Tejaswi Yadav  

(Search results - 33)
  • Why did Tej Pratap's father-in-law make distance from RJD and Lalu family

    News14, Feb 2020, 8:54 AM IST

    लालू की पार्टी को बिहार में बढ़ा झटका, जदयू का दामन थामेंगे समधी

    चंद्रिका राय को बिहार में लालू प्रसाद यादव का करीबी माना जाता था। लेकिन अब दोनों के परिवार एक दूसरे से अलग हो गए हैं। लालू के बेटे तेज प्रताप यादव की शादी चंद्रिका राय की बेटी ऐश्वर्या के साथ हुई थी। लेकिन दोनों के रिश्तों में जल्द ही खटास आ गई। हालांकि अब मामला कोर्ट में चल रहा है। वहीं ऐश्वर्या ने अपनी सास राबड़ी और ननद मीसा भारती के खिलाफ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। जिसके बाद राबड़ी ने ऐश्वर्या को घर से बाहर निकाल दिया था। 

  • उल्लेखनीय है कि वर्ष, 2015 में बिहार में महागठबंधन की सरकारी बनी थी। इसमें तेजप्रताप और तेजस्वी दोनों मंत्री थे। उस दौरान लालू के घर पर भव्य तरीके से छठ पूजा मनाई गई थी। लेकिन 2016 में राबड़ी की तबीयत ठीक नहीं थी, लिहाजा छठ पूजा नहीं हुई। 2017 में लालू प्रसाद यादव ने खुद कहा था कि वह छठ पूजा नहीं करेंगे। 2017 में उनके यहां सामान्य तरीके से छठ पूजा हुई थी। (सभी फोटोज पुरानी छठ पूजा के हैं)

    News4, Feb 2020, 8:22 PM IST

    बिहार से राबड़ी और गुप्ता जा सकते हैं राज्यसभा, पर पार्टी में हो सकती है फूट

    बिहार में राज्यसभा के पांच पद खाली हो रहे हैं। जिसमें राजद अपने बल पर दो नेताओं को राज्यसभा भेज सकता है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक राष्ट्रीय जनता दल राबड़ी देवी को राज्यसभा भेजने के पक्ष में है वहीं लालू प्रसाद यादव के करीबी माने जाने वाले प्रेम चंद गुप्ता को फिर से राज्यसभा भेजना चाहता है। 

  • undefined

    News30, Jan 2020, 12:51 PM IST

    बिहार में महागठंबन बना नहीं कांग्रेस राजद पर बना रही है सीटों के बंटवारे का दबाव

    फिलहाल कई राज्यों में सत्ता में आने के बाद कांग्रेस का आत्मविश्वास बढ़ा हुआ है और कांग्रेस शुरुआती गठबंधन के लिए राजद पर दबाव डाल रही है।  कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव की तैयारियां राज्य में शूरू कर दी हैं। कांग्रेस ने राज्य की 243 विधानसभा सीटों के लिए रणनीति तैयार की है। इसके तहत कांग्रेस ने जीतन वाली सीटों को तीन श्रेणियों में विभाजित किया है।

  • jdu

    News25, Oct 2019, 6:25 AM IST

    उपचुनाव में नहीं चला सुशासन बाबू का जादू, राजद हुई मजबूत

    राज्य में पांच विधानसभा सीटों और एक लोकसभा सीट पर चुनाव हुए थे और जिसके परिणाम आ चुके हैं। लेकिन ये उपचुनाव के नतीजे एनडीए के लिए बिहार में अच्छे संकेत नहीं है। इसमें एनडीए और सत्तारूढ़ जद (यू) को बड़ा झटका लगा है। क्योंकि विपक्षी दल राजद ने उपचुनाव में दो सीटें जीतकर राज्य में अपनी मजबूती का एहसास कराया है। जबकि राजद के भीतर ही नेताओं में लड़ाई चल रही है।

  • upa alliance parties leaders still missing from the partner rally in bihar

    News27, Sep 2019, 9:15 AM IST

    बिहार में बिखरा महागठबंधन, अलग-अलग लड़ेंगे साथी

    राज्य में लोकसभा चुनाव में महागठबंधन को करारी शिकस्त मिली थी। चुनाव के बाद से ही विपक्षी दलों के सुर बदल गए थे। राज्य में कांग्रेस, राजद, हम, रालोसपा और वीआईपी ने मिलकर चुनाव लड़ा था। लेकिन महागठबंधन के खाते में एक ही सीट आई। कांग्रेस ही एकमात्र सीट पर जीत दर्ज कर सकी थी। जबकि राजद और अन्य दलों का खाता भी नहीं खुला पाया था। जिसके बाद महागठबंधन में दरार आ गई थी। 

