Sharad Pawar  

(Search results - 60)
  • undefined

    News13, Mar 2020, 7:41 AM IST

    प्रियंका होंगी राज्यसभा प्रत्याशी, महाराष्ट्र से मिला टिकट

    कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव के लिए नौ प्रत्याशियों के नाम का ऐलान किया है।  पार्टी ने मध्य प्रदेश से दिग्विजय सिंह और फूल सिंह बरैया, छत्तीसगढ़ से केटीएस तुलसी और फुलो देवी नेताम, झारखंड से शहजाद अनवर, महाराष्ट्र से राजीव सताव, मेघालय से केनेडी कॉर्नेलियस खैयेम, राजस्थान से केसी वेणुगोपाल और नीरज दांगी को राज्यसभा प्रत्याशी बनाया है।

  • undefined

    News22, Feb 2020, 9:26 PM IST

    अयोध्या में रामलला के दर्शन कर सरयू नदी पर महाआरती करेंगे उद्धव

    पिछले साल ही शिवसेना प्रमुख ने अयोध्या में रामलला के दर्शन किए थ। हालांकि उस वक्त वह राज्य के सीएम नहीं थे। लेकिन इस बार वह महाराष्ट्र के सीएम के तौर पर अयोध्या आ रहे हैं। हालांकि उत्तर प्रदेश में शिवसेना का कोई जनाधार नहीं है। लेकिन ठाकरे का ये अयोध्या दौरा काफी अहम माना जा रह है। पिछले अयोध्या दौरे के दौरान ठाकरे ने भाजपा पर ये कह कर दवाब बनाने की कोशिश की थी कि अयोध्या में जल्द ही राम मंदिर बनाया जाना चाहिए।

  • undefined

    News22, Feb 2020, 11:38 AM IST

    मोदी से बैठक के बाद उद्धव के सीएए को लेकर बदले तेवर, कांग्रेस और एनसीपी को दिया बड़ा झटका

    असल में कांग्रेस और एनसीपी सीएम उद्धव ठाकरे को सीएए और एनपीआर के कार्यान्वयन के खिलाफ मनाने की कोशिश कर रहे हैं। क्योंकि अब ठाकरे ने फैसला किया है कि राज्य में सीएए और एनपीआर लागू किया जाएगा।

  • undefined

    News21, Feb 2020, 1:32 PM IST

    महाराष्ट्र विकास अघाड़ी सरकार ने खेला दांव, कांग्रेस के बागी को उतार सकती है मैदान में

     महाराष्ट्र में राज्यसभा की सात सीटें खाली हो रही हैं।  विधानसभा में विधायकों की संख्या को देखते हुए भाजपा को तीन राज्यसभा सीटें मिल सकती हैं, जबकि राज्यसभा में कांग्रेस, राकांपा और शिवसेना को एक-एक सीट मिलेगी। वहीं असल लड़ाई अब चौथे सीटे को लिए होनी तय है।

  • undefined

    News19, Feb 2020, 6:37 AM IST

    एनपीआर को लेकर उद्धव ठाकरे का सख्त फैसला, सोनिया और पवार को दिखाई आंख

    सरकार के एनपीआर को लागू करने प्रक्रिया में महाराष्ट्र में कोई समस्या नहीं है। उन्होंने कहा एनपीआर सीएए और एनआरसी से अलग हैं। लिहाजा इसको लेकर किसी भी तरह का विवाद नहीं होना चाहिए। वहीं राज्य सरकार सीएए और एनआरसी को राज्य में लागू नहीं करने जा रहा है। असल में राज्य में कांग्रेस और एनसीपी राज्य पर दबाव बना रहे हैं कि एनआरपी  को भी राज्य में लागू नहीं किया जाए।

