Shivraj Singh Chauhan  

(Search results - 14)
  • undefined

    NewsJul 27, 2020, 12:37 PM IST

    खुशखबरी:12वीं रिजल्ट से पहले CM शिवराज ने किया बड़ा ऐलान, टॉप करने वाले छात्रों को दिए जाएंगे लैपटॉप

    12वीं के स्टूडेंट्स के लिए खुश कर देने वाली खबर सामने आई है। जहां प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 12वीं कक्षा में टॉप करने वाले छात्रों को लैपटॉप देने की योजना का ऐलान किया है। इस स्कीम के तहत मेधावी छात्रों के लिए 25 हज़ार और प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा।

  • <p><br />
कैबिनेट की बैठक में और भी कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए, जिनमें वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए प्रथम अनुपूरक बजट के प्रस्ताव पर भी मुहर लग गई है। सरकार ने प्रथम अनुपूरक बजट के तौर पर ढाई सौ करोड़ रुपए के अतिरिक्त व्यय को मंजूरी दी है। जिसे 3 अगस्त से शुरू होने वाले मानसून सत्र में सरकार इसे पेश करेगी।(प्रतीकात्मक फोटो)<br />
&nbsp;</p>

    NewsJul 26, 2020, 11:25 AM IST

    सीएम हुए कोरोना पॉजिटिव और राज्य में मिले कोरोना के 716 नए मामले

    राज्य के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक शनिवार को राज्य में 14,264 सेम्पलों की जांच की रिपोर्ट मिली हैं और इसमें से 716 रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है और जबकि 13,548 रिपोर्ट निगेटिव मिले हैं।

  • <p>yogi</p>

    NewsJul 6, 2020, 7:09 AM IST

    सावन महीने की शुरूआत में मंत्रियों को गुड न्यूज दे सकते हैं शिवराज

    असल में राज्य में कैबिनेट विस्तार के तीन दिनों के बाद भी राज्य में मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा नहीं हो सका है। वहीं इसी बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान रविवार को दिल्ली पहुंचे।

    Enable GingerCannot connect to Ginger Check your internet connection
    or reload the browser
    Disable in this text fieldEditLog in to edit with Ginger3Log in to edit with Ginger
  • <p><br />
shivaraj singh chauhan</p>

    NewsJun 5, 2020, 1:41 PM IST

    मध्य प्रदेश में कैबिनेट विस्तार को बढ़ी सरगर्मी, मिश्रा और चौहान में हुई मुलाकात

    भोपाल।  मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान के कैबिनेट विस्तार के लिए राज्य में सरगर्मी शुरू हो गई हैं। हालांकि राज्य में अभी एक  कैबिनेट विस्तार प्रस्तावित है और राज्य में होने वाले उपचुनाव को देखते हुए  सरकार पर इसके लिए दबाव है कि जल्द से जल्द कैबिनेट विस्तार किया जाए। वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक  कैबिनेट विस्तार में जगह मिलने की आस लगाए हुए हैं।

    वहीं आज आज राज्य के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा मुख्यमंत्री से मिलने उनके आवास पर पहुंचे और उनकी शिवराज सिंह के साथ बंद कमरे  में बैठक हुई।  जिसके बाद राज्य में कैबिनेट विस्तार की अटकलें तेज हो गई हैं।  सीएम शिवराज कैबिनेट  में नरोत्तम मिश्रा को संकटमोचक  कहा जाता है। लिहाजा राज्य में कयासों का दौर शुरू हो गये हैं। असल में नरोत्तम मिश्रा की शिवराज सरकार में नंबर दो हैसियत है। लिहाजा माना जा रहा है कि उपचुनाव से पहले होने वाले कैबिनेट विस्तार के लिए दोनों नेताओं की आपस में बाचतीत है। वहीं राज्य में कैबिनेट विस्तार को लेकर सरकार पर ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके समर्थकों का दबाव है। 

