Deepak Kochhar  

(Search results - 4)
  • Ed would again do interrogation to former ICICI ceo chanda kochhar

    NewsMay 14, 2019, 9:21 AM IST

    जानें आज क्यों फिर ईडी करेगी चंदा कोचर से पूछताछ

    ईडी ने जो केस चंदा कोचर और उनके पति पर दर्ज किया है। उसके मुताबिक चंदा कोचर ने आईसीआईसीआई बैंक की सीईओ रहते हुए वीडियोकान समूह को 1,875 करोड़ रपए का कर्ज दिया था। हालांकि इस कर्ज का ज्यादातर हिस्सा वीडियोकॉन ने बाद में एनपीए घोषित कर दिया था। बैंक ने ये कर्ज 2009 से 2011 के दौरान दिया। आरोप है कि इस कर्ज के बदले में चंदा कोचर के पति दीपक कोचर की कंपनी नूपावर रिन्यूएबल्स लिमिटेड को वीडियोकॉन समूह ने पैसा ट्रांसफर किया था।

  • Chanda kochhar would register her statement at ED office in new delhi

    NewsMay 13, 2019, 2:17 PM IST

    वीडियोकॉन ग्रुप को कर्ज देने के मामले में आज ईडी में बयान दर्ज कराएंगी चंदा कोचर

    आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व सीईओ चंदा कोचर पर वीडियोकॉन ग्रुप को 1,875 करोड़ रुपये का कर्ज देने का आरोप है। जिसे बाद में कंपनी ने एनपीए घोषित कर दिया था। यही नहीं वीडियोकॉन ग्रुप और चंदा के पति दीपक कोचर की कंपनी के कारोबारी रिश्ते भी सिद्ध हो चुके हैं। जांच में ये भी बात सामने आयी है कि वीडियोकॉन को कर्ज देने के बाद वीडियोकॉन ने दीपक कोचर की कंपनी में पैसा ट्रांसफर किया था।

  • ED chanda kochar icici bank venugopal dhoot videocon bad loan summon

    NewsApr 23, 2019, 5:26 PM IST

    ईडी ने चंदा कोचर और उनके पति को फिर किया तलब, दिल्ली में बयान दर्ज कराने के दिए आदेश

    ईडी ने चंदा कोचर को 3 मई को दिल्ली में तलब किया है जबकि उनके भाई राजीव और पति दीपक को 30 अप्रैल को इस मामले में जांच अधिकारी के सामने पेश होने का आदेश दिया है। ईडी ने इन दोनों आरोपियों को धनशोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत अपने बयान दर्ज कराने के आदेश दिए हैं। ईडी ने आज बैंक, चंदा कोचर और उनके पति दीपक कोचर को समन जारी किया है।

  • More trouble for Chanda Kochhar and Videocon's Venugopal Dhoot, directors may face prosecution

    NewsMar 8, 2019, 7:39 PM IST

    आईसीआईसीआई-वीडियोकॉन केसः कार्पोरेट मंत्रालय की रिपोर्ट तैयार, चंदा कोचर, धूत की मुश्किलें और बढ़ेंगी

    जांच से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, 'इस बात के पर्याप्त साक्ष्य हैं कि लोन पास करते समय चंदा कोचर की मंशा सही नहीं थी। इस दौरान हुआ लेनदेन भी जांच के घेरे में है।'