Mayawati  

(Search results - 174)
  • undefined

    News13, Feb 2020, 6:15 AM IST

    पोस्टरवार के बीच प्रियंका पहुंची आजमगढ़, माया के बाद अब अखिलेश के निशाने पर

    प्रियंका गांधी समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ में 5 फरवरी को पुलिस की कार्रवाई में घायल हुए प्रदर्शनकारियों से मिलने के लिए पहुंची। ये प्रदर्शन कारी नागरिकता कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। लेकिन अभी तक अखिलेश यादव इन लोगों से मिलने के लिए नहीं पहुंचे हैं।

  • mayawati

    News10, Feb 2020, 6:48 AM IST

    जानें क्यों प्रियंका के यूपी दौरे से माया हुई बैचेन, किया हमला

    प्रियंका गांधी ने संत रविदास की जयंती पर वाराणसी में मंदिर का दौरा किया। जिसके बाद बसपा खेमें में बैचेनी बढ़ गई। हालांकि प्रियंका गांधी और मायावती के बीच काफी अरसे से बयानबाजी चल रही है। लेकिन रविवार को ये और ज्यादा तेज हो गई। क्योंकि मायावती ने एक के बाद एक तीन बार सोशल मीडिया में प्रियंका गांधी पर निशाना साधते हुए हमला किया।

  • undefined

    News26, Jan 2020, 8:14 AM IST

    मायावती ने लोकसभा में बनाया रिकार्ड, एक साल में बदले पांच नेता

    लोकसभा चुनाव में बसपा को मुस्लिमों ने काफी संख्या में वोट दिया और उसके तीन मुस्लिम सांसद भी चुनाव जीतने में कामयाब रहे। जिसके बाद मायावती को लगा कि मुस्लिमों के बल पर वह राज्य की सत्ता पर काबिज हो सकती है। लिहाजा उसने कुछ समय पहले ही लोकसभा में पार्टी का नेता दानिश अली को नियुक्त किया। दानिश अली अमरोहा से लोकसभा सांसद हैं और पहले जनता दल सेकुलर के महासचिव हुआ करते थे।

  • undefined

    News21, Jan 2020, 3:25 PM IST

    सीएए का विरोध करने वालों को शाह की दो टूक, किसी भी कीमत पर वापस नहीं होगा कानून

    अमित शाह ने कहा कि विपक्ष नागरिकता कानून का विरोध कर रहा है। और दुष्प्रचार फैला रहा है। लेकिन इस कानून से किसी की नागरिकता नहीं जाएगी। उन्होंने कहा कि विपक्षी दल दुष्प्रचारऔर भ्रम फैला रहे हैं और भाजपा इसको सच्चाई बताने के लिए जन जागरण अभियान चला रही है।

  • undefined

    News15, Jan 2020, 5:04 PM IST

    बबुआ अखिलेश ने बुआ मायावती को कहा ‘हैप्पी बर्थडे’

    बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती का आज 64वां जन्मदिन है और पार्टी उनका जन्मदिन मना रही है और उन्हें बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। लेकिन इसी बीच समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मायावती को जन्मदिन की बधाई दी है। 

  • undefined

    News13, Jan 2020, 8:20 AM IST

    बसपा फिर देगी विपक्षी दलों को झटका, जानें माया ने क्या लिया फैसला

    कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों की कोशिश है कि नागरिकता कानून को लेकर केन्द्र सरकार पर दबाव बनाया जाए। ताकि वह इस कानून को वापस ले। हालांकि अभी तक केन्द्र सरकार किसी भी मामले में पीछे हटने के लिए तैयार नहीं है। वहीं विपक्षी दल सरकार पर दबाव बनाने के लिए विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। 

  • NSG

    News13, Jan 2020, 8:11 AM IST

    मुलायम, माया को झटका देने की तैयारी में केन्द्र सरकार, घटेगा रूतबा

    केन्द्र सरकार ने कुछ दिन पहले ही गांधी परिवार से एसपीजी की सुरक्षा वापस ली है। वहीं अब केन्द्र सरकार ने वीआईपी सुरक्षा में बदलाव करने का फैसला किया है। वीआईपी की सुरक्षा में तैनात एनएसजी कमांडो को हटाकर उन्हें आंतकवाद विरोधी अभियानों के लिए लगाया जाएगा। 

  • undefined

    News12, Jan 2020, 11:33 AM IST

    जानें क्यों प्रियंका पर ज्यादा आक्रामक हो रही हैं माया

    मायावती ने एक बार फिर आक्रामक तौर से कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा निशाना साधा है। मायावती ने साफ तौर पर कहा कि वह कोटा में मारे गए नवजात बच्चों पर शोक मनाने के लिए वहां नहीं जा सकती हैं। क्योंकि वहां पर कांग्रेस की सरकार है। प्रियंका गांधी जयपुर में कांग्रेस नेता के बेटे की शादी में जा सकती हैं लेकिन वह समय निकाल कर कोटा नहीं जा सकती हैं।

