Bjp  

(Search results - 1496)
  • Mamta Said, no money was received for Gangasagar fair kps

    News19, Feb 2020, 6:44 AM IST

    ममता सरकार ने स्कूल की ड्रेस हटाया कमल का फूल

    स्कूली बच्चों के अभिभावकों का कहना है कि भाजपा स्कूल अधिकारियों को इस्तेमाल कर रही है और इसके लिए उन्होंने उन्हें जोड़ा है। स्कूल भाजपा के चुनाव चिन्ह को बढ़ावा देने के लिए वर्दी का उपयोग कर रहे थे। जानकारी के मुताबिक रनिया फ्री प्राइमरी स्कूल स्कूल में कक्षा 1 से 4 तक के छात्रों की स्कूली ड्रेस में जो लोगो लगा है उसमें कमल का फूल है। जिसको लेकर राज्य की सत्ताधारी टीएमसी के स्थानीय नेताओं को आपत्ति है।

  • undefined

    News18, Feb 2020, 6:03 PM IST

    वाराणसी के रिक्शा चालक से मिले पीएम मोदी और की ये ख़ास बातें

    रविवार 16 फरवरी को अपने लोकसभा क्षेत्र के दौरे पर आए पीएम मोदी ने एक रिक्शा चालक मंगल केवट से मुलाकात की, रिक्शा चालक मंगल केवट ने पीएम मोदी को अपनी बेटी की शादी में आने का न्योता भेजा था।

  • undefined

    News17, Feb 2020, 10:28 AM IST

    झारखंड में सरकार जाने के बाद होगी भाजपा मजबूत, बढ़ेंगी सोरेन की मुश्किलें

    असल में राज्य में आदिवासियों की संख्या ज्यादा है और जो राज्य में चुनाव में ये तय करती है कि राज्य की सत्ता किसके पास रहेगी। माना जा रहा है कि मरांडी को भाजपा सदन में नेता विपक्ष नियुक्त करेगी। क्योंकि अभी तक  इस पद पर किसी को नियुक्त नहीं किया गया है।

  • undefined

    News17, Feb 2020, 6:53 AM IST

    'बेरोजगारी' की यात्रा निकालने से पहले 'गरीबी' बनी राजद की मुसीबत

    राज्य में विधानसभा चुनाव से पहले राज्य की सत्ताधारी जदयू और विपक्षी दल राजद के बीच मुकाबला दिलचस्प होने जा रा है। तेजस्वी राज्य सरकार के खिलाफ बेरोजगारी हटाओ यात्रा शुरू करने जा रहे हैं। इसके जरिए वह राज्यभर में जनता को बेरोजगारी की स्थिति के बारे में बताएंगे और राज्य सरकार के खिलाफ हमले करेंगे। 

  • undefined

    News17, Feb 2020, 6:36 AM IST

    शरद पवार और उद्धव ठाकरे के बीच चल रही तनातनी के बीच एनसीपी ने बुलाई अहम बैठक

    असल में ठाकरे और पवार के बीच तनातनी का सबसे बड़ा मुद्दा कोरेगांव है। जिसकी उद्धव ठाकरे सरकार जांच एनआईए को देने की अनुमति दे दी है। जिसको लेकर शरद पवार काफी नाराज बताए जा रहे हैं। असल में पिछले दिनों ही राज्य सरकार ने कहा था कि कोरेगांव की जांच राज्य की पुलिस करेगी।

  • undefined

    News16, Feb 2020, 11:40 AM IST

    पीएम मोदी पहुंचे वाराणसी, शिव की नगरी के देंगे सौगात और करेंगे 63 फीट ऊंची प्रतिमा का अनावरण

    पंडित दीनदयाल उपाध्याय की मूर्ति पंच धातु से तैयार की गई है और ये पंच धातु की मूर्ति देश में सबसे ऊंची प्रतिमा है। इस मूर्ति को तैयार करने में 200 से अधिक कारीगरों ने एक वर्ष का समय लिया है। इसके साथ ही पीएम यहां पंडित दीनदयाल उपाध्याय मेमोरियल सेंटर का भी उद्घाटन करेंगे। इस स्मारक में दीनदयाल उपाध्याय के जीवन बताया  गया है।

