Bihar  

(Search results - 268)
  • undefined

    News13, Jan 2020, 8:15 AM IST

    बिहार विधानसभा चुनाव के लिए आरजेडी ने रखी बड़ी शर्त, मुश्किल में सहयोगी दल

    दिल्ली विधानसभा चुनाव के बाद कभी भी चुनाव आयोग बिहार विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान कर सकता है। हालांकि राजनैतिक दलों ने तैयारी शुरू कर दी है। जहां राज्य में भाजपा और जनता दल यूनाइटेड के मिलकर चुनाव लड़ने की संभावना है वहीं राजद के साथ अन्य विपक्षी दल चुनाव लड़ सकते हैं।

  • undefined

    News7, Jan 2020, 7:21 AM IST

    क्या जदयू की भाजपा से बढ़ रही हैं दूरियां, दिल्ली में फिर दिया भाजपा को झटका

    चुनाव आयोग ने सोमवार को ही दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए तारीख का ऐलान किया है। हालांकि अभी पार्टी ने ये तय नहीं किया है कि वह दिल्ली की कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगी। लेकिन वह पूर्वांचल के मतदाताओं को देखकर सीटों पर फैसला कर सकती है। फिलहाल जदयू की दिल्ली प्रदेश इकाई चुनावी रणनीति को अंतिम रूप देने में जुटी है।

  • undefined

    News30, Dec 2019, 7:48 AM IST

    पीके जरिए भाजपा पर दबाव बना रहे हैं नीतीश कुमार!

    बिहार में राजनैतिक दलों की चुनाव को लेकर राजनीतिक गतिविधियां शुरू हो गई हैं। चुनाव के लिए बनने वाले गठजोड़ों के लिए तैयारियां शुरू होगई हैं। लिहाजा इसी सिलसिले में जनता दल यूनाईटेड (जेडीयू) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर यानी पीके ने बड़ा बयान दिया है।

  • झारखंड में पांच चरणों में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा ने सत्ता गंवा दी। कांग्रेस, जेएमएम और आरजेडी गठबंधन को प्रचंड बहुमत मिली। भाजपा राज्य में सिर्फ 25 सीटें जीत पाईं। वहीं, गठबंधन ने 47 सीटों पर जीत हासिल की है।

    News30, Dec 2019, 7:38 AM IST

    बिहार चुनाव से छह महीने पहले सीटों का बंटवारा चाहती है कि कांग्रेस, जाने क्या मिला जवाब

    महाराष्ट्र और झारखंड मे सरकार बनाने के बाद कांग्रेस गदगद है। यही नहीं झारखंड का प्रयोग वह बिहार में करना चाहती है। लिहाजा वह अपने सहयोगी राष्ट्रीय जनता दल से चुनाव से पहले सीटों का बंटवारा चाहती  है। कांग्रेस को लग रहा है कि जिस तरह का प्रयोग झारखंड में सफल रहा और कांग्रेस, राजद और जेएमएम के गठबंधन जीत हासिल की है, इसी तरह की गठबंधन से वह  बिहार में भाजपा और जदयू गठबंधन को मात दे सकती है।

  • undefined

    News29, Dec 2019, 8:55 AM IST

    मांझी ने दिया ओवैसी को झटका, सियासी जमीन बचाने को लिया यू टर्न

    हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) के अध्यक्ष और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने  एआईएमआईएम प्रमुख असदु्द्दीन औवेसी को बड़ा झटका दिया है। मांझी को आज ओवैस की रैली में हिस्सा लेने जाना था लेकिन ऐन मौके पर उन्होंने रैली से किनारा कर लिया है। मांझी रैली के बजाए झारखंड में हेमंत सोरेन के शपथ ग्रहण समारोह में शरीक होंगे।

  • undefined

    News28, Dec 2019, 6:32 AM IST

    लालू परिवार में फिर नया ड्रामा, राजद विधायक चंद्रिका राय ने राबड़ी पर कराई एफआईआर

    चंद्रिका राय राजद के विधायक हैं और ऐश्‍वर्या राय के पिता हैं। हालांकि तीन दिन पहले ही पटना की कोर्ट ने लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव को ऐश्वर्या राय को भरणपोषण का खर्चा देने का आदेश दिया था। जिसके बाद लालू परिवार और ऐश्वर्या के परिवार के बीच जंग शुरू हो गई थी।

