Mulayam Singh  

(Search results - 92)
  • Amar Singh was like this, when drunk Mani Shankar Iyer was beaten fiercelyAmar Singh was like this, when drunk Mani Shankar Iyer was beaten fiercely

    NewsAug 1, 2020, 8:34 PM IST

    ...ऐसे थे अमर सिंह, जब नशे में धुत मणिशंकर अय्यर की कर दी थी जमकर पिटाई

    दिल्ली की सत्ता में कभी अमर सिंह को समाजवादी पार्टी का चेहरा और सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव का दाहिना हाथ माना जाता था। अमर सिंह की सभी दलों में पकड़ थी और वह दिल्ली में सरकार बनाने के लिए किंगमेकर माने जाते थे। 

  • Has Akhilesh written the script of Shivpal's return to SPHas Akhilesh written the script of Shivpal's return to SP

    NewsMay 29, 2020, 1:40 PM IST

    क्या अखिलेश ने लिख दी है शिवपाल की सपा में वापसी की स्क्रिप्ट!

    असल में सपा ने 4 सितंबर, 2019 को पार्टी विधायक शिवपाल सिंह यादव की सदस्यता की अयोग्यता के लिए उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष को पत्र लिखा था और इसके बाद 23 मार्च को सपा ने अध्यक्ष को एक और पत्र लिखकर अपने याचिका को वापस लेने  की बात कही थी। लिहाजा अब सपा के अनुरोध पर इसे वापस ले लिया गया है।

  • Mulayam family can be united again, Shivpal may again be sp memberMulayam family can be united again, Shivpal may again be sp member

    NewsMar 25, 2020, 6:51 PM IST

    फिर एकजुट हो सकता है मुलायम परिवार, शिवपाल फिर हो सकते हैं सपाई

    हालांकि होली में एक नजरा देखा गया था जिसमें मुलायम का परिवार दो साल के बाद एक जुट दिखा था। हालांकि कार्यकर्ताओं द्वारा अखिलेश शिवपाल जिंदाबाद के नारे को लेकर अखिलेश यादव नाराज हो गए थे। होली के बाद मुलायम सिंह के पैतृक गांव सैफई में अखिलेश व शिवपाल दोनों एक ही मंच पर दिखे थे।

  • Samajwadi Party to raise 22 issues on 22nd of every monthSamajwadi Party to raise 22 issues on 22nd of every month

    NewsMar 15, 2020, 10:57 AM IST

    भाजपा को 22 से घेरेगी सपा, फिलहाल शिवपाल पर नहीं हुआ फैसला

    सपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक आगामी चुनाव के लिए रणनीति तैयार की गई है। जिसके तहत पार्टी जिला स्तर पर ब्लाक स्तर पर भाजपा सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेगी।  पार्टी के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा राज्य सरकार ने झूठे वादे करके लोगों को धोखा दिया है। सपा ने  फैसला किया है कि पार्टी के नेता और कार्यकर्ता 22 तारीख को विरोध प्रदर्शन करेंगे।

  • Netaji had cheated Shivpal Yadav, Shivpal hauntedNetaji had cheated Shivpal Yadav, Shivpal haunted

    NewsJan 19, 2020, 6:40 PM IST

    नेताजी ने दिया था शिवपाल यादव को धोखा, शिवपाल ने किया इशारा

    समाजवादी पार्टी से अलग होकर दो साल पहले पार्टी बनाने वाले शिवपाल सिंह की यादव की पार्टी हालांकि लोकसभा चुनाव में कोई खास करिश्मा नहीं दिखा सकी। लेकिन कई सीटों पर उसने सपा को हराने में अहम भूमिका भी निभाई। शिवपाल सिंह यादव फिरोजाबाद से सपा प्रत्याशी और अपने भतीजे अक्षय यादव के खिलाफ चुनाव लड़े थे। लेकिन शिवपाल को हार का सामना करना पड़ा। 

  • Babua Akhilesh said to Bua Mayawati 'Happy Birthday'Babua Akhilesh said to Bua Mayawati 'Happy Birthday'

