Search results - 13 Results
  • laxmi ganesh saraswati

    Spirituality16, Jul 2019, 5:32 PM IST

    दैनिक पूजा में प्रयोग होने वाले 27 शब्द और उनके अर्थ?

    अपनी प्रतिदिन की पूजा में हम कुछ विशेष शब्दों का प्रयोग करते हैं। लेकिन उनके अर्थ समझ में नहीं आते। कई बार तो विशेष तौर पर ज्ञान रखने वालों को दैनिक पूजा संबंधी सभी वस्तुओं के नाम और उनमें क्या क्या मिला होता है, जैसी बातों की जानकारी नहीं होती। सनातन धर्मावलंबियों के ज्ञानवर्द्धन के लिए हम प्रतिदिन कुछ ऐसे ही आलेख प्रस्तुत करेंगे। 
     

  • Nusrat

    News27, Jun 2019, 2:27 AM IST

    सनातन परिवार में स्वागत है नुसरत, लेकिन अब आपको रखनी होंगी ये चार सावधानियां

    विवाह के बाद संसद में बशीरहाट की सांसद नुसरत जहां का सुशील और संस्कारी भारतीय नारी का रुप हर तरफ चर्चा का विषय बन गया है। कोलकाता के व्यवसायी निखिल जैन से शादी के बाद जब वह संसद में शपथ लेने पहुंची तो उनके हाथों के चूड़े, माथे की बिंदिया और मांग के सिंदूर ने सबका ध्यान अपनी तरफ खींचा। उस पर से भारतीय परंपरा के तहत स्पीकर के पैर छूना तो जैसे सोने पर सुहागा हो गया। लेकिन नुसरत जहां को अब कुछ विशेष सावधानियां भी बरतनी होगीं। आईए जानते हैं क्या-
     

  • modi

    News22, Jan 2019, 6:32 PM IST

    वाजपेयी की विरासत को कुछ इस तरह बढ़ाया पीएम मोदी ने

    प्रवासी भारतीय दिवस पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने शुरु करवाया था। लेकिन वर्तमान पीएम मोदी ने इस आयोजन का दायरा बहुत बढ़ा दिया है। वाराणसी में हुए इस कार्यक्रम में 800 जाने माने प्रवासी भारतीय इकट्ठा हुए। कुंभ मेले के समय प्रयागराज से मात्र कुछ घंटों की दूरी पर हुए इस कार्यक्रम में का मकसद प्रवासी भारतीयों को देश की प्राचीन सनातन परंपरा से परिचित कराना भी था। 
     

  • Dalit saint became Mahamandleshwar

    News16, Jan 2019, 4:49 PM IST

    प्रयाग कुंभ में दलित संत बने महामंडलेश्वर, सनातन धर्म छोड़ने वालों से की घर वापसी की अपील

    प्रयागराज में चल रहा इस बार का कुंभ ऐतिहासिक है। यहां अखाड़ा परिषद् की ओर से एक दलित संत को महामंडलेश्वर की उपाधि दी गई है। कन्हैया प्रभुनंद गिरि नाम के यह संत पिछले साल ही जूना अखाड़े में शामिल हुए थे। 

  • jesus in yog mudra

    Views25, Dec 2018, 4:30 PM IST

    जीसस क्राइस्ट पर भारत के प्रभाव को नकारता क्यों है चर्च?

    जीसस क्राइस्ट यानी ईसा मसीह का आज जन्मदिन है। एक महान संत और ईश्वरपुत्र के रुप में मानवता को उनकी देन असंदिग्ध है। लेकिन आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि जीसस मूल रुप से सनातन परंपरा के वाहक थे। उनके मूल विचार आर्य अष्टांगिक मार्ग से मेल खाते हैं। लेकिन इन बातों को जानबूझकर छिपाया गया और उसके मूल विचारों के उपर सेमेटिक(एक पैगंबर,एक किताब) विचारों का मुलम्मा चढ़ा दिया गया। ऐसा जीसस की मौत के रोमन सम्राट कॉन्सटेन्टाइन के जमाने में किया गया। ईसा की मौत के 325 साल बाद नायसिया(वर्तमान तुर्की) में एक परिषद् बुलाई गई, जिसमें जीसस के देवत्व की घोषणा की गई। जिसके बाद रोमन साम्राज्यवाद ने ईसा मसीह के व्यक्तित्व को अपना शासन फैलाने के नैतिक हथियार के रुप में इस्तेमाल करना शुरु कर दिया। प्रेम और दया के प्रतीक ईसा के नाम पर जो खूनी लड़ाईयां हुईं, वह इतिहास में ‘क्रूसेड’ के नाम से आज भी याद की जाती हैं। ऐसा करने के लिए जानबूझ कर जीसस का भारत से संबंध झुठलाया जाने लगा। जानिए जीसस पर भारत के प्रभाव के जुड़े ऐतिहासिक और अहम तथ्य़- 

  • Modi hindu

    Views23, Dec 2018, 6:09 PM IST

    क्या एनडीए सरकार ने हिंदुत्व के उद्देश्य के लिए पर्याप्त कार्य किया ?

