देश भर में भीषण गर्मी का कहर, बचने के लिए उठाएं ये कदम

First Published 1, Jun 2019, 4:21 PM IST

गर्मी में बच्चों के स्वास्थ्य के प्रति विशेष रूप से सजग रहें। इन दिनों ओपीडी में 70 प्रतिशत मरीज वायरल डायरिया से पीडि़त आ रहे हैं। ओआरएस का घोल नियमित रूप से दें। यह लाभदायक साबित होगा। इसके अलावा बच्चों को सीधी धूप से बचाएं। इनके अलावा जानिए निचे- 

ठंडी जगहों पर रहने की कोशिश करें।

ठंडी जगहों पर रहने की कोशिश करें।

तेज धूप में छाते का प्रयोग करें।

तेज धूप में छाते का प्रयोग करें।

ढीले व सूती कपड़े विशेषत: सफेद रंगे के कपड़े पहने।

ढीले व सूती कपड़े विशेषत: सफेद रंगे के कपड़े पहने।

दोपहर 12 से 3 बजे तक शारीरिक गतिविधि करने से परहेज करें। यानी की एक्साइज न करें।

दोपहर 12 से 3 बजे तक शारीरिक गतिविधि करने से परहेज करें। यानी की एक्साइज न करें।

पानी प्रचुर मात्रा में पिएं। दूध की कच्ची लस्सी व ग्लूकोज वाटर ले सकते हैं।

पानी प्रचुर मात्रा में पिएं। दूध की कच्ची लस्सी व ग्लूकोज वाटर ले सकते हैं।

शरीर पर सूर्य की पडऩे वाली सीधी धूप से दूर रहें।

शरीर पर सूर्य की पडऩे वाली सीधी धूप से दूर रहें।

गहरे व काले रंग के वस्त्र ना पहने।

गहरे व काले रंग के वस्त्र ना पहने।

लू से प्रभावित व्यक्ति को ठंडी जगह पर ले जाने में देरी ना करें।

लू से प्रभावित व्यक्ति को ठंडी जगह पर ले जाने में देरी ना करें।

बाजार में बिकने वाले खुले व गले-सड़े फलों का प्रयोग ना करें।

बाजार में बिकने वाले खुले व गले-सड़े फलों का प्रयोग ना करें।

बर्फ से बनने वाली कुल्फी के प्रयोग से परहेज करें।

बर्फ से बनने वाली कुल्फी के प्रयोग से परहेज करें।

loader