Ram Mandir  

(Search results - 67)
  • undefined

    Nation20, Feb 2020, 3:35 PM IST

    क्या अयोध्या का राम मंदिर तोड़ देगा वेटिकन और मक्का का रिकॉर्ड?

    नमस्कार स्वागत है आपका माय नेशन में, मेरा नाम है अमल चौधरी और आज हम बात करेंगे कि कैसे श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट राम मंदिर को दुनिया का सबसे बड़ा सनातन धर्म केंद्र बनाने की कोशिशों में लगा हुआ है. श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की 15 दिन बाद होने वाली बैठक में राम मंदिर निर्माण की तारीख पर फैसला लिया जाएगा। यह बैठक एकादशी के दिन होनी है। ट्रस्ट चाहता है कि अयोध्या में राम मंदिर क्षेत्र दुनिया के सबसे बड़ा सनातन धर्म केंद्र बने। सूत्रों ने बताया कि ट्रस्ट के सदस्य चाहते हैं कि राम मंदिर क्षेत्र का विस्तार वेटिकन सिटी और मक्का की मस्जिद से ज्यादा इलाके में किया जाए।

  • undefined

    News20, Feb 2020, 7:28 AM IST

    राम मंदिर निर्माण के लिए पीएम मोदी के खास अफसर को मिली जिम्मेदारी

    राम मंदिर ट्रस्ट के पदाधिकारियों की बैठक हुई थी। जिसमें मिश्रा को इस पद पर नियुक्त किया गया है। उनका जिम्मा राम मंदिर निर्माण का होगा। वहीं महंत नृत्य गोपाल दास राम मंदिर तीर्थ ट्रस्ट की पहली बैठक में अध्यक्ष और विहिप के अंतरराष्ट्रीय महासचिव चंपत राय को महासचिव चुना गया है।

  • undefined

    News18, Feb 2020, 2:20 PM IST

    राम भक्तों के लिए अच्‍छी खबर, भारत मैं फिर चलेगी रामायण एक्सप्रेस; जानिए क्या है खासियत

    जल्द ये ट्रेन लॉन्च होने जा रही है जिसका थीम रामायण पर आधारित है। ट्रेन के अंदर का इंटीरियर रामायण की घटना पर आधारित होगा।

  • undefined

    News9, Feb 2020, 11:17 PM IST

    मंदिर निर्माण की तिथि पर 19 फरवरी को लगेगी मुहर, ट्रस्ट की पहली बैठक पर सबकी नजर

    राम की नगरी अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण 2 अप्रैल (रामनवमी) या 26 अप्रैल (अक्षय तृतीया) से शुरू हो सकता है। लिहाजा इसके लिए 19 फरवरी को ट्रस्ट के सदस्यों की अहम बैठक हो रही है। माना जा रहा है कि ट्रस्ट के सदस्य 18 फरवरी का राष्ट्रीय राजधानी में पहुंचना शुरू हो जाएगा।
     

  • undefined

    Nation5, Feb 2020, 7:00 PM IST

    Ram Temple Trust: पीएम मोदी ने राम मंदिर के लिए किया ट्रस्ट का ऐलान

    नमस्कार स्वागत है आपका माय नेशन में, मेरा नाम है अमल चौधरी और आज हम बात करेंगे राम मंदिर के लिए आज ही बनाए गए श्री राम जन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट के बारे में. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा में कहा कि यह ट्रस्ट मंदिर निर्माण के सभी निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र होगा। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं की संख्या को ध्यान में रखते हुए सरकार ने अयोध्या कानून के तहत अधिग्रहीत पूरी सड़सठ एकड़ भूमि नवगठित ट्रस्ट को देने का निर्णय लिया है। साथ ही सुन्नी वक्फ बोर्ड को 5 एकड़ भूमि देने का केंद्र का अनुरोध राज्य सरकार ने स्वीकार कर लिया है।

  • निर्भया केस पर हाईकोर्ट के फैसले से राम मंदिर के लिए बनाए गए ट्रस्ट तक, देखिए माय नेशन के 100 सेकेंड्स में