    मुगलों द्वारा सदियों से प्रताड़ित किए गए हिंदुओं ने 2014 में भाजपा को बड़ी ही आशा के साथ पुनर्जीवित किया था। पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार निश्चित रूप से हिंदू समुदाय की इन उम्मीदों से वाकिफ थी। हम 2014 के बाद से सरकार द्वारा उठाए गए विभिन्न कदमों पर गहन विचार करेंगे
     

  • HINDU CELEBS

    News18, Dec 2018, 7:26 PM IST

    दुनिया भर के सेलिब्रिटीज हो रहे हैें सनातन धर्म के दीवाने

    सनातन धर्म की पताका पूरी दुनिया में लहराने लगी है। आए दिन विश्व के अलग अलग हिस्सों से लोगों द्वारा सनातन धर्म की मूल शिक्षाओं को स्वीकार करने की खबरें आ रही हैं। इसमें हॉलीवुड के कई बड़े स्टार, बड़ी विदेशी कंपनियों के अधिकारी और सरकारी अधिकारियों सहित बड़ी संख्या में आम लोग भी शामिल हैं। आईए आपकी मुलाकात कराते हैं इन नव सनातनियों से-  

  • Yogi adityanath

    News15, Dec 2018, 3:26 PM IST

    योगी ने राहुल पर निशाना साधा, कहा लोग अब गोत्र और जनेऊ दिखाने लगे हैं

    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि आज देश की राजनीति में हावी होने के लिए लोग अपना गोत्र व जनेऊ भी दिखाने लगे हैं। उन्होंने कहा कि जो लोग कहते थे कि हम एक्सीडेंटली हिन्‍दू हैं, उन लोगों को भी एहसास हो रहा है कि नहीं हम भी सनातनी धर्मावलंबी हिन्‍दू हैं।

  • lets become fundamentalist hindu

    Views24, Oct 2018, 7:25 PM IST

    तो चलिए हम सब 'रुढ़िवादी' हिंदू बन जाते हैं

     इस इक्कीसवी सदी में हमारे लिये यह उचित समय है जब हम एक समुदाय को दूसरे समुदाय के विरोध में खड़ा करने वाले हानिकारक, अप्रमाणित रुढ़िवाद का त्याग करें? सब से अच्छा विकल्प है कि हम हिंदू मूलतत्वों का अनुसरण करें। तो चलें, हम सब मनुष्यों में, कुदरत में और पशुओं में भी ईश्वरत्व देखनेवाले रुढ़िवादी हिंदू बनें। इससे संपूर्ण विश्व का लाभ होगा।

  • How Sabarimala has triggered a massive Hindu upsurge in south India

    Views17, Oct 2018, 6:23 PM IST

    कैसे सबरीमाला के मुद्दे ने दक्षिण भारत में विराट हिंदू प्रतिरोध को जन्म दे दिया

    सबरीमाला मंदिर मामले से जुड़े कई बड़े सवाल हैं, जिनका जवाब तलाश करने के लिए कार्यकर्ताओं को संघर्ष करना होगा। जैसे एक कम्युनिस्ट सरकार, जो कि नास्तिक मानी जाती है, वह हिंदू परंपराओं में दखल दे रही है, लेकिन यही व्यवस्था 2017 में ऑरथोडॉक्स और जैकोबाइट चर्चों के मामले में दिए गए सुप्रीम कोर्ट के फैसले के पालन में नदारद दिखती है। किस तरह से भारतीय राज्य मस्जिदों के मामले मे दखल नहीं देता, लेकिन हिंदू धर्म के स्तंभ माने जाने वाले भगवान अयप्पा की अपमान के लिए सेक्यूलरिज्म की आड़ लेने में तनिक भी नहीं हिचकता।  

  • God and Allah is not Parbrahm parmeshwar

    Views15, Oct 2018, 4:03 PM IST

    ‘परमब्रह्म परमेश्वर’ से अलग हैं ‘गॉड’ और ‘अल्लाह’

    प्राचीनकाल में जब ईसाईयत और इस्लाम का कोई अस्तित्व नहीं था, तब सर्वोच्च सत्य के बारे में वैदिक धर्म की समझ बहुत ही परिपक्व थी। हिंदू परंपरा में परमसत्य को ब्रह्म के नाम से जाना जाता है। यह सबसे सूक्ष्म, अदृश्य, जागृत जैसे समस्त संसार का आधार है। ऋषियों ने उद्घोषणा की, कि ब्रह्म वह नहीं है जिसे आंखें देखती हैं, बल्कि ब्रह्म वह है जिसकी वजह से आंखें देख पाती हैं। ब्रह्म वह नहीं है जिसे मस्तिष्क सोचता है, बल्कि ब्रह्म वह है जिसकी वजह से मस्तिष्क सोच पाने में सक्षम हो पाता है। यह बात अब्राहमिक धर्मों के भगवान के लिए नहीं कही जा सकती। 

  • Sanatana Dharma should be well propgated

    Views29, Sep 2018, 4:14 PM IST

    सनातन धर्म का प्रसार अति आवश्यक है।

    केवल हिन्दू अथवा सनातन धर्म ही ऐसा है जो विभाजनकारी तथा साम्प्रदायिक नहीं है। मात्र यही शाश्वत धर्म समस्त सृष्टि को एक कुटुम्ब के रूप में देखता है। यही धर्म बिना किसी निबन्धन के ‘वसुधैव कुटुम्बकम्’ के सिद्धांत को परिलक्षित करता है।

  • KUMBH

    News1, Sep 2018, 6:45 PM IST

    कुंभ मेला, भारतीय संस्कृति की सनातन यात्रा

    युवा लेखक और निर्देशक हर्षित जैन ने कुंभ मेले के हर पहलू को अपनी शॉर्ट फिल्म “कुंभ, भारतीय संस्कृति की सनातन यात्रा” में समेटा है। एक घंटे नौ मिनट की यह डॉक्यूमेन्ट्री बहुत शानदार तरीके से बनाई है। उच्च स्तरीय कैमरा वर्क, बढ़िया वॉयस ओवर, जरुरत के मुताबिक इस्तेमाल किए गए बेहद स्पष्ट ग्राफिक इस डॉक्यूमेन्ट्री को दर्शनीय बना देते हैं।