Dragon  

(Search results - 17)
  • <p><strong>2- भारत चीन को चुनौती देने के लिए तैयार</strong><br />
कोरोना के बीच तमाम कंपनियां चीन से बाहर आना चाहती हैं। तमाम मीडिया रिपोर्ट्स में यह दावा किया गया है कि ये कंपनियां भारत में आना चाहती हैं। इस पर चीन ने कहा था कि भारत चीन की जगह लेने की कोशिश कर रहा है, लेकिन वह सफल नहीं होगा। दरअसल, चीन की चिंता इसलिए बढ़ गई, क्यों कि जर्मनी की एक जूता कंपनी ने चीन ने व्यापार समेटकर उत्तर प्रदेश में प्लांट शिफ्ट करने का ऐलान किया है।&nbsp;</p>

    News27, May 2020, 3:47 PM

    फिर ड्रैगन को मिलेगी शिकस्त, तैयार है टीम डोकलाम

    असल में चीन लद्दाख के दौलत बेग ओल्डी (डीबीओ) सेक्टर में भारत द्वारा किए जा रहे निर्माण को रोकना चाहता है। इसके जरिए चीन अपनी ताकत का एहसास कराना चाहता है।  लेकिन भारत ने साफ कर दिया है कि वह किसी के दबाव में नहीं आएगा और निर्माण कार्य को जारी रखेगा। असल में चीन को लगता है कि भारत के निर्माण से अक्साई चिन के लहासा-काशगर हाईवे को खतरा हो सकता है।

  • <p><strong>पहला बयान: 19 मई- ज्यादा केस सम्मान के तमके के जैसा</strong><br />
अमेरिकी राष्ट्रपति ने मंगलवार को कहा, अमेरिका में दुनियाभर की तुलना में सबसे ज्यादा केस होना सम्मान की बात है। उन्होंने व्हाइट हाउस में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, जब लोग कहते हैं कि हम संक्रमण के मामले में सबसे आगे हैं। तो इसमें मुझे बुरा नहीं लगता। इसका मतलब साफ है कि हमने अन्य देशों की तुलना में सबसे ज्यादा टेस्टिंग की। यह अच्छी बात है कि हमारी टेस्टिंग अन्य देशों से बेहतर है। यह हमारे लिए सम्मान के तमगे के बराबर है।&nbsp;</p>

    News27, May 2020, 12:45 PM

    ड्रैगन की बढ़ने वाली हैं मुश्किलें ट्रंप ने किया इशारा, आर्थिक तौर पर कंगाल हो सकता चीन

    अमेरिका मानता है कि चीन ने साजिश के तहत कोरोना को दुनिया भर में फैलाया। वहीं अभी तक सबसे ज्यादा नुकसान अमेरिका को हुआ है। अमेरिका आर्थिक तौर पर कमजोर हुआ है जबकि चीन आर्थिक तौर पर मजबूत हुआ है। लिहाजा अमेरिका चीन को बढ़ा झटका देने की तैयार में है। ट्रंप ने चीन को लेकर इस हफ्ते तक बड़ी घोषणा करने का वादा किया हैं। 

  • <p>यूपी के अपर मुख्य सचिव, वित्त विभाग संजीव मित्तल की तरफ से प्रदेश के सभी अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव, सचिव और सभी विभागाध्यक्षों को निर्देश जारी किए हैं। इन निर्देशों में कहा गया है कि प्रदेश में लॉकडाउन घोषित होने से सरकार के राजस्व में अप्रत्याशित कमी आई है। कोरोना महामारी की रोकथाम और जनहित के अन्य कार्यों के लिए संसाधनों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित किया जाना आवश्यक है। इस स्थिति में वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं।&nbsp;</p>

    News19, May 2020, 12:03 PM

    योगी आदित्यनाथ ने जाने कैसे दिया ड्रैगन को बड़ा झटका, मुंह से निकाल लाए अरबों का निवेश

    भारत की जूता निर्यातक कंपनी आई ट्रैक और जर्मनी की कंपनी कासा ऐवर जिम्ब के बीच कारोबारी करार हुआ है। इसके मुताबिक ऐवर जिम्ब भारत में अपने कारोबार को स्थापित करेंगी और इसके लिए कंपनी ने प्लांट को लगाने के लिए आगरा को चुना है। असल में उत्तर प्रदेश के आगरा को फुटवेयर इंडस्ट्री का हब माना जाता है और देश और दुनिया की कई बड़ी कंपनियां ब्रांड आगरा में प्रोडक्शन कर रही है।