  • undefined

    News28, Dec 2019, 6:32 AM IST

    जानें कैसे बिहार में राजद के लिए ओवैसी और मांझी ने बढ़ाई मुश्किलें

    राज्य में हुए विधानसभा उपचुनाव में ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम ने एक सीट जीत थी। जिसके बाद ओवैसी ने राज्य में पार्टी के विस्तार की योजना बनाई है। इसी के तहत ओवैसी ने जीतन राम मांझी की अगुवाई वाली हम के साथ आगामी विधानसभा चुनाव के लिए गठजोड़ किया है। वहीं नागरिकता कानून के खिलाफ ओवैसी ने सीमांचल एक विशाल रैली की घोषणा की है।

  • pm modi

    News25, Dec 2019, 7:52 AM IST

    क्या दिल्ली और बिहार के लिए भाजपा बदलेगी रणनीति!

    झारखंड की हार से भाजपा को दोतरफा झटका लगा है। क्योंकि एक तरफ भाजपा के हाथ से एक राज्य चला गया है वहीं दूसरी तरफ से भाजपा के कमजोर होते ही सहयोगी दलों ने उस पर दबाव बना दिया है। जानकारों का कहना है कि झारखंड में भाजपा को मिली हार का सीधा असर पड़ोसी राज्य बिहार में पड़ेगा। क्योंकि वहां पर सहयोगी जनता दल यूनाइटेड  दबाव की राजनीति करेगा।

  • ലക്നൗവിലും സംഭാലിലും ആക്രമണമുണ്ടായി. സര്‍ക്കാര്‍ ശക്തമായി നേരിടും. പൊതുമുതല്‍ നശിപ്പിക്കുന്നവരില്‍ നിന്ന് തന്നെ ഈടാക്കും. സിസിടിവി ദൃശ്യങ്ങളും വീഡിയോകളും പരിശോധിച്ച് പ്രതിഷേധക്കാര്‍ക്കുനേരെ പ്രതികാര നടപടിയെടുക്കുമെന്നും അദ്ദേഹം പറഞ്ഞു.

    News24, Dec 2019, 9:06 AM IST

    दंगाईयों ने पटना में मंदिरों में की तोड़फोड़, तोड़ा हनुमान मंदिर लेकिन राजनैतिक दल खामोश

    पटना में दो दिन पहले राजद और उसके सहयोगी दलों ने बिहार बंद का आयोजन किया था। इसमें राजद  के कार्यकर्ताओं ने पूरे राज्य में सरकारी संपत्ति वाहनों को नुकसान पहुंचाया। नागरिकता कानून को लेकर बिहार से लेकर पूरे देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं। लेकिन अभी तक किसी भी राज्य में प्रदर्शनकारियों ने अन्य धर्मों के धार्मिक स्थलों को छति नहीं पहुंचाई। 

  • undefined

    News21, Dec 2019, 8:24 AM IST

    आज नागरिकता कानून को लेकर सड़कों पर उतरेगी राजद

    नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी को लेकर देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं। हालांकि इन कानून के लिए बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाइटेड के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने केन्द्र सरकार को समर्थन दिया था। लिहाजा राजद इसका विरोध कर रही है। पिछले दिनों ही नागरिकता संशोधन कानून को लेकर पटना में राजद और जदयू में पोस्टर वार शुरू हुआ था और दोनों ने एक दूसरे के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था।

  • nitish kumar

    News17, Dec 2019, 1:50 PM IST

    जानें क्यों पटना में लगे सीएम नीतीश कुमार गायब हैं पोस्टर, किसकी है साजिश

    पोस्टर लिखा गया है कि राज्य की सत्ताधारी जनता दल यूनाइटेड में दो फाड़ हो चुके हैं और अभी तक पार्टी ने अपना रूख साफ नहीं किया है। हालांकि पोस्टर में किसी  ने अपना नाम नहीं लिखा है। 

  • రాబిన్ శర్మ గతంలో ప్రశాంత్ కిషోర్ నేతృత్వంలోని ఐప్యాక్ లో  పనిచేశారు. ప్రస్తుతం ఆయన ఐ ప్యాక్ ను వదిలిపెట్టాడు. అంతేకాదు రాజకీయ పార్టీలకు సర్వే చేసే పనులు చేస్తున్నాడు. దీంతో రాబిన్ శర్మను వ్యూహాకర్తగా నియమించుకోవాలని కూడ కొందరు టీడీపీ నేతలు ప్రతిపాదించినట్టుగా చెబుతున్నారు.