  • priyank gandhi

    News5, Jan 2020, 8:06 AM IST

    आखिर प्रियंका गांधी की सक्रियता से क्यों डरे हैं अखिलेश और माया

    प्रियंका गांधी की लगातार उत्तर प्रदेश में सक्रिय हो रही हैं। जो राज्य की सत्ताधारी भाजपा के साथ ही समाजवादी पार्टी  और बहुजन समाज पार्टी को खटक रही है। क्योंकि राज्य में अभी कांग्रेस कमजोर स्थिति में है और कांग्रेस के मजबूत होने इन दोनों दलों की ही सीधेतौर पर नुकसान होगा। हालांकि अभी पिछले साल मई में हुए लोकसभा चुनाव में प्रियंका गांधी का कोई भी दांव नहीं चला। जबकि प्रियंका गांधी ने राज्य में कई रैलियां की है और जनता को लुभाने के लिए प्रियंका मंदिर से लेकर मजार तक में गई।

  • BSP commencing new strategy to damage SP muslim voters

    News3, Dec 2019, 12:40 PM IST

    अम्बेडकर के जरिए दलितों को साधने के लिए सपा-बसपा में शुरू हुई जंग

    असल में इस साल की शुरूआत में सपा के बैनर और पोस्टरों में आम्बेडर और काशीराम की तस्वीरें दिखाई दी थी तो बसपा के पोस्टर में राममनोहर लोहिया की तस्वीरें दिखाई गई थी। क्योंकि लोकसभा चुनाव के लिए सपा और बसपा के बीच चुनावी गठबंधन हुआ था। दोनों दलों ने लोकसभा चुनाव साथ लड़ा था। लेकिन चुनाव के बाद आए परिणाम में बसपा को दस और सपा को पांच सीटें मिली। 

  • Story of Mulayam-Mayawati relation see through pictures

    News8, Nov 2019, 8:47 AM IST

    गेस्ट हाउस कांड को लेकर फिर 'मुलायम' हुईं माया

    इस साल लोकसभा चुनाव में करीब ढाई दशक के बाद मुलायम सिंह यादव और बसपा प्रमुख मायावती एक ही मंच पर दिखे। मायावती ने मुलायम सिंह के लिए मैनपुरी में वोट भी मांगे और मुलायम ने मायावती की जमकर तारीफ की। लोकसभा चुनाव से पहले गठबंधन बनाकर दोनों दलों इतिहास तो रचा लेकिन ये ज्यादा दिन नहीं चला। 

  • undefined

    News7, Nov 2019, 8:37 AM IST

    जानें क्यों उपचुनाव हार के बाद माया ने फिर भंग की सभी जिला इकाइयां

    लोकसभा चुनाव में मिली दस सीटों से गदगद मायावती ने पार्टी संगठन में फेरबदल किया था। लेकिन महज छह महीने में ही विधानसभा उपचुनाव में बसपा को करारी हार मिली है। पार्टी एक भी सीट नहीं जीत पाई है वहीं अंबेडकरनगर की सीट में पार्टी को हार मिली है। यही नहीं रामपुर में पार्टी के प्रत्याशी की जमानत भी नहीं बची है। जिसके बाद मायावती ने फिर से संगठन में बदलाव किया है। 

  • mayawati

    News25, Oct 2019, 8:28 AM IST

    क्या पहली बार उपचुनाव में उतरकर माया ने की गलती, गढ़ को भी नहीं बचा पाई बसपा

    बहुजन समाज पार्टी के इतिहास में मायावती ने पहली बार उपचुनाव में किस्मत को आजमाने का फैसला किया था। बसपा इससे पहले कभी उपचुनाव नहीं लड़ी बल्कि वह उपचुनाव के जरिए जनता का  मूड भांपने का काम करती थी। लेकिन पहली बार मायावती की अगुवाई में पार्टी ने राज्य की 11 सीटों पर प्रत्याशियों को उतारे। हालांकि पार्टी ये मान कर चल रही थी कि लोकसभा चुनाव के प्रदर्शन का फायदा उसे मिलेगा। लेकिन बसपा को हार का सामना करना पड़ा। 

  • undefined

    News19, Oct 2019, 8:50 AM IST

    भाजपा को छोड़ चुनाव प्रचार के मैदान से गायब हैं दिग्गज

    आज चुनाव प्रचार का आखिरी दिन है। ये उपचुनाव सभी राजनैतिक दलों के लिए काफी अहम हैं। खासतौर से भाजपा और सपा के लिए। लेकिन दिलचस्प ये है कि प्रचार से ज्यादातर बड़े नेताओं में दूरी बनाकर रखी है। जबकि भाजपा ने सभी स्टार प्रचारकों को मैदान में उतारा है।

  • पूर्व आईएएस अधिकारी नेतराम

    News25, Sep 2019, 2:30 PM IST

    दो लाख महीना कमाने वाले माया के पूर्व प्रमुख सचिव की 230 करोड़ की 'बेनामी' संपत्ति जब्त

    असल में कुछ महीने पहले आयकर विभाग ने नेतराम के प्रतिष्ठानों में छापे मारे थे। जहां से उनकी अघोषित संपत्ति के बारे में आयकर विभाग को जानकारी मिली थी। इसके बाद ईडी ने भी नेतराम से पूछताछ की थी। हालांकि नेतराम को गिरफ्तार नहीं किया गया। लेकिन आयकर विभाग ने बेनामी संपत्ति लेन-देन निषेध कानून, 1988 की धारा 24(तीन) के तहत कार्यवाही की है। नेतराम उत्तर प्रदेश कैडर के वरिष्ठ आईएएस अफसर थे और वह कई सालों से गन्ना और चीनी विकास विभाग में प्रमुख सचिव भी रहे।