India vs Australia: शहीदों का सम्मान, सेना की टोपी पहनकर मैदान में उतरी टीम इंडिया

https://static.asianetnews.com/images/authors/bff11d14-81b3-52a9-a94b-86431321f9f4.jpg
First Published 8, Mar 2019, 1:42 PM IST
India vs Australia: Team India wears special caps vs Australia as tribute to Pulwama martyrs
Highlights

 बताया जा रहा है कि ऑस्ट्रेलिया के 'पिंक टेस्ट' और साउथ अफ्रीका के 'पिंक वनडे' की तर्ज पर अब टीम इंडिया हर साल एक मैच इस टोपी को पहनकर खेला करेगी।

देश के सेना के साथ खड़ा होने का बड़ा संदेश देने के लिए बीसीसीआई ने नई पहल की है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच रांची में खेले जा रहे तीसरे वनडे मैच में भारतीय टीम सेना की टोपी पहनकर खेल रही है। यह टोपी खुद महेंद्र सिंह धोनी ने टीम इंडिया के खिलाड़ियों को दी। पुलवामा आतंकवादी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों के प्रति सम्मान व्यक्त करने के लिए भारतीय क्रिकेटरों ने सेना की विशेष कैप पहनी और अपनी मैच फीस राष्ट्रीय रक्षा कोष में दान दे दी।

बताया जा रहा है कि ऑस्ट्रेलिया के 'पिंक टेस्ट' और साउथ अफ्रीका के 'पिंक वनडे' की तर्ज पर अब टीम इंडिया हर साल एक मैच इस टोपी को पहनकर खेला करेगी। इससे पहले, कप्तान विराट कोहली टास के समय यह कैप पहनकर आए थे जिस पर बीसीसीआई का लोगो था। उन्होंने सभी से राष्ट्रीय रक्षा कोष में योगदान देने का आग्रह किया ताकि वह रकम सीआरपीएफ के शहीद जवानों के परिवारों के काम आ सके। कोहली ने कहा, ‘यह खास कैच है । यह सेना के प्रति सम्मानसूचक है । हम इस मैच की फीस राष्ट्रीय रक्षा कोष में दे रहे हें । मैं सभी देशवासियों से इसमें योगदान करने और हमारे सैनिकों के परिवारों के साथ रहने की अपील करता हूं।’

जानकारी के मुताबिक, यह आइडिया बीसीसीआई को महेंद्र सिंह धोनी और कप्तान विराट कोहली द्वारा ही दिया गया था। धोनी प्रादेशिक सेना में मानद लेफ्टिनेंट कर्नल भी हैं। बीसीसीआई ने नई पहल तीसरे वनडे मैच से की है। यह आगे भी जारी रहेगी। हर सीजन में भारतीय मैदान पर होनेवाले किसी एक मैच में टीम सेना की टोपी पहनकर खेलेगी। टॉस के वक्त कोहली ने बताया कि टीम इस मैच की फीस भी नेशनल डिफेंस फंड में दान करने वाली है। 

सेना के लिए धोनी का प्यार जगजाहिर है। इसलिए बीसीसीआई ने धोनी के घरेलू मैदान रांची से इस परंपरा को शुरू किया है। बीसीसीआई द्वारा ट्विटर पर अपलोड किए गए वीडियो में दिख रहा है कि धोनी टीम के खिलाड़ियों और सपॉर्ट स्टाफ को सेना की टोपियां दे रहे हैं। अंत में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने धोनी को सेना की टोपी दी। सूत्रों के अनुसार धोनी और कोहली पिछले 6 महीने से इस योजना पर काम कर रहे थे। 

महेंद्र सिंह धोनी को पिछले साल पद्मभूषण से सम्मानित किया गया। देश के राष्ट्रपति महामहिम रामनाथ कोविंद ने उन्हें ये सम्मान दिया। खास बात यह थी कि धोनी ने सेना की ड्रेस में उन्होंने इस सम्मान को ग्रहण किया। 

धोनी को सेना की वर्दी भले ही सम्‍मान के तौर पर मिली हो, मगर उन्होंने वर्दी पहनकर कड़ी ट्रेनिंग भी ली है। तीन साल पहले आगरा में पैरा ट्रूपर ट्रेनिंग स्कूल से ट्रेनिंग लेने के बाद वह करीब 15,000 फीट की ऊंचाई से पांच छलांगें लगा चुके हैं। इसमें एक छलांग रात में लगाई गई थी। धोनी पैरा जंप लगाने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी हैं।

वनडे मैच में खेलने वाले हर खिलाड़ी को आठ लाख रूपये और रिजर्व खिलाड़ियों को इससे आधी रकम मिलती है। इससे पहले बीसीसीआई ने आईपीएल उद्घाटन समारोह का सारा बजट आतंकी हमले में मारे गए जवानों के परिवारों के लिए देने का फैसला किया था। इस साल आईपीएल का उद्घाटन समारोह नहीं होगा। 

loader