    News5, Feb 2020, 6:42 PM IST

    निर्भया केस पर हाईकोर्ट के फैसले से राम मंदिर के लिए बनाए गए ट्रस्ट तक, देखिए माय नेशन के 100 सेकेंड्स में

    हाईकोर्ट ने बुधवार को कहा कि निर्भया के चारों दुष्कर्मियों को एक साथ फांसी दी जी सकती है, अलग-अलग नहीं। लेकिन, अदालत ने स्पष्ट कर दिया कि दोषी अब जो भी याचिका दाखिल करना चाहते हैं, 7 दिन के भीतर ही दाखिल करें. अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के 9 नवंबर के फैसले के 88 दिन बाद सरकार ने राम मंदिर बनाने के लिए ट्रस्ट की घोषणा कर दी। इसमें 15 सदस्य होंगे। न्यूजीलैंड ने तीन वनडे की सीरीज के पहले मैच में भारत को 4 विकेट से हरा दिया। भारत ने 50 ओवर में 4 विकेट पर 347 रन बनाए। न्यूजीलैंड ने 48.1 ओवर में 6 विकेट पर 348 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया।

  • undefined

    News1, Jan 2020, 9:07 AM IST

    जानें अयोध्या में कहां बन सकती है प्रस्तावित मस्जिद, योगी सरकार ने चिह्नित की पांच जगहें

    सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद योगी सरकार जमीन को चिन्हित करने की तैयारी में जुट गई थी। हालांकि अभी तक अयोध्या में मुस्लिम पक्ष मस्जिद बनाएगा या नहीं इस पर कोई फैसला नहीं हो सका है।  हालांकि मुस्लिम पक्ष में मस्जिद बनाने के लिए अलग अलग राय है।

  • rajeev dhawan

    News28, Nov 2019, 9:50 AM IST

    सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मामला हारने के बाद मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने दिया विवादित बयान

    फिलहाल अपने ताजा बयान को लेकर सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील राजीव धवन की जबरदस्त आलोचना रही है। धवन सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मामले में मुस्लिम पक्ष और सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील रहे हैं। हालांकि इससे पहले भी राजीव धवन हिंदू और हिंदू धर्म के बारे में कई तरह के बयान दे चुके हैं। 

  • undefined

    News26, Nov 2019, 8:45 AM IST

    अयोध्या में जमीन को लेकर सुन्नी वक्फ बोर्ड की अहम बैठक आज, अस्पताल या मस्जिद पर होगा फैसला

    असल में सुप्रीम कोर्ट के फैसले का विरोध सुन्नी वक्फ बोर्ड कर रहा है और वह इसे एकतरफा फैसला करार दे रहा है। लिहाजा बोर्ड के ज्यादातर सदस्य इस जमीन के खिलाफ हैं। कई मुस्लिम नेता और धर्मगुरु इसे इस्लाम के खिलाफ बता रहे हैं और इस जमीन पर किसी भी तरह की मस्जिद बनाने के खिलाफ हैं। मुस्लिम नेताओं और धर्म गुरुओं का कहना है कि इस जमीन पर मस्जिद की जगह अस्पताल या फिर स्कूल खोला जाना चाहिए। 

  • supreme court,media, ram mandir,distorting, wrong information,ak

    News20, Nov 2019, 10:48 AM IST

    गलत जानकारी तोड़मरोड़ कर पेश कर रहा है बिकाऊ मीडिया

    यह संघर्ष 500 वर्षों से चल रहा है। लगभग अस्सी प्रतिशत आबादी वाले लोगों ने शांति से अपनी मांगों को अंग्रेजों, फिर सरकार और अब न्यायपालिका के सामने रखा। यहां तक कि जब भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने वहां एक मंदिर के अस्तित्व को साबित कर दिया है। फिर भी, कथा को मीडिया के कुछ वर्गों द्वारा पक्षपाती किया गया है। अपने पिछले कुछ ट्वीट्स में राणा अय्यूब और बरखा दत्त की पसंद ने केवल हिंसा को उकसाया है। वे अपनी किताबें और एजेंडा बेचने के लिए दंगे होने का इंतजार करते हैं। 

