Spiti  

(Search results - 1)
  • <p><strong>अटल टनलः</strong> रोहतांग में अटल टनल की लंबाई 9.02 किमी है। इसे बनाने में 10 साल का वक्त लगा। मनाली और लेह के बीच की दूरी 46 किलोमीटर कम हो जाएगी और चार घंटे की बचत होगी। इसका नाम पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रखा गया है।</p>

    News3, Oct 2020, 2:49 PM

    अटल टनल बाधा दूर करने में लगे 1400 दिन ज्यादा, कम हो गई मनाली से स्पीति की दूरी

    टनल की बाधा को दूर करने के लिए भारत को दुनिया के शीर्ष विशेषज्ञों और सर्वश्रेष्ठ तकनीक का सहारा लेना पड़ा और आखिरकार देश के इंजीनियर अपने कार्य में सफल हुए। अगर टनल को बनाने में बाधाएं सामने न आती तो  देश के बहादुर इंजीनियर इसे महज छह साल में बना देते। दुनिया की सबसे लंबी टनल का उद्घाटन आज पीएम नरेन्द्र मोदी ने किया।