Almora  

(Search results - 3)
  • <p>99,499 ആക്റ്റീവ് കേസുകള്‍ നിലനില്‍ക്കുന്ന മഹാരാഷ്ട്രയില്‍ ഇതുവരെയായി 1,36,985 പേര്‍ക്ക് രോഗം ഭേദമായി. ഏഷ്യയിലെ ഏറ്റവും വലിയ ചേരി പ്രദേശമായ ധാരാവിയില്‍ കൊവിഡ്19 വൈറസ് വ്യാപനം നിയന്ത്രിക്കാനായത് മഹാരാഷ്ട്രയിക്ക് ആശ്വാസം നല്‍കുന്നു. എന്നാല്‍ മുംബൈ നഗരത്തിന്‍റെ പ്രാന്തപ്രദേശങ്ങളിലേക്കും ഗ്രാമങ്ങളിലേക്കും രോഗം വ്യാപിക്കുന്നത് ആശങ്ക ഉയര്‍ത്തുന്നു.&nbsp;</p>

    News12, Jul 2020, 8:25 PM

    उत्तराखंड में कोरोना संक्रमितों की संख्या पहुंची 3417, अब तक 2718 मरीज हुए स्वस्थ

    राज्य के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक राज्य में पिछले 24 घंटे में देहरादून में 21, उधम सिंह नगर में 14, अल्मोड़ा में 3, चमोली में 1, हरिद्वार में 3, रुद्रप्रयाग में 1, टिहरी में 2 नए मरीज सामने आए हैं। वहीं अब तक 80882 नमूने नेगेटिव पाए गए हैं। जबकि इन नमूनों से 3417 नमूनों कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं जबकि अब तक 5291 नमूनों की रिपोर्ट आना बाकी है। 

  • বনবিভাগের কর্মীরা রাস্তার পরিস্কারের কাজে হাত লাগিয়েছেন। কিন্তু এখনও তুষারপাত হওয়ার কারণে দীর্ঘক্ষণ কাজ করা সম্ভব হচ্ছে না।

    News15, May 2020, 3:03 PM

    उत्तराखंड में 'घोस्ट विलेज' बने सरकार के लिए वरदान

    असल में उत्तराखंड में हजारों की  संख्या में गांब खाली हो गए थे। रोजगार के सिलसिले में दूसरे राज्यों में जाने वालों ने गांवों  की तरफ रूख नहीं किया। जिसके बाद ये गांव आबादी विहीन हो गए थे। लेकिन अब इन गांवों में रौनक दिख रही है। ये गांवों वर्षों से खाली पड़े थे, लेकिन अब यहां पर लोगों का आना शुरू हो गया है। इसके साथ ही सरकार के लिए ये गांव वरदान साबित हुए हैं। क्योंकि सरकारी स्कूलों के अतिरिक्त राज्य सरकार के पास प्रवासियों को ठहराने की कोई व्यवस्था  नहीं है। 

  • undefined

    News12, Sep 2018, 10:28 AM

    उत्तराखंड के पूर्व विधानसभा अध्यक्ष से चौकी इंचार्ज की जमकर नोकझोंक

    उत्तराखंड के अल्मोड़ा में मौका था 'भारत बंद' का। यहां अल्मोड़ा के जैंती में जब कांग्रेस कार्यकर्ता 10 सितंबर को जबरन स्कूल बंद कराने पहुंचे तो चौकी इंचार्ज सुनीता नेगी ने उन्हें ऐसा नहीं करने दिया। क्षेत्रीय विधायक व पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल और चौकी प्रभारी सुनीता नेगी के बीच इस मामले को लेकर जमकर नोकझोंक हुई। कॉलेज की लड़कियों ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर धक्कामुक्की का आरोप लगाया। बंद के बहाने कथित तौर उनसे छेड़छाड़ भी की गई। जब यह बात कुंजवाल को बताई गई तो वे दरोगा पर पार्टी  विशेष का एजेंट होने का आरोप लगाने लगे। लेकिन महिला दारोगा दबाव में नहीं आई। यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया जा रहा है।