// Temp comment this bcz its will help stop page_view double calls // Temp comment this bcz its will help stop page_view double calls

Motivational News

VSS Mani के पास न पैसा था न अनुभव, फिर कैसे देसी Google बना Just Dial?

Image credits: Getty

जिद और जज्बा थी वीएएस मनि की ताकत

VSS Mani के पास न पैसा था और न ही बिजनेस का अनुभव। जिद और जज्बा ही उनकी ताकत थी। 

Image credits: Getty

दिल्ली यूनिवर्सिटी में कामर्स में दाखिला लेकर सीए की तैयारी

वीएसएस मणि तमिलनाडु के रहने वाले हैं। मिडिल क्लास फैमिली से थे। दिल्ली यूनिवर्सिटी में कामर्स से दाखिला लेकर चार्टर्ड अकाउंटेट की तैयारी करने लगे।

Image credits: Getty

आ​र्थिक हालात खस्ता, पढ़ाई छोड़कर बनें सेल्समैन

वीएसस मणि के परिवार की आर्थिक हालत ठीक नहीं थी। इसलिए पढ़ाई छोड़कर सेल्समैन का काम शुरु किया।

Image credits: Getty

अपना काम शुरु करने का था मन

वीएसएस मणि ने कई जगहों पर नौकरी की। पर उनका मन अपना काम शुरु करने का था।

Image credits: Just Dial

दोस्तों के साथ शुरु की AskMe, नहीं चली

वीएसएस मणि ने साल 1989 में दोस्तों के साथ मिलकर AskMe कम्पनी शुरु की, जो नहीं चली।

Image credits: Just Dial

वेडिंग प्लानर मैंगजीन का काम भी फेल

वीएसएस मणि ने साल 1992 में वेडिंग प्लानर मैंग्जीन के काम की शुरुआत की। पर उसमें भी असफलता हाथ लगी।

Image credits: Just Dial

बिजनेस में दो बार फेल होने के बाद फिर नौकरी

​वीएसएस मणि ने लगातार दो बार व्यवसाय में असफलता के बाद नौकरी शुरु की। 

Image credits: Getty

नौकरी करते हुए आया Just Dial का IDEA

वीएसएस मणि जिस कम्पनी में नौकरी की, उसमें येलो पेजेज और फोन डाइरेक्टरी से संबंधित काम होते थे। वहीं उन्हें जस्ट डायल का आइडिया आया।

Image credits: Just Dial

वाइफ के गहने बेचें, गैराज से शुरुआत

वीएसएस मणि के पास पैसे नहीं थे तो उन्होंने अपनी पत्नी के गहने बेच दिए। किराए के गैराज से जस्ट डायल की शुरुआत कर दी।

Image credits: Getty

लैंडलाइन की संख्या बढ़ी, Just Dial भी बढ़ा

साल 1996 में लैंडलाइन फोन लगवाना आसान हो गया। जैसे लैंडलाइन्स की संख्या बढ़ी, वैसे ही उनका जस्ट डायल का कारोबार भी बढ़ता चला गया। 

Image credits: Just Dial

साल 2013 में 6 हजार करोड़ थी कम्पनी की वैल्यूएशन

जस्ट डायल की वैल्यूएशन साल 2013 में 6 हजार करोड़ रुपये थी। साल 2007 में 4 हजार करोड़ रुपये थी।

Image credits: Just Dial

रिलायंस ने Just Dial में हासिल की 41 फीसदी हिस्सेदारी

रिलायंस ग्रुप का ध्यान भी जस्ट डायल की तरफ गया और रिलायंस रिटेल ने 3497 करोड़ में जस्ट डायल में 41 फीसदी हिस्सेदारी हासिल की।
 

Image credits: Getty
Find Next One