// Temp comment this bcz its will help stop page_view double calls // Temp comment this bcz its will help stop page_view double calls

Utility News

HDFC बैंक ने इस टर्म के लिए होम लोन का इंटरेस्ट रेट घटाया

Image credits: FREEPIK

कब से प्रभावी होंगे होम लोन के घटे इंटरेस्ट रेट?

HDFC ग्राहकों के लिए अच्छी खबर हैं क्योकि बैंक ने अपने होम लोन के इंटरेस्ट रेट कम कर दिए हैं। परिवर्तित इंटरेस्ट रेट को तत्काल यानि 7 जून 2024 से प्रभावी भी कर दिया गया है।
 

Image credits: FREEPIK

HDFC ने क्यों की होम लोन के इंटरेस्ट रेट में बदलाव की घोषणा?

अनचेंड रेपो रेट का रिजल्ट देखने के बाद HDFC ने होम लोन के इंटरेस्ट रेट में बदलाव की घोषणा की है, जिसे मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स-बेस्ड लेंडिंग रेट्स (MCLR) के रूप में जाना जाता है।

Image credits: FREEPIK

HDFC बैंक का नया MCLR कब से होगा प्रभावी?

HDFC की वेबसाइट के अनुसार ये न्यू चेजिंग या अपडेटेड MCLR 7 जून 2024 से प्रभावी होगा। यह अपडेट उसी दिन आया है, जब RBI ने लगातार आठवीं बार रेपो रेट को अनचेंड रखने का फैसला किया है।
 

Image credits: FREEPIK

HDFC बैंक ने किन बदलावों की घोषणा की है?

MCLR 2 साल की अवधि पर HDFC ने 2 साल के पीरियड पर लैंडिंग रेट में 5 BPS की कटौती की है, जिससे यह 9.35 से घटकर 9.30% हो गई है। जिससे सेम टेन्योर के लिए होम लोन रेट कम हो जाएंगे।

Image credits: FREEPIK

क्या HDFC बैंक ने अन्य टेन्योर पर MCLR में बदलाव किया है?

HDFC बैंक ने अन्य टेन्योर पर MCLR में कोई बदलाव नहीं किया है। अन्य लोन टेन्योर के लिए रेट समान हैं। HDFC बैंक का बेंचमार्क MCLR अब 8.95 फीसदी से 9.35 फीसदी के बीच है।
 

Image credits: FREEPIK

इसका ग्राहकों पर क्या प्रभाव पड़ेगा?

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि MCLR संशोधनों का प्रभाव तत्काल नहीं है। MCLR-बेस्ड होम लोन के लिए एक रीसेट पीरियड होता है, जिसके बाद लोन लेने के लिए रेट अपडेट किए जाते हैं। 

Image credits: FREEPIK

फंड-बेस्ड लैंडिंग रेट या MCLR की मार्जिनल कास्ट क्या है?

MCLR या मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स-बेस्ड लेंडिंग रेट्स वह मिनिमम इंटरेस्ट रेट है, जिस पर कोई बैंक पैसा लोन दे सकता है। 

Image credits: FREEPIK

MCLR  होम लोन रेट से कैसे जुड़ा है?

MCLR बैंक की कास्ट आफ फंड, ऑपरेशन एक्सपेंस और टेन्योर प्रीमियम जैसे फैक्टर के बेस्ड पर निर्धारित किया जाता है। कम MCLR का मतलब कम EMI या कम लोन पीरियड होता है।

Image credits: FREEPIK

RBI MPC बैठक 2024 में तय हुआ रेपो रेट

RBI द्वारा पॉलिसी रेट पर सतर्क रुख बनाए रखने के साथ, अर्थशास्त्रियों का अनुमान है कि लोन लेने की कास्ट कुछ समय के लिए अपेक्षाकृत अधिक रह सकती है।

 

Image credits: FREEPIK
Find Next One