ने कुलपति की पत्नी को भी नहीं छोड़ा और उनके साथ बदसलूकी कर उन्हें घंटों बंधक बनाए रखा।

  • Kapil Mishra

    NewsFeb 25, 2019, 8:46 PM IST

    कपिल मिश्रा का जवाबी हमला, कविता कृष्णन, आशुतोष और प्रशांत भूषण के खिलाफ दर्ज कराएंगे एफआईआर

    दिल्ली के विधायक कपिल मिश्रा ने अपने खिलाफ झूठी खबरें फैलाने का आरोप लगाते हुए वकील प्रशांत भूषण, वामपंथी नेता कविता कृष्णन और पत्रकार से नेता बने आशुतोष के खिलाफ मामला दर्ज कराने का फैसला किया है। 

  • Sabarimala- Supreme court

    NewsFeb 6, 2019, 1:48 PM IST

    सबरीमाला मामले में पुनर्विचार याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में फैसला सुरक्षित

    सबरीमाला मामले में देश की सर्वोच्च न्यायालय ने फैसला सुरक्षित रख लिया है। इस मामले में सबरीमाला मंदिर देवासम बोर्ड ने अपना स्टैण्ड बदल लिया है। पहले वह सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विरोध में था। अपने पहले के फैसले में अदालत ने मंदिर में सभी आयुवर्ग की महिलाओं के प्रवेश को मंजूरी दी थी।  इसके खिलाफ 54 पुनर्विचार याचिकाएं और पांच रिट पेटिशन दायर की गईं। जिसपर फैसला सुरक्षित रखा गया है। 

  • Ritam

    NewsFeb 3, 2019, 6:30 PM IST

    राष्ट्रवादी विचारों को धार देने के लिए आएगा ‘ऋतम्’

    सोशल मीडिया पर राष्ट्रवादी विचारों के दमन का जवाब देने के लिए आ रहा है ‘ऋतम्’। इसकी स्थापना वामपंथी पूर्वाग्रह से भरे दूसरे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को जवाब देने के लिए की जा रही है।