Apg  

(Search results - 9)
  • China raised Kashmir issue in UNSC for PAK, no country in the world gave support kps

    NewsFeb 1, 2020, 11:21 AM IST

    पाकिस्तान को नहीं बचा पाएगी नियाजी और ड्रैगन की चालबाजी !

    फिलहाल पाकिस्तान की नियाजी सरकार ने एक बार फिर एफएटीएफ के सामने झूठ बोला। हालांकि एफएटीएफ की एपीजी संस्था पहले ही पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट कर चुकी है। लेकिन पाकिस्तान हर बार की तरह चीन बचा रहा है। लेकिन बीजिंग में चीन इस बार लाख चाहने के बावजूद किसी भी तरह की मदद नहीं कर सका। हालांकि उसने भी पाकिस्तान के पक्ष में कई तरह की दलील पेश की थी।

  • undefined

    NewsJan 26, 2020, 7:46 AM IST

    एफएटीएफ पर अमेरिका की पाक को दो टूक, 'विनाशकारी' होगा आतंक पर एक्शन न लेना

    पाकिस्तान ने एफएटीएफ की ब्लैक लिस्ट में जाने से बचने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात की थी। पाकिस्तान ने अमेरिकी राष्ट्रपति से ब्लैक लिस्ट से बचने की गुहार लगाई थी। लेकिन अब अमेरिका ने साफ कर दिया है कि पाकिस्तान की किसी भी तरह मदद नहीं करेगा। हालांकि कल ही फ्रांस ने भी पाकिस्तान को किसी भी तरह की रियायत नहीं देने की बात कही थी।

  • India said to Pakistan Kidnapped Hindu girls should be freed immediately kps

    NewsJan 25, 2020, 8:09 AM IST

    ड्रैगन की चाल के बावजूद आतंक पर पाक को नहीं मिलेगी ‘रियायत’

    बीजिंग में हुई एफएटीएफ की एपीजी ग्रुप की बैठक में चीन ने पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट से बाहर निकालने की कोशिश की थी और कहा था कि पाकिस्तान में आतंक के खिलाफ एक्शन लिया जा रहा है। बीजिंग में 23 फरवरी को ही एफएटीएफ की एशिया पैसिफिक ग्रुप की बैठक हुई है। जिसकी अध्यक्षता इस बार चीन ने की है।

  • Now Imran Khan will take refuge in Tantric Bushra Bibi

    NewsJan 23, 2020, 10:54 AM IST

    ब्लैक लिस्ट से बचने के लिए पाकिस्तान का नया पैंतरा, आका 'ड्रैगन' चल सकता है नापाक नई चाल

    पाकिस्तान पर आर्थिक संकट मंडराया हुआ है। क्योंकि टेरर फंडिंग और मनी लॉन्ड्रिंग पर नज़र रखने वाले फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स ने उसे  ग्रे लिस्ट में डाला हुआ है। एफएटीएफ ने साफ किया है कि अगर उनसे अपने देश में अगर आतंकी कैंपों को बंद नहीं किया तो उसे ब्लैक लिस्ट में शामिल कर दिया जाएगा। जिसके बाद पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं से कर्ज मिलना मुश्किल हो जाएगा।

  • Learn why the dragon is becoming the 'Baisakhi' of the pauper Pakistan

    NewsOct 31, 2019, 8:55 AM IST

    जानें क्यों ड्रैगन बन रहा है कंगाल पाकिस्तान की ‘बैसाखी’

    फिलहाल चीन की पूरी कोशिश है कि पाकिस्तान को फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स यानी एफएटीएफ की ग्रे सूची से निकाला जाए और उसे ब्लैक लिस्ट होने से बचाया जाए। इस महीने चीन, मलेशिया और तुर्की के कारण पाकिस्तान ब्लैक लिस्ट में जाने से बच गया है। जबकि अगर ये तीन देश पाकिस्तान का साथ नहीं देते तो पाकिस्तान ब्लैक लिस्ट में होता। 

  • undefined

    NewsOct 20, 2019, 1:20 PM IST

    पाकिस्तान ने की चीन से उइगर मुस्लिमों की किस्मत की डील, तभी ड्रैगन ने दिया बड़ा इनाम

    पाकिस्तान को एफएटीएफ ब्लैकलिस्ट करने का फैसला करीब करीब कर चुका था। लेकिन पाकिस्तान के आका चीन और उसके दो दोस्त तुर्की और मलेशिया ने उसे बचा लिया है। क्योंकि एफएटीएफ की एशिया पैसिफिक ग्रुप ने पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट में पहले से ही रख दिया था। लेकिन पाकिस्तान के इन दोस्तों ने उसे बचा लिया। हालांकि ग्रे लिस्ट में रहने की वजह से पाकिस्तान को अगले चाल महीने में 2.66 लाख करोड़ पाकिस्तानी रूपये का नुकसान तो होगा ही।

  • undefined

    NewsOct 14, 2019, 8:15 AM IST

    आज पाकिस्तान के लिए हो सकता है काला सोमवार, एफएटीएफ कर सकता है ब्लैकलिस्ट

    एफएटीएफ की इकाई एशिया पैसिफिक ग्रुप ने पहले ही पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट में डाल दिया है। उसकी रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान आतंकी फंडिंग को रोकने में विफल रहा है। लिहाजा उसने तीन महीने पहले ही पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट में डाल दिया था। जिसके बाद पाकिस्तान की मुश्किलें बढ़नी तय हैं। लिहाजा आज का दिन पाकिस्तान के लिए काफी अहम है।

  • imran khan speech in pakistan

    NewsOct 7, 2019, 7:54 AM IST

    टेरर फंडिंग पर पाकिस्तान ने नहीं लिया आतंकियों के खिलाफ एक्शन, खुद लिख रहा है बर्बादी की स्क्रिप्ट

    एपीजी ग्रुप की रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान आतंकियों को आर्थिक मदद देनी नहीं रोकी है। असल में पाकिस्तान सरकार ने एफटीएफए को एक रिपोर्ट सौंपी थी। जिसमें उनसे 15 महीने पहले ये बताया था कि वह किस प्लान की तहत अपने देश में आतंकवादियों को रोकने के लिए एक्शन लेगा। लेकिन अब पाकिस्तान के चेहरा बेनकाब हो गया है।

  • undefined

    NewsAug 27, 2019, 12:45 PM IST

    इमरान खान ने माना वेनेजुएला बनने की कगार पर है पाकिस्तान, जहां 30 हजार रुपये किलो बिक रहा है टमाटर

    असल में पाकिस्तान रुपये में लगातार गिरावट देखी जा रही है। वहीं शेयर में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है। पिछले एक साल में अमेरिकी डॉलर के सामने पाकिस्तानी रुपया 25 फीसदी से ज्यादा गिर गया है। वहां कराची शेयर बाजार में निवेशकों का 1 लाख करोड़ पाकिस्तानी रुपया डूब चुका है। अब अगर फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट में डालता है तो वहां की अर्थव्यवस्था बिल्कुल बदहाली के कगार पर पहुंच जाएगी।