  • Finally, congress agree for seat sharing with RJD in Bihar, today may announce

    News15, Sep 2019, 11:09 AM IST

    उपचुनाव होंगे महागठबंधन की असल परीक्षा, सीटों पर फंसा है पेंच

    पांच विधानसभा की सीटों पर कांग्रेस की निगाह है और वह इनमें से तीन सीटों पर अपना दावा कर रही है। जबकि राजद पांच में से चार सीटों का दावा कर रहा है। वहीं एक लोकसभा सीट भी इन दलों में कोई सहमति बनने के आसार नहीं हैं। इसके साथ ही तीन अन्य दल भी अपने अपने दावें कर रहे हैं।

  • Poster war started in Bihar, RJD and JDU claim their own due to election call

    News4, Sep 2019, 11:35 AM IST

    बिहार में शुरू हुआ पोस्टर वॉर, चुनाव की आहट से राजद और जदयू के अपने-अपने दावे

    लेकिन बिहार में शुरू हुए इस पोस्टर का जनता मजा ले रही है। क्योंकि ये पोस्टर अलग अलग दावे कर रहे हैं। असल में अगले साल बिहार में विधानसभा चुनाव होने हैं। इसके लिए राज्य के दो बड़े राजनैतिक दलों ने अपनी अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। राजद नेता तेजस्वी यादव काफी अरसे के बाद सक्रिय दिखाई दे रहे हैं। हालांकि लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद तेजस्वी ने पार्टी के कार्यक्रमों से दूरी बनाकर रखी थी। इस बात को लेकर पार्टी के ज्यादातर नेता उनसे नाराज चल रहे थे।

  • Tejaswi will prepare to make Akhilesh and Lalu soft!

    News22, Aug 2019, 8:09 AM IST

    क्या टीपू केे बाद तेेजस्वी बनेंगे 'औरंगजेब'

    तेजस्वी पार्टी की कमान अपने हाथों में चाहते हैं। लिहाजा पिछले कई दिनों से उन्होंने इसी रणनीति के तहत पार्टी के कार्यक्रमों और बैठकों से दूरी बनाकर रखी है। यही नहीं लालू प्रसाद यादव परिवार में भी कई गुट बन गए हैं। जो तेजस्वी के खिलाफ अंदरूनी तौर पर मोर्चा खोले हुए हैं। वहीं अब ये सवाल उठ रहे हैं कि कि क्या तेजस्वी अखिलेश यादव और औरंगजेब की तरह बगावत कर पार्टी की कमान अपने हाथ में लेंगे। गौरतलब है कि औरंगजेब ने अपने पिता शाहजहां से बगावत कर सत्ता अपने हाथ में ले ली थी।

  • Lalu's party is moving towards scattering in the war of inheritance, Tejashwi demand for executive president but tej will be rebel

    News17, Aug 2019, 8:08 AM IST

    विरासत की जंग में बिखराव की तरफ बढ़ रही है लालू की पार्टी, तेजस्वी अड़े कार्यकारी अध्यक्ष पर तो तेज प्रताप होंगे ‘बागी’

    फिलहाल राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव जेल में है और वह दोषी घोषित होने के बाद सजा काट रहे हैं। हालांकि अभी लालू रांची की रिम्स में भर्ती हैं। लेकिन अब वह वहां से अपनी गैरमौजूदगी में पटना में पार्टी का बिखराव देख रहे हैं। लालू के परिवार में चार लोग अभी पूरी तरह से सक्रिय राजनीति में हैं। इसमें राबड़ी देवी, मीसा भारती, तेजस्वी और तेजप्रताप प्रताप शामिल हैं। लेकिन परिवार की पार्टी होने के बावजूद अब पार्टी में ही बिखराव देखने को मिल रहा है। तेजस्वी यादव ने पार्टी से पूरी तरह से दूरी बनाकर रखी है।

  • Congress had given advice to rjd to avoid agitation against upper caste reservation, but rjd disdain