  • undefined

    News16, Feb 2020, 9:37 AM IST

    नड्डा ने नियुक्त किए केरल, एमपी और सिक्किम के प्रदेश अध्यक्ष, अब दिल्ली की बारी

    भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने केरल, मध्य प्रदेश और सिक्किम इकाइयों में नए प्रमुख नियुक्त किया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद नड्डा ने राज्यों के नेतृत्व में बदलाव किया है। हालांकि इससे पहले नड्डा चंद्रकांत पाटिल को भाजपा की महाराष्ट्र इकाई के प्रमुख नियुक्त कर चुके हैं। मध्य प्रदेश में काफी अरसे से प्रदेश अध्यक्ष को बदलने जाने की चर्चा चल रही थी और राज्य के निर्वतमान प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह को लेकर राज्य के नेताओं में नाराजगी चल रही थी।

  • undefined

    News15, Feb 2020, 7:38 PM IST

    राजग का कुनबा बढ़ाने की तैयारी में भाजपा!

    दिल्ली विधानसभा चुनाव नतीजे आने के बाद केन्द्र में मोदी मंत्रिमंडल में विस्तार की  चर्चा शुरू होने लगी है। माना जा रहा है कि बिहार विधानसभा चुनाव से पहले जदयू को केन्द्रीय कैबिनेट में शामिल कर राजग को मजबूत किया जा सकता है। ऐसा कर बिहार में भाजपा और जदयू की दोस्ती और ज्यादा मजबूत होगी। वहीं इसका फायदा चुनाव में भी मिलेगा। हालांकि पिछली बार जदयू ने कैबिनेट में शामिल होने से मना कर दिया था। 

  • undefined

    Nation14, Feb 2020, 5:08 PM IST

    भाजपा नेताओं के बयानों का खामियाजा दिल्ली चुनाव में भुगतना पड़ा: अमित शाह

    नमस्कार स्वागत है आपका माय नेशन में, मेरा नाम है अमल चौधरी और आज हम बात करेंगे दिल्ली चुनाव के बाद आए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के बयान के बारे में. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को कहा कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के प्रचार के दौरान भाजपा नेताओं को ‘गोली मारो’ और ‘भारत-पाक मैच’ जैसे बयान नहीं देने चाहिए थे। शाह ने कहा- इस तरह के बयानों की पार्टी ने भारी कीमत चुकाई। हमारी पार्टी ने इस तरह के बयानों से खुद को दूर कर लिया था।

  • 'উনি কবে কাকে সম্মান দিয়েছেন', মেট্রোর আমন্ত্রণ বিতর্কে মুখ্যমন্ত্রীকে নিশানা দিলীপের

    News14, Feb 2020, 9:05 AM IST

    नागरिकता कानून को लेकर दो हिस्सों में बंटी पश्चिम बंगाल भाजपा

    हालांकि भाजपा का साफ मानना है कि सीएए को लेकर दिल्ली में पार्टी को हार का सामना नहीं करना पड़ा। क्योंकि पार्टी का वोट प्रतिशत में इजाफा हुआ है और वहीं पार्टी के कई प्रत्याशी बहुत कम मार्जिन से हारे हैं। लिहाजा ये कहना गलत होगा कि पार्टी को नागरिकता कानून के कारण हार मिली है। लिहाजा अब पार्टी का पूरा फोकस पश्चिम बंगाल में होने वाले नगर निगम चुनावों में है।

  • Mamta Said, no money was received for Gangasagar fair kps

    News13, Feb 2020, 8:21 PM IST

    आदिवासी वोटरों में सेंध लगाने में जुटी ममता

    राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी लोकसभा चुनाव में भाजपा के प्रदर्शन से घबराई हुई हैं।  लिहाजा वह हर छोटे छोटे वोट बैंक पर सेंध लगाने की योजना बना रही है। हालांकि अभी राज्य में विधानसभा चुनाव में एक साल से अधिक का समय है। लेकिन ममता किसी भी मौके को हाथ से निकलना नहीं चाहती है। लिहाजा अपनी रणनीति के तहत ममता राज्य के आदिवासी वोट को सेंधने की तैयारी कर रही है।

  • उसने बताया कि वह लोकतंत्र के लिए उस विरोध प्रदर्शन में शामिल हुई थी। वहां, कई पोस्टर बन रहे थे। मैं कश्मीर से नहीं हूं। इसी दौरान मैंने सोचा कि हम यहां संविधानिक स्वतंत्रता के लिए इकट्ठा हुए हैं, तो 5 महीने से इंटरनेट बंद क्यों हैं। उन लोगों की आवाज उठाने के लिए मैंने ये पोस्टर उठाया।

    News13, Feb 2020, 11:03 AM IST

    राज्यसभा की सातवीं सीट के लिए महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना की बीच फिर होगी जंग