  • undefined

    News17, Feb 2020, 6:36 AM IST

    शरद पवार और उद्धव ठाकरे के बीच चल रही तनातनी के बीच एनसीपी ने बुलाई अहम बैठक

    असल में ठाकरे और पवार के बीच तनातनी का सबसे बड़ा मुद्दा कोरेगांव है। जिसकी उद्धव ठाकरे सरकार जांच एनआईए को देने की अनुमति दे दी है। जिसको लेकर शरद पवार काफी नाराज बताए जा रहे हैं। असल में पिछले दिनों ही राज्य सरकार ने कहा था कि कोरेगांव की जांच राज्य की पुलिस करेगी।

  • उसने बताया कि वह लोकतंत्र के लिए उस विरोध प्रदर्शन में शामिल हुई थी। वहां, कई पोस्टर बन रहे थे। मैं कश्मीर से नहीं हूं। इसी दौरान मैंने सोचा कि हम यहां संविधानिक स्वतंत्रता के लिए इकट्ठा हुए हैं, तो 5 महीने से इंटरनेट बंद क्यों हैं। उन लोगों की आवाज उठाने के लिए मैंने ये पोस्टर उठाया।

    News13, Feb 2020, 11:03 AM IST

    राज्यसभा की सातवीं सीट के लिए महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना की बीच फिर होगी जंग

     राज्यसभा के सदस्य के लिए 37 विधायकों के समर्थन की आवश्यकता होती है। वहीं राज्य में भारतीय जनता पार्टी के 105 विधायक हैं और उसे नौ निर्दलीय विधायकों का समर्थन प्राप्त है। जबकि सत्तारूढ़ गठबंधन में, शिवसेना के 56 विधायक हैं,राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस के पास क्रमशः 54 और 44 विधायक हैं। जबकि 20 अन्य विधायकों में से कम से कम 15 विधायकों के राज्य के सत्तारूढ़ गठबंधन के पक्ष में जाने की उम्मीद की जा रही है। 
     

  • undefined

    News7, Feb 2020, 7:27 AM IST

    एनसीपी चीफ शरद पवार समेत 51 सदस्य अप्रैल में होंगे राज्यसभा से रिटायर

    इस बार महाराष्ट्र से राज्यसभा की सात सीटें खाली हो रही हैं। जबकि तमिलनाडु से छह सदस्य सेवानिवृत्त होंगे। इसके साथ ही पश्चिम बंगाल और बिहार की 5 सीटें, गुजरात और आंध्र प्रदेश की चार-चार सीटें, राजस्थान, ओडिशा और मध्य प्रदेश की तीन-तीन और तेलंगाना, झारखंड और छत्तीसगढ़ की दो-दो सीटें खाली होंगी। इसके साथ ही हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, असम, मेघालय, मणिपुर एक एक सदस्य रिटायर हो रहे हैं।

  • undefined

    News29, Jan 2020, 6:48 AM IST

    महज डेढ़ महीने में ही मंत्रियों के बोल से उद्धव हो गए हैं परेशान

    राज्य में शिवसेना ने कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाई है। ठाकरे परिवार से राज्य में पहला मुख्यमंत्री बना है और यही अब उद्धव ठाकरे के लिए परेशानी बन रही है। कभी राज्य में मातोश्री महाराष्ट्र की राजनीति का केन्द्र हुआ करता था। लेकिन शिवसेना की अगुवाई वाली सरकार में सत्ता का विकेन्द्रीकरण हो गया।

  • undefined

    News25, Jan 2020, 7:51 AM IST

    जानें क्यों गांधी परिवार के बाद अब शरद पवार की सुरक्षा में की गई कटौती

    शरद पवार की सुरक्षा में कटौती की खबरों के बाद एनसीपी के सांसद माजिद मेमन ने कहा कि देश में प्रमुख नेता की सुरक्षा को केन्द्र की मोदी सरकार कम रही है। इस बात को लेकर उन्होंने केन्द्र सरकार पर हमला किया। उन्होंने कहा कि पवार को जेड कैटेगरी की सुरक्षा मिली है. उसको बावजदू उनकी सुरक्षा में सुरक्षा कर्मी मौजूद नहीं हैं।

