मंदिर में 'तुलाभरम' करा रहे कांग्रेस नेता शशि थरूर तराजू टूटने से घायल, सिर में लगे टांके

https://static.asianetnews.com/images/authors/bff11d14-81b3-52a9-a94b-86431321f9f4.jpg
First Published 15, Apr 2019, 2:06 PM IST
Congress leader Shashi Tharoor In Hospital After Injured During Ritual At Kerala Temple
Highlights

यह घटना उस समय हुई जब थरूर थंपनूर में गांधारी अम्मन कोविल मंदिर में तुलाभरम पूजा कर रहे थे। अनुष्ठान के दौरान वह खुद को फल और मिठाइयों को बराबर तराजू पर तौल रहे थे, इसी दौरान तुला टूट गई और वह गिर गए। 

कांग्रेस नेता शशि थरूर तिरुवनंतपुरम में एक मंदिर में पूजा करने के दौरान गिरकर गंभीर रुप से घायल हो गए। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है। वह तिरुवनंतपुरम लोकसभा सीट से उम्मीदवार हैं। थरूर को सिर में चोट आई है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, उन्हें छह टांके लगाने पड़े हैं। डॉक्टरों ने थरूर को खतरे से बाहर बताया है। 

यह घटना उस समय हुई जब थरूर थंपनूर में गांधारी अम्मन कोविल मंदिर में तुलाभरम पूजा कर रहे थे। शशि थरूर तुलाभरम अनुष्ठान के तहत खुद को फल और मिठाइयों को बराबर तराजू पर तौल रहे थे, इसी दौरान वह गिर गए। तुलाभरम की पूजा केरल के कुछ मंदिरों में ही होती है। इसमें अपने वजन के बराबर चढ़ावा चढ़ाया जाता है। इसके लिए मंदिर के बाहर वजन करने के लिए बड़े-बड़े तराजू लगे होते हैं।

"

सोमवार को मलयालम नव वर्ष (विशु) के अवसर पर थरूर ने अपना चुनाव प्रचार अभियान शुरू करने से पहले सुबह यहां देवी मंदिर में इस रस्म को निभाया। उनके साथ उनके परिवार के सदस्य और विधायक वी एस शिवकुमार समेत पार्टी के नेता तथा कार्यकर्ता मौजूद थे। पार्टी सूत्रों ने बताया कि जब थरूर तराजू के एक पलड़े पर बैठे थे तो उसका हुक गिर गया और उनके सिर पर आ लगा। सूत्रों ने बताया कि उन्हें इलाज के लिए त्रिवेंद्रम मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया। टेलीविजन चैनलों ने अपनी रिपोर्ट में पूर्व केंद्रीय मंत्री को चोटिल सिर के साथ कार में बैठते हुए दिखाया और उनका कुर्ता खून से सना दिख रहा है।

थरूर तिरुवंतनपुरम लोकसभा सीट से चुनाव मैदान में हैं, जहां उनका मुकाबला भाजपा के राजशेखरन से और सीपीआईएम के नेतृत्व वाले एलडीएफ के उम्मीदवार सी दिवाकरन से है। 

इससे पहले उन्होंने काजाखुट्ट्म निर्वाचन क्षेत्र में भी ऐसी ही परंपरा वाली पूजा की थी। तब शशि थरूर ने ट्वीट किया था, 'कल काजाखुट्ट्म में परयादानम शुरु किया। केले के 'थुलभारम' के साथ! कम से कम मंदिरों में मैं एक भारी राजनीतिज्ञ होने का दावा कर सकता हूं।'

loader