     राज्यसभा के सदस्य के लिए 37 विधायकों के समर्थन की आवश्यकता होती है। वहीं राज्य में भारतीय जनता पार्टी के 105 विधायक हैं और उसे नौ निर्दलीय विधायकों का समर्थन प्राप्त है। जबकि सत्तारूढ़ गठबंधन में, शिवसेना के 56 विधायक हैं,राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस के पास क्रमशः 54 और 44 विधायक हैं। जबकि 20 अन्य विधायकों में से कम से कम 15 विधायकों के राज्य के सत्तारूढ़ गठबंधन के पक्ष में जाने की उम्मीद की जा रही है। 
     

  • कौन हैं जेपी नड्डाः पटना में 1960 में जन्में जगत प्रकाश नड्डा ने बीए और एलएलबी की परीक्षा पटना से पास की थी और शुरु से ही वे एबीवीपी से जुड़े हुये थे। नड्डा जब 16 बरस के थे तो जेपी आंदोलन से जुड़ गए। लिहाजा, राजनीति का ककहरा मंझे राजनेताओं के दौर में सीखने को मिला। इसके बाद सीधे छात्र राजनीति से जुड़ गए। उनकी काबिलियत देखते हुए ही 1982 में उन्हें उनकी पैतृक जमीन हिमाचल में विद्यार्थी परिषद का प्रचारक बनाकर भेजा गया। वहां छात्रों के बीच नड्डा ने ऐसी लोकप्रियता हासिल कर ली थी कि उनके नेतृत्व में हिमाचल प्रदेश विवि के इतिहास में पहली बार एबीवीपी ने जीत हासिल की। (जेपी नड्डा, पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह की फाइल फोटो)

    News12, Feb 2020, 6:23 AM IST

    क्या हैं भाजपा के लिए दिल्ली हार के मायने, कहां फेल हो गई 'भगवा पार्टी'

    भाजपा दिल्ली की सत्ता से पिछले 27 वर्षों से बाहर है और अब उसे अगली लड़ाई के लिए पांच साल के लिए इंतजार करना होगा। चुनाव में भाजपा को महज आठ सीटें मिली हैं वहीं आप को 63 सीटें मिली हैं। जो पिछले विधानसभा चुनाव से चार सीटें कम है। लेकिन एक सच्चाई ये भी है कि भाजपा अपने लोकसभा चुनाव के प्रदर्शन को दोहरा नहीं सकी। जबकि लोकसभा चुनाव हुए महज छह महीने ही हुए हैं। लिहाजा भाजपा को भी सोचना होगा कि कहां पर उससे गलती हुई है।

  • As a result, an average household of 5 individuals that eat two vegetarian Thalis a day, gained around Rs 10887, on average per year, while a non-vegetarian household gained Rs 11787, on average per year," according to Economic Survey.

    News12, Feb 2020, 6:12 AM IST

    महाराष्ट्र में शुरू हुई थाली पॉलीटिक्स, शिवसेना की 'शिवभजन' तो भाजपा ने शुरू की 'दीनदयाल'

    पिछले महीने 26 जनवरी को महाराष्ट्र की शिवसेना सरकार ने राज्य में 'शिवभोज थाली' की शुरूआत की थी। इस थाली का दाम दस रुपये रखा था। ताकि गरीब वर्ग के लोग इस थाली से पेट भर सकें। लेकिन अब राज्य सरकार की तर्ज पर भारतीय जनता पार्टी ने राज्य में दीन दयाल थाली को लॉच किया है। 

  • आम आदमी पार्टी को दिल्ली विधानसभा चुनाव में बेहतरीन प्रदर्शन के लिए किशोर ने AAP को "गारंटी कार्ड" योजना का आइडिया दिया। जिसमें जनता के लिए ढेरों मूलभूत चीजों को मुफ्त मुहैया करवाने का वादा किया गया है।

    News11, Feb 2020, 8:05 PM IST

    आप की जीत के बाद पीके जल्द करेंगे अगले कदम का खुलासा


    दिल्ली विधानसभा चुनावों में आप की जीत ने फिर से चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को मजबूत किया है। हालांकि पहले ये कयास लगाए जा रहे थी कि चुनाव के बाद पीके या तो टीएमसी में शामिल हो सकते हैं या फिर वह आप का दामन थामेंगे। लेकिन आप  की जीत ने प्रशांत किशोर के लिए कई सियासी पार्टियों के दरवाजे खोल दिए हैं।