    NewsJan 15, 2020, 5:04 PM IST

    बबुआ अखिलेश ने बुआ मायावती को कहा ‘हैप्पी बर्थडे’

    बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती का आज 64वां जन्मदिन है और पार्टी उनका जन्मदिन मना रही है और उन्हें बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। लेकिन इसी बीच समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मायावती को जन्मदिन की बधाई दी है। 

  • Mulayam, the central government in preparation to shock Maya, will reduce the statusMulayam, the central government in preparation to shock Maya, will reduce the status

    NewsJan 13, 2020, 8:11 AM IST

    मुलायम, माया को झटका देने की तैयारी में केन्द्र सरकार, घटेगा रूतबा

    केन्द्र सरकार ने कुछ दिन पहले ही गांधी परिवार से एसपीजी की सुरक्षा वापस ली है। वहीं अब केन्द्र सरकार ने वीआईपी सुरक्षा में बदलाव करने का फैसला किया है। वीआईपी की सुरक्षा में तैनात एनएसजी कमांडो को हटाकर उन्हें आंतकवाद विरोधी अभियानों के लिए लगाया जाएगा। 

  • Akhilesh Yadav opposes NRC, Mulayam's daughter-in-law is supportingAkhilesh Yadav opposes NRC, Mulayam's daughter-in-law is supporting

    NewsJan 10, 2020, 8:35 AM IST

    अखिलेश यादव कर एनआरसी का विरोध तो मुलायम की बहू कर रही है समर्थन

    अपर्णा ने कहा  कि इस मुद्दे पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए और उदारवादी नेताओं को समझना चाहिए कि यह राष्ट्र हित में किया गया कार्य है। हालांकि इससे पहले भी अपर्णा केन्द्र सरकार के समर्थन में खुलकर आई थी। वहीं आजम प्रकरण में भी अपर्णा यादव ने पार्टी के खिलाफ बयान दिया था। लेकिन उसके बावजूद अभी तक अखिलेश यादव अपर्णा के खिलाफ किसी भी तरह की कार्यवाही नहीं कर सके हैं।

  • Yadav family may have big announcement on 22 NovemberYadav family may have big announcement on 22 November

    NewsNov 21, 2019, 8:25 AM IST

    यादव परिवार में 22 नवंबर को हो सकता है बड़ा ऐलान

    हालांकि किसी ने इस मामले को लेकर औपचारिक बयान नहीं दिया है। लेकिन लग रहा है कि यादव परिवार में लोगों ने इस एकता के लए कोशिशें शुरू कर दी हैं। कुछ समय पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बड़ा देकर सबके चौंका दिया था कि अगर कोई पार्टी में आना चाहता है तो उसका स्वागत है। सपा प्रमुख का ये इशारा शिवपाल सिंह की तरफ थे। लेकिन अब मुलायम सिंह और सपा को लेकर नरम हो रहे हैं। शिवपाल ने दो दिन पहले इटावा में कहा कि वह भी चाहते हैं कि परिवार में एकता हो।

  • Learn why Shivpal is becoming soft for AkhileshLearn why Shivpal is becoming soft for Akhilesh

    NewsNov 20, 2019, 7:00 AM IST

    जानें क्यों अखिलेश के लिए मुलायम हो रहे हैं शिवपाल

     शिववाल ने इटावा में बड़ा बयान देते हुए कहा कि वह वे सपा से गठबंधन को तैयार हैं। लिहाजा अब अखिलेश को भी इस बात के लिए तैयार हो जाना चाहिए। लेकिन यहां पर शिवपाल ये भी कहना नहीं भुले कि राज्य में सीएम अखिलेश यादव ही होंगे। शिवपाल ने कहा कि उन्होंने कभी नहीं कहा कि उन्हें प्रदेश का सीएम बनना है। बल्कि वह अखिलेश के लिए ही कहते थे कि उन्हें प्रदेश का सीएम होना चाहिए। लिहाजा प्रदेश का अगला सीएम अखिलेश ही होंगे। 

  • Know why Maya became 'soft' again regarding guest house scandalKnow why Maya became 'soft' again regarding guest house scandal