  • <p>जिनपिंग</p>

    News18, May 2020, 12:37 PM

    'चक्रव्यूह' में फंसेगा 'ड्रैगन', 62 देशों ने चीन के खिलाफ खोला मोर्चा

    अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने डब्लूएचओ के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है और  उन्होंने डल्लूएचओ को चीन के हाथों की कठपुतली बताया है। असल में अभी तक डब्लूएचओ ने चीन के खिलाफ किसी भी तरह की कार्यवाही नहीं की है। जबकि दुनिया के ज्यादातर देश चीन पर कोरोना संक्रमण फैलाने का आरोप लगा रहे हैं।  

  • harari

    News28, Apr 2020, 2:12 PM

    ड्रैगन को लगने वाला है झटका, भारत में आ सकती हैं चीनी कंपनियां

    मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक चीन से करीब 1000 कंपनियां वहां से रूख करने की योजना बना रही है।  ये कंपनियां कोरोना संकट के बीच अपना कारोबार सिमटा कर अन्य देश में इसे स्थापित करने की योजना बना रहे हैं।  भारत इन कंपनियों को विदेशी निवेश की नीतियों में बदलाव कर लुभा सकता है। क्योंकि भारत की तुलना में चीन ने कंपनियों को अच्छी सुविधाएं दी हैं।  

  • undefined

    News18, Apr 2020, 6:39 PM

    अर्थव्यवस्था में सेंध लगाने की ड्रैगन चाल को मोदी सरकार ने किया नाकाम, जानें कैसे

    असल में चीन विभिन्न देशों की गिरी हुई अर्थव्यवस्था में निवेश कर उसमें अपनी पकड़ बनाना चाहता है। वह कई देशों में अपनी कंपनियों के जरिए निवेश कर रहा है। ताकि कभी भी  उन देशों की अर्थव्यवस्था को खराब कर सके। यही साजिश ड्रैगन ने भारत में की। लेकिन समय रहते भारत सरकार उसकी ये साजिश भांप गई और निवेश के नियमों को बदल दिया।

  • China raised Kashmir issue in UNSC for PAK, no country in the world gave support kps

    News1, Feb 2020, 11:21 AM

    पाकिस्तान को नहीं बचा पाएगी नियाजी और ड्रैगन की चालबाजी !

    फिलहाल पाकिस्तान की नियाजी सरकार ने एक बार फिर एफएटीएफ के सामने झूठ बोला। हालांकि एफएटीएफ की एपीजी संस्था पहले ही पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट कर चुकी है। लेकिन पाकिस्तान हर बार की तरह चीन बचा रहा है। लेकिन बीजिंग में चीन इस बार लाख चाहने के बावजूद किसी भी तरह की मदद नहीं कर सका। हालांकि उसने भी पाकिस्तान के पक्ष में कई तरह की दलील पेश की थी।

  • India said to Pakistan Kidnapped Hindu girls should be freed immediately kps

    News25, Jan 2020, 8:09 AM

    ड्रैगन की चाल के बावजूद आतंक पर पाक को नहीं मिलेगी ‘रियायत’

    बीजिंग में हुई एफएटीएफ की एपीजी ग्रुप की बैठक में चीन ने पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट से बाहर निकालने की कोशिश की थी और कहा था कि पाकिस्तान में आतंक के खिलाफ एक्शन लिया जा रहा है। बीजिंग में 23 फरवरी को ही एफएटीएफ की एशिया पैसिफिक ग्रुप की बैठक हुई है। जिसकी अध्यक्षता इस बार चीन ने की है।

  • China raised Kashmir issue in UNSC for PAK, no country in the world gave support kps

    News24, Jan 2020, 7:49 AM

    ड्रैगन की चाल से एफएटीएफ की ग्रे लिस्ट से निकल सकता है पाक

    माना जा रहा है कि चीन पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट से बाहर निकल सकता है। बीजिंग में हो रही एफएटीएफ की बैठक की अगुवाई इस बार चीन ही कर रहा है और वह इस बैठक का अध्यक्ष है। कश्मीर समेत तमाम मुद्दों पर पाकिस्तान के पक्ष में खड़ा रहने वाला चीन अब पाकिस्तान को एफएटीएफ की ग्रे लिस्ट से बाहर निकालने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपना रहा है। 

  • Now Imran Khan will take refuge in Tantric Bushra Bibi

    News23, Jan 2020, 10:54 AM

    ब्लैक लिस्ट से बचने के लिए पाकिस्तान का नया पैंतरा, आका 'ड्रैगन' चल सकता है नापाक नई चाल