    राज्य में जिन 24 सीटों में चुनाव होना है। उसमें से 17 सीटों में चुनाव सिंधिया के गढ़ कहे जाने वाले ग्वालियर और गुना में होने हैं। लिहाजा सिंधिया ज्यादा से ज्यादा अपने समर्थकों को कैबिनेट में जगह दिलाने की कोशिश में हैं।  ताकि राज्य की सत्ता की चाबी उनके हाथ में रहे। वहीं राज्य में शिवराज सरकार ने भी उपचुनावों के लिए तैयारी शुरू कर दी है। विधायकों और नेताओं को अपने क्षेत्रों में सक्रिय रहने को कहा गया है। इसके साथ ही कांग्रेस से भाजपा में आए नेताओं के साथ अच्छे संबंध बनाने को कहा गया है। क्योंकि अभी तक कांग्रेस के नेता और भाजपा के नेताओं के बीच छत्तीस का आंकड़ा था  और उपचुनाव में दोनों को मिलकर चुनाव लड़ना है। लिहाजा पुराने विवादों को भूलने की सलाह पार्टी ने दी है।

    प्रेशर गेम शुरू

    राज्य में कैबिनेट विस्तार में अपने करीबी विधायकों और नेताओं को शामिल करने के लिए नेताओं का प्रेशर गेम शुरू हो गया है। सिंधिया हो या फिर नरेन्द्र सिंह तोमर। सभी  अपने समर्थकों को कैबिनेट  में शामिल करना चाहते हैं। वहीं सरकार के लिए सभी को कैबिनेट में शामिल करना मुश्किल है।  इसके साथ ही सरकार पर भी कैबिनेट विस्तार को लेकर दबाव है। क्योंकि विस्तार के बाद पार्टी में विरोध के स्वर उभर सकते हैं। जो सरकार के लिए नुकसानदेह साबित हो सकते हैं।

  • undefined

    NewsMar 24, 2020, 11:41 AM IST

    मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार ने हासिल किया बहुमत, जल्द होगा कैबिनेट का गठन

    राज्य में शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार आज विधानसभा में विश्वास मत स्थानांतरित करेगी। हालांकि भाजपा के पास सरकार बनाने का पूरा बहुमत है। क्योकि पिछले दिनों कांग्रेस 22 विधायकों इस्तीफा दे दिया था। राज्य विधानसभा का चार दिवसीय विशेष सत्र आज से शुरू हो गया है और इस दौरान तीन बैठकें आयोजित की जाएंगी। 

  • Former chief minister shivraj singh claimed many congress MLA in touch with BJP

    NewsMar 23, 2020, 8:42 PM IST

    'शिवराज' के सिर सजा एमपी का ताज, चौथी बार बने सीएम

    शिवराज सिंह आज थोड़ी देर में राज्य में नए मुख्यमंत्री के पद की शपथ लेंगे। हालांकि माना जा रहा है कि वह अकेले ही शपथ लेंगे और 26 मार्च को कैबिनेट का विस्तार करेंगे। राज्य में कमलनाथ सरकार के इस्तीफा देने के बाद भाजपा की सरकार बनना तय था। लेकिन मुख्यमंत्री के नाम पर पार्टी के भीतर किसी तरह की सहमति नहीं बन पा रही थी। जिसके कारण सीएम के नाम का ऐलान देर से हो सका।

  • amit shah

    NewsJun 13, 2019, 6:50 PM IST

    अमित शाह ने भाजपा कार्यकर्ताओं को दिया नया टॉरगेट

    भाजपा अपना बड़ा सदस्यता अभियान शुरू करने वाली है। इसके साथ ही पार्टी के सांगठनिक चुनावों की प्रक्रिया भी शुरू होगी। भाजपा के वर्तमान में भाजपा के 11 करोड़ सदस्य हैं। 

  • shivraj singh

    NewsDec 20, 2018, 12:25 PM IST

    जानें...आखिर शिवराज को क्यों कहना पड़ा ‘चिंता मत करो, टाइगर अभी जिंदा है’

    मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव हारने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह राज्य की राजनीति से केन्द्रीय राजनीति में नहीं जाना चाहते हैं। अब शिवराज सिंह ने इसका राज अपने समर्थकों से किया है। शिवराज का कहना है कि मुख्यमंत्री आवास में फिर से पहुंचने में हो सकता है और पांच साल में यहां पहुंचने में इतना समय न लगे। असल में शिवराज ने राज्य की कांग्रेस पर परोक्ष तौर से इशारा किया कि सरकार राज्य में पांच साल नहीं टिकेगी, क्योंकि सरकार अन्य दल और निर्दलीयों की मदद से चल रही है।