  • undefined

    News24, Jan 2020, 8:08 AM IST

    ऐसे तो शिवसेना की हिंदुत्व की राजनीति हो जाएगी खत्म, कांग्रेस के बाद शरद पवार का बड़ा खुलासा

    एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा कि अल्पसंख्यक समुदायों के प्रतिनिधियों ने उनसे कहा था कि अगर एनसीपी राज्य में शिवसेना के साथ हाथ मिलाती है तो उन्हें कोई आपत्ति नहीं होगी। क्योंकि अल्पसंख्यक भाजपा को सत्ता से दूर रखना चाहते थे। लिहाजा एनसीपी ने शिवसेना के साथ सरकार बनाई।

  • Maharashtra: At the peak of government formation, Congress holds the key to power

    News6, Jan 2020, 8:23 AM IST

    महाराष्ट्र में फिर दिखा पावर का पॉवर, कमजोर पड़ा दस जनपथ

    पिछले एक हफ्ते से उद्धव ठाकरे सरकार के गले की फांस बना विभागों का बंटवारा आखिरकार हो ही गया है। लेकिन इस बंटवारे में कांग्रेस में नाराजगी देखने को मिल रही है। हालांकि कैबिनेट विस्तार में तीन सहयोगी दलों के विधायकों में नाराजगी को मिली थी। लेकिन अभी तक विधायकों की नाराजगी कम नहीं हुई है। लेकिन अब विभागों के बंटवारे के बाद कांग्रेस नाराज दिखाई दे रही है। कांग्रेस के खाते में अच्छे विभाग नहीं आए हैं।

  • মহারাষ্ট্র মামলায় রায় দেবে সুপ্রিম কোর্ট

    News22, Dec 2019, 12:34 PM IST

    कांग्रेस का बाद अब एनसीपी ने बढ़ाया शिवसेना पर दबाव, जानें क्या है मामला

    एनसीपी प्रमुख पवार ने कहा कि इस कानून को लागू करने से देश में धार्मिक एवं सामाजिक सौहार्द बिगड़ सकता है। उन्होंने केन्द्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह देश के   मौजूदा गंभीर मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए सीएएस और एनआरसी को लागू करने की बात कर रही है। पवार ने कहा कि देश के आठ अन्य राज्यों की ही तरह महाराष्ट्र में भी सरकार को इसे लागू नहीं करने का ऐलान करना चाहिए।

  • undefined

    News19, Dec 2019, 4:27 PM IST

    शरद पवार ने राहुल गांधी पर कसा तंज, जानें क्यों कहा उन्हें देश में रहना चाहिए

     पवार ने कहा कि देश के कुछ हिस्सों में भाजपा विरोधी भावनाएं बढ़ रही हैं। पवार ने कहा कि लोगों को इस तरह के बदलाव के लिए एक विकल्प की आवश्यकता होती है, और इस तरह के विकल्प के लिए राहुल गांधी को देश में रहना चाहिए।

  • undefined

    News8, Dec 2019, 1:35 PM IST

    अजित पवार का भाजपा को समर्थन देना शरद पवार की थी साजिश, देवेंद्र फडणवीस ने किया खुलासा

    पहली बार राज्य में सरकार बनाने के लिए अजीत पवार के समर्थन पर भाजपा नेता ने कहा कि अजीत पवार ने उन्हें भरोसा जताया था कि उनके पास 54 विधायकों का समर्थन है और उन्होंने कुछ विधायकों की बातचीत भी कराई थी। फडणवीस ने कहा कि अजित पवार का दावा था कि उनके इस फैसले की जानकारी एनसीपी प्रमुख शरद पवार को भी है। क्योंकि वह नहीं चाहते हैं कि राज्य में अस्थिर सरकार बने।