    News14, Aug 2019, 8:23 AM IST

    बिहार में राजद और कांग्रेस में होने वाली है बड़ी टूट, कांग्रेस विधायक का दावा

    बिहार के बक्सर से कांग्रेस के विधायक मुन्ना तिवारी का दावा है कि इन दोनों दलों में जल्द ही बड़ी टूट होगी। कांग्रेस विधायक का ये भी दावा है अगले साल राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव में बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू नेता नीतीश कुमार भारतीय जनता पार्टी के साथ चुनावी गठबंधन नहीं करेगे।

  • So for this reason Tejaswi yadav kept away from foundation day, party announced CM face in assembly election

    News13, Aug 2019, 11:28 AM IST

    स्वतंत्रता दिवस के अगले दिन ‘कोपभवन’ से बाहर निकलेंगे तेजस्वी और अहम बैठक में होंगे शामिल!

    लोकसभा चुनाव में तेजस्वी यादव की अगुवाई में जो दुर्गति हुई है। पार्टी राज्य में एक भी लोकसभा की सीट नहीं जीत पायी है। यहां तक कि तेजस्वी की बहन मीसा भारती भी पाटलीपुत्र से लोकसभा का चुनाव हार गई थी। हार के बाद से तेजस्वी ने पार्टी की बैठकों से दूरी बनानी शुरू कर दी थी। वह सोशल मीडिया में कुछ-कुछ समय बाद सक्रिय दिखाई देते हैं। लेकिन पार्टी की बैठकों से नदारद रहते हैं।

  • Senior RJD leader quit party after tejaswi yadav announced CM candidate for election in Bihar

    News8, Jul 2019, 8:16 AM IST

    लालू की पार्टी में बगावत, तेजस्वी को सीएम उम्मीदवार बनाए जाने के बाद पार्टी छोड़ेगा ये दिग्गज नेता

     दो दिन पहले ही पटना में राजद की कार्यकारिणी में तेजस्वी यादव को राज्य में होने वाले अगले विधानसभा चुनाव के लिए मुख्यमंत्री का उम्मीदवार घोषित किया गया है। अब पार्टी में इस बात को लेकर बगावत हो गयी है।

  • Lalu prasad yadav eating four eggs daily due to kidney problem

    News7, Jul 2019, 1:19 PM IST

    जानें क्यों, संडे हो या मंडे लालू खाएं रोज चार अंडे

    लालू प्रसाद यादव को सजा हो चुकी है। लेकिन खराब स्वास्थ्य के कारण वह रांची के रिम्स में भर्ती हैं। लोकसभा चुनाव के परिणाम के बाद लालू की तबीयत और ज्यादा बिगड़ गयी थी और उन्होंने खाना पीना छोड़ दिया था। जिसके कारण डाक्टरों को उन्हें इंसुलिन देनी पड़ी थी। डाक्टरों का कहना है कि लालू के शरीर में प्रोटीन की कमी आ रही है। 

  • So for this reason Tejaswi yadav kept away from foundation day, party announced CM face in assembly election

    News6, Jul 2019, 7:33 PM IST

    ...तो इसलिए तेजस्वी ने स्थापना दिवस में दिखाई थी नाराजगी, विधानसभा चुनाव में होंगे सीएम उम्मीदवार

    पार्टी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की गैरमौजूदगी में आज पार्टी का स्थापना दिवस मनाया गया। लेकिन इसके लिए आयोजित किए गए कार्यक्रम से तेजस्वी यादव नदारद रहे। जबकि तेजस्वी की राह सभी नेता देख रहे थे। इसके बाद जब राजद के वरिष्ठ नेता शिवाकांत तिवारी और रघुवंश प्रसाद ने तेजस्वी की फटकार लगाई तो वह बाद में पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में पहुंचे।

  • Tejaswi yadav will tell he was whereabout after lok sabha election defeat

    News5, Jul 2019, 12:53 PM IST

    हार के बाद पहली बार अपनी चुप्पी का राज बताएंगे तेजस्वी

    बिहार में विधानमंडल की बैठक चल रही है। लेकिन इसमें सबसे ज्यादा चर्चा का विषय प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव रहे। क्योंकि वह सदन शुरू होने के बाद पहली बार सदन में आए हैं। अभी तक उनकी गैरमौजूदगी चर्चा का विषय बनी हुई थी। राजद में भी कोई उनके बारे में नहीं जानता था और न ही इसके बारे में मीडिया में चर्चा की जा रही थी।