    News15, Dec 2019, 9:38 AM IST

    नागरिकता कानून के विरोध के बावजूद पीके को नहीं छोड़ा चाहते हैं नीतीश

    प्रशांत कुमार ने पार्टी प्रमुख और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश से मुलाकात की। शनिवार को ही पीके ने कहा कि वह पार्टी प्रमुख से मिलकर अपनी बात रखेंगे। हालांकि पार्टी में पीके के दखल को देखते हुए पार्टी का एक धड़ा पीके उनके खिलाफ कार्यवाही करने का दबाव बना रहा था।

  • ఇప్పటికే  ప్రశాంత్ కిషోర్  బెంగాల్ సీఎం మమత బెనర్జీతో పాటు ఇతర రాష్ట్రాల్లో కూడ పలు పార్టీలతో ఒప్పందాలు చేసుకొన్నారు.ప్రశాంత్ కిషోర్ లాంటి వ్యూహాకర్త కోసం టీడీపీ నేతలు అన్వేషిస్తున్నారు. గతంలో ప్రశాంత్ కిషోర్ టీమ్ లో పనిచేసిన రాబిన్ శర్మతో టీడీపీ నేతలు సంప్రదింపులు జరిపినట్టుగా ప్రచారం సాగుతోంది.

    News12, Dec 2019, 1:42 PM IST

    जानें क्यों नीतीश कुमार के साथ रह कर ममता की भाषा बोल रहे हैं पीके

    प्रशांत किशोर को नीतीश कुमार का करीबी माना जाता है। पिछले विधानसभा चुनाव में प्रशांत किशोर ने नीतीश कुमार के लिए चुनाव प्रबंधन संभाला था और अब वह पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के लिए चुनाव प्रबंधन संभाल रहे हैं। लेकिन नागरिता संशोधन बिल पर प्रशांत किशोर नीतीश कुमार के फैसले के खिलाफ विरोध जता रहे हैं।

  • రాబిన్ శర్మ గతంలో ప్రశాంత్ కిషోర్ నేతృత్వంలోని ఐప్యాక్ లో  పనిచేశారు. ప్రస్తుతం ఆయన ఐ ప్యాక్ ను వదిలిపెట్టాడు. అంతేకాదు రాజకీయ పార్టీలకు సర్వే చేసే పనులు చేస్తున్నాడు. దీంతో రాబిన్ శర్మను వ్యూహాకర్తగా నియమించుకోవాలని కూడ కొందరు టీడీపీ నేతలు ప్రతిపాదించినట్టుగా చెబుతున్నారు.

    News10, Dec 2019, 1:48 PM IST

    नागरिकता संशोधन बिल नीतीश कुमार से बगावत की तैयारी में हैं पीके

    नागरिकता संशोधन बिल पर सरकार और विपक्ष के बीच सियासी संग्राम थमने का नाम नहीं ले रहा है। वहीं नीतीश कुमार की पार्टी और बिहार में भाजपा की सहयोगी जनता दल यू में भी दो फाड़ होते दिखाई दे रहे हैं। जहां पार्टी प्रमुख नीतीश कुमार ने इस बिल का समर्थन किया है। वहीं उनके करीबी कहे जाने वाले और पार्टी के उपाध्यक्ष प्रशांत कुमार ने इसे बड़ी भूल बताया है। 

  • Jharkhand: BJP may get a shock, CM Nitish Kumar can campaign against CM Raghuvar Das

    News10, Dec 2019, 9:29 AM IST

    नीतीश कुमार की 'भीष्य प्रतिज्ञा', विरोध के बाद भी सिटीजन बिल पर खड़े रहेंगे भाजपा के साथ

    नीतीश कुमार ने नागरिकता संशोधन बिल में भाजपा का समर्थन कर किया है। जबकि तीन तलाक बिल में उन्होंने केन्द्र सरकार को समर्थन नहीं दिया था। जबकि वह राजग का हिस्सा हैं। असल में बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने अमित शाह को रिटर्न गिफ्ट दिया है, क्योंकि पिछले दिनों अमित शाह ने साफ किया था कि बिहार में विधानसभा चुनाव नीतीश कुमार की अगुवाई में ही लड़े जाएंगे। कुछ नेताओं  के विरोध के बावजूद नीतीश कुमार ने साफ कर दिया है कि वह अपने स्टैंड पर कायम हैं।