    पाकिस्तान पर आर्थिक संकट मंडराया हुआ है। क्योंकि टेरर फंडिंग और मनी लॉन्ड्रिंग पर नज़र रखने वाले फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स ने उसे  ग्रे लिस्ट में डाला हुआ है। एफएटीएफ ने साफ किया है कि अगर उनसे अपने देश में अगर आतंकी कैंपों को बंद नहीं किया तो उसे ब्लैक लिस्ट में शामिल कर दिया जाएगा। जिसके बाद पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं से कर्ज मिलना मुश्किल हो जाएगा।

  • Learn why the dragon is becoming the 'Baisakhi' of the pauper Pakistan

    News31, Oct 2019, 8:55 AM

    जानें क्यों ड्रैगन बन रहा है कंगाल पाकिस्तान की ‘बैसाखी’

    फिलहाल चीन की पूरी कोशिश है कि पाकिस्तान को फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स यानी एफएटीएफ की ग्रे सूची से निकाला जाए और उसे ब्लैक लिस्ट होने से बचाया जाए। इस महीने चीन, मलेशिया और तुर्की के कारण पाकिस्तान ब्लैक लिस्ट में जाने से बच गया है। जबकि अगर ये तीन देश पाकिस्तान का साथ नहीं देते तो पाकिस्तान ब्लैक लिस्ट में होता। 

  • undefined

    News20, Oct 2019, 1:20 PM

    पाकिस्तान ने की चीन से उइगर मुस्लिमों की किस्मत की डील, तभी ड्रैगन ने दिया बड़ा इनाम

    पाकिस्तान को एफएटीएफ ब्लैकलिस्ट करने का फैसला करीब करीब कर चुका था। लेकिन पाकिस्तान के आका चीन और उसके दो दोस्त तुर्की और मलेशिया ने उसे बचा लिया है। क्योंकि एफएटीएफ की एशिया पैसिफिक ग्रुप ने पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट में पहले से ही रख दिया था। लेकिन पाकिस्तान के इन दोस्तों ने उसे बचा लिया। हालांकि ग्रे लिस्ट में रहने की वजह से पाकिस्तान को अगले चाल महीने में 2.66 लाख करोड़ पाकिस्तानी रूपये का नुकसान तो होगा ही।

  • Doklam

    News16, Oct 2019, 8:04 AM

    जानें क्यों सीमा पर सैनिकों की ट्रेनिंग करा रहा है ड्रैगन

    भारत और चीन के सैनिक एक-दूसरे को आमने-सामने देख सकते हैं। क्योंकि चीन ने सीमा पर अपने सैनिकों का जमावड़ा कर लिया है और वह सैनिकों को विभिन्न तरीके की ट्रेनिंग भी दे रहा है। हालांकि इसे चीन का माइंड गेम बताया जा रहा है। ताकि वह भारत पर मनोवैज्ञानिक दबाव बना सके। माना जा रहा है कि भारत और चीन के बीच डोकलाम विवाद के बाद चीन ने फिर इस तरह का फैसला लिया है। 

  • imran khan speech in pakistan

    News4, Oct 2019, 9:13 AM

    ऐसे तो “ड्रैगन” का गुलाम हो जाएगा पाकिस्तान

    आईएमएफ की रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान बेल्ट ऐंड रोड के प्रोजेक्ट के लिए चीन से कर्ज लेकर फंस गया है। क्योंकि इसके कारण पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति और ज्यादा खराब हो गई है। वहीं कर्ज के संकट से निपटने के लिए वह लगातार फिर से कर्ज ले रहा है। जिसके कारण पाकिस्तान कर्ज के दलदल में फंसता जा रहा है। आईएमएफ की रिपोर्ट के मुताबिक  पाकिस्तान को जून 2022 तक चीन को 6.7 अरब डॉलर की रकम चुकानी है।

  • undefined

    News2, Oct 2019, 4:13 PM

    चिनपिंग की पीएम मोदी की मुलाकात से पहले इमरान जाएंगे ड्रैगन की शरण में

    चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग अक्टूबर में भारत की यात्रा में आ रहे हैं। चिनफिंग प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से चेन्नई के महाबलीपुरम में अनौपचारिक मुलाकात करेंगे। हालांकि इससे पहले पाकिस्तान के पीएम इमरान खान चीन के दरवाजे पर अपना दुखड़ा सुनाने फिर जाएंगे। हालांकि पाकिस्तान कश्मीर के मुद्दे को चीन के सामने पहले भी उठा चुका है और हालांकि चीन ने उसका साथ दिया है। लेकिन इस बार इमरान खान स्वयं वहां जाकर मदद की गुहार लगाएंगे।