  • shivraj singh

    NewsDec 18, 2018, 1:44 PM IST

    शिवराज ने बढ़ाई भाजपा की मुश्किलें, ‘आभार यात्रा’ पर पार्टी ने साधी चुप्पी

    केन्द्रीय नेतृत्व चाहता है कि शिवराज केन्द्रीय राजनीति में आए। ताकि राज्य की कमान किसी नए नेता को दी जा सके। लेकिन शिवराज राज्य में ही राजनीति करना चाहते हैं। लिहाजा प्रदेश में सरकार बनाने से विफल रहने के बाद शिवराज जनता के बीच जाना चाहते हैं। वह जनता के बीच जाकर राज्य में 15 साल भाजपा की सत्ता बनाने के लिए धन्यवाद देना चाहते हैं। असल में शिवराज की राज्य की जनता में अच्छी पैठ है और वह अपने को आसानी से जनता से कनेक्ट कर लेते हैं। 

  • Shivraj Singh Chauhan

    NewsDec 16, 2018, 4:17 PM IST

    शिवराज का नया पता लिंक रोड, बंगला नंबर 74 भोपाल !

    अब शिवराज सिंह श्यामला हिल्स वाला बंगला जल्द खाली करने वाले हैं। वहां अब नए मुख्यमंत्री कमलनाथ रहेंगे। बहरहाल अब शिवराज सिंह चौहान आम आदमी बन गए हैं। शिवराज ने अपना ट्विटर प्रोफाइल बदलते हुए खुद को ‘द कॉमन मैन ऑफ मध्य प्रदेश' बताया है। शिवराज सरकार जाने के बाद से दो बार ट्विटर प्रोफाइल बदल चुके हैं। बीते बुधवार आए चुनावी नतीजों के बाद उन्होंने ट्विटर प्रोफाइल में बदलाव करते हुए खुद को ‘एक्स चीफ मिनिस्टर ऑफ मध्य प्रदेश' अर्थात मध्य प्रदेश का पूर्व मुख्यमंत्री बताया। इसके कुछ ही घंटे बाद उन्होंने ट्विटर प्रोफाइल बदलते हुए खुद को ‘द कॉमन मैन ऑफ मध्य प्रदेश' अर्थात मध्य प्रदेश का आम आदमी करार दिया। 

  • Shivraj Singh Chauhan

    NewsDec 13, 2018, 5:57 PM IST

    जाने... हार के बाद मध्य प्रदेश के निर्वतमान सीएम शिवराज सिंह ने क्या कहा।

    शिवराज सिंह 13 साल तक राज्य के मुख्यमंत्री रहे और अब कहा जा रहा है कि भाजपा उन्हें केन्द्र की राजनीति में लाना चाहती है। लिहाजा इसके लिए शिवराज सिंह चौहान ने बयान दिया है कि वह फिलहाल केंद्र की राजनीति नहीं करेंगे। ये भी कहा जा रहा है कि शिवराज 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं।

  • elections

    Madhya PradeshNov 28, 2018, 6:24 PM IST

    बंपर वोटिंगः मध्य प्रदेश में 74.61 और मिजोरम में 75 प्रतिशत लोगों ने किया मतदान

    दोनों जगह मतदान का समय खत्म होने के बाद भी लोगों की लाइनें लगी हैं, इसलिए मतदान के अंतिम प्रतिशत में कुछ बदलाव हो सकता है। 
     

  • undefined

    Madhya PradeshNov 19, 2018, 6:08 PM IST

    प्योर देसी चार्ल्स थॉमसन ने जाना एमपी का मिजाज

    सत्ता के सेमीफाइनल में मध्य प्रदेश में कौन पड़ेगा किस पर भारी। 'माय नेशन' के लिए  विदेशी से प्योर देसी बने चार्ल्स थॉमसन ने मध्य प्रदेश की जनता का मूड भांपा।  

  • Mamta Benerjee

    NewsJul 12, 2018, 6:41 PM IST

    मुख्यमंत्रियों के उप-समूह की बैठक में शामिल नहीं होंगी ममता, बोलीं - देर से मिली सूचना

    उप-समूह के समन्वयक शिवराज सिंह चौहान को लिखे पत्र में किसानों के संस्थागत कर्ज को माफ करने की जरूरत पर विचार करने का अनुरोध किया