  • Faith is not just legal but Ayodhya is accepted by the court: Maulana Madani

    News15, Nov 2019, 8:51 AM IST

    अयोध्या मामले में बदल रहे हैं मुस्लिम नेताओं और धर्मगुरुओं के सुर

    सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर अब जमीयत उलेमा-ए-हिंद के प्रमुख का कहना है कि मुस्लिम समाज को अयोध्या में दी जा रही जमीन को नहीं लेना चाहिए। उन्हें अब सुप्रीम कोर्ट के फैसले में खोट नजर रहा है। हालांकि शनिवार को पुर्वविचार याचिका दाखिल करने की बात को खारिज करने वाले सुन्नी वक्फ बोर्ड में इस पर दो फाड़ हो गए हैं। हालांकि बोर्ड ने पहले ही कहा था कि पांच जजों की बेंच जो फैसला सुनाएगी। उसे स्वीकार किया जाएगा।

  • Sunni Waqf

    News11, Nov 2019, 5:54 PM IST

    अयोध्या में पांच एकड़ जमीन पर अस्पताल, स्कूल या फिर मस्जिद, सुन्नी वक्फ बोर्ड जल्द लेगा फैसला

    असल में मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य और सांसद असुद्दीन ओवैसी ने ही सुप्रीम का फैसला आने के बाद साफ कर दिया था कि वह मस्जिद के लिए किसी खैरात की जमीन को नहीं लेंगे। ओवैसी ने कहा कि ये फैसला एक तरफा दिया गया है। हालांकि बोर्ड के अध्यक्ष ने साफ किया कि वह सुप्रीम कोर्ट के फैसले का आदर करते हैं और बोर्ड किसी भी रिव्यू पिटिशन के पक्ष में नहीं है।

  • ayodhya

    News9, Nov 2019, 5:27 PM IST

    सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सवाल उठाने वाले जिलानी और ओवैसी पड़े अलग-थलग, अपनों ने ही किया किनारा

    असल में रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद के अहम पक्षकार रहे सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड उत्तर प्रदेश ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। उन्होंने साफ किया कि बोर्ड सुप्रीम कोर्ट के आज के फैसले के खिलाफ बोर्ड चुनौती नहीं देगा। लिहाजा अब साफ हो गया है कि बोर्ड में जिलानी और ओवैसी अलग-थलग पड़ चुके हैं। हालांकि ओवैसी ने जिस तरह से इस फैसले पर सवाल उठाए, मुस्लिम समाज में ही उनका विरोध शुरू हो गया था।

  • Owaisi says, we don,t want bailout of five acres of land, Supreem court is supreem but not last

    News9, Nov 2019, 2:43 PM IST

    ओवैसी के बिगड़े बोल, कहा मस्जिद के लिए नहीं चाहिए खैरात की जमीन

    हालांकि ये पहले ही माना जा रहा है कि अगर अगर कोर्ट हिंदू पक्ष के फैसला सुनाएगा तो ओवैसी का क्या रूख रहेगा। लिहाजा उन्होंने इसी आधार पर अपना तर्क रखा। हालांकि इससे पहले मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के वकील जफरयाब जिलानी ने भी कोर्ट के फैसले पर सवाल उठाए। जिलानी इस मामले में बोर्ड की तरफ से वकील हैं। जबकि अयोध्या मामले में रहे पक्षकार इकबाल अंसारी ने कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि कई सालों तक चले इस विवाद का अंत हो गया है। लिहाजा वह कोर्ट के फैसला का सम्मान करते हैं। 

  • undefined

    News17, Oct 2019, 8:55 AM IST

    जानें क्यों चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने रद्द किया विदेशी दौरा

    हालांकि रंजन गोगाई ने पहले ही साफ कर दिया था कि राममंदिर विवादित बाबरी मस्जिद मामले को अब और ज्यादा नहीं लटकाया जाएगा। क्योंकि वह चाहते हैं उनके रिटायर होने से पहले ही इस मामले का फैसला हो जाए। लिहाजा माना जा रहा है कि उन्होंने इसके लिए अपने विदेशी दौरे के रद्द कर दिया है। सीजेआई गोगोई को शुक्रवार यानी 18 अक्टूबर को दुबई के लिए उड़ान भरनी थी।