    NewsNov 8, 2019, 8:47 AM IST

    गेस्ट हाउस कांड को लेकर फिर 'मुलायम' हुईं माया

    इस साल लोकसभा चुनाव में करीब ढाई दशक के बाद मुलायम सिंह यादव और बसपा प्रमुख मायावती एक ही मंच पर दिखे। मायावती ने मुलायम सिंह के लिए मैनपुरी में वोट भी मांगे और मुलायम ने मायावती की जमकर तारीफ की। लोकसभा चुनाव से पहले गठबंधन बनाकर दोनों दलों इतिहास तो रचा लेकिन ये ज्यादा दिन नहीं चला। 

  • Yogi met with Mulayam, Shivpal present but Akhilesh missingYogi met with Mulayam, Shivpal present but Akhilesh missing

    NewsOct 30, 2019, 7:58 PM IST

    मुलायम से मिले योगी, शिवपाल मौजूद लेकिन अखिलेश रहे गायब

    अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की समाजवादी पार्टी के संरक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव से मुलाकात काफी अहम मानी जा रही है। क्योंकि किसी दौर में मुलायम भी राम मंदिर बाबरी मस्जिद को लेकर विवादों में रहे और उन्होंने अयोध्या में कार सेवकों पर गोली चलाई थी और उसके बाद उन्होंने खुद को मुल्ला मुलायम सिंह कहना पसंद किया था। 

  • Shivpal gives shock to Akhilesh, 'Mulayam' about familyShivpal gives shock to Akhilesh, 'Mulayam' about family

    NewsOct 1, 2019, 8:36 AM IST

    शिवपाल ने दिया अखिलेश को झटका, परिवार को लेकर हुए ‘मुलायम’

    प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने सपा और अखिलेश यादव के प्रति नरमी दिखाते हुए कहा कि सपा के लिए अभी भी समय है। उन्होंने कहा कि वह परिवार के लिए फैसला कर सकते हैं। लेकिन उनकी पार्टी का सपा में विलय नहीं बल्कि सपा के साथ चुनावी गठबंधन हो सकता है। शिवपाल ने कहा कि छह महीने पहले लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने इसके लिए कोशिश भी की थी। लेकिन घर के ही षड़यंत्रकारियों ने ऐसा नहीं होने दिया।

  • Akhilesh will be able to declare Shivpal as 'Bahubali' by taking Ram Gopal and Azam's power!Akhilesh will be able to declare Shivpal as 'Bahubali' by taking Ram Gopal and Azam's power!

    NewsSep 30, 2019, 10:33 AM IST

    रामगोपाल और आजम की बली लेकर शिवपाल को ‘बाहुबली’ घोषित कर सकेंगे अखिलेश!

    रविवार को ही सपा के विधानसभा में नेता रामगोविद चौधरी ने बयान दिया है कि अगर शिवपाल अपनी पार्टी का सपा में विलय करा लें तो उनकी विधानसभा की सदस्यता बरकरार रह सकती है। वहीं कुछ दिन पहले अखिलेश ने खुलेतौर पर बयान दिया था कि अगर कई पार्टी में आना चाहता है तो उसका स्वागत है। जब उनसे पूछ गया कि शिवपाल को भी पार्टी में लिया जा सकता है तो उन्होंने कहा कि सपा में लोकतंत्र है। ये नियम सबके लिए लागू है।

  • Then Akhilesh again disown Mulayam demand, will daughter-in-law rebelThen Akhilesh again disown Mulayam demand, will daughter-in-law rebel

    NewsSep 29, 2019, 10:14 AM IST

    फिर अखिलेश ने मुलायम को दिखाया ठेंगा, क्या बहू करेगी बगावत

    असल में कैंट सीट को भाजपा का गढ़ माना जाता है। हालांकि अभी तक भाजपा ने किसी को प्रत्याशी नहीं बनाया है। सपा ने यहां से मेजर आशीष चतुर्वेदी को टिकट दिया है। जबकि यहां से मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू टिकट पर दावेदारी कर रही थी। क्योंकि यहां पर 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में अपर्णा को मुलायम की सिफारिश पर अखिलेश यादव ने टिकट दिया था।