यूपी में ‘न्याय’ के लिए यात्रा प्रियंका निकालेगी

https://static.asianetnews.com/images/authors/bff11d14-81b3-52a9-a94b-86431321f9f4.jpg
First Published 15, Apr 2019, 9:29 AM IST
Priyanka Gandhi will start Nyay yatra in UP to repeat 2009 election performance
Highlights

उत्तर प्रदेश में अस्तित्व के लिए लड़ रही कांग्रेस को अब पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव और पूर्व उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा न्याय दिलाएंगी। प्रियंका गांधी आज से राज्य में पार्टी की ‘न्याय यात्रा’ की शुरूआत करेंगी।

उत्तर प्रदेश में अस्तित्व के लिए लड़ रही कांग्रेस को अब पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव और पूर्व उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा न्याय दिलाएंगी। प्रियंका गांधी आज से राज्य में पार्टी की ‘न्याय यात्रा’ की शुरूआत करेंगी। प्रियंका लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के न्याय को प्रदेश के लोगों तक पहुंचाना चाहती हैं। ताकि लोकसभा चुनाव में पार्टी 2009 के परिणामों को दोहरा सके।

प्रियंका गांधी वाड्रा कांग्रेस पार्टी द्वारा हाल में देश के सभी नागरिकों के लिए न्याय देने के वादे को हर यूपी में बड़ा हथियार मान रही हैं। लिहाजा इसके लिए प्रियंका ने उत्तर प्रदेश में पूरी ताकत झोंक रही हैं। प्रियंका का फोकस उत्तर प्रदेश है और अभी तक का प्रियंका का प्रचार कार्यक्रम देखा जाए तो उन्होंने सबसे ज्यादा मेहनत उत्तर प्रदेश में ही की है। प्रियंका गांधी वाड्रा पार्टी की महत्वाकांक्षी न्यूनतम आय योजना यानी न्याय के वादे को गांव-गांव और घर-घर तक की योजना बना रही हैं।

लिहाजा आज से यूपी में प्रियंका की न्याय यात्रा की शुरूआत होगी। यह यात्रा राज्य के उन सभी संसदीय क्षेत्रों में निकाली जाएगी जहां अभी चुनाव बचे हैं। गौरतलब है कि पश्चिम उत्तर प्रदेश की आठ सीटों पर मतदान हो चुका है। प्रियंका गांधी वाड्रा आज इसकी शुरूआत फतेहपुर सीकरी से करेगी। जहां से प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर चुनाव लड़ रहे हैं। हालांकि प्रियंका का सभी संसदीय सीटों में जाना संभाव नहीं है, लिहाजा बड़े नेताओं को इसकी जिम्मेदारी दी है।
प्रियंका गाधी वाड्रा को लगता है कि उत्तर प्रदेश में पार्टी 2009 के प्रदर्शन को दोहरा सकती है। गौरतलब है कि 2009 में पार्टी ने सभी राजनैतिक दलों को चौंकाते हुए 21 सीटें जीती थी। जबकि उस वक्त राज्य में बसपा की सरकार थी। कई संसदीय क्षेत्रों में खुद प्रियंका भी इस यात्रा में शामिल हो सकती हैं। लिहाजा प्रियंका उसी प्रदर्शन को दोहराने के लिए न्याय यात्रा पर फोकस कर रही हैं।

प्रियंका की रणनीति के तहत इस यात्रा में प्रत्येक संसदीय क्षेत्र के सभी प्रमुख नेता, कार्यकर्ता, युवा कांग्रेस, महिला कांग्रेस, एनएसयूआई और सेवा दल के लोग शामिल होंगे। यही नहीं सोशल मीडिया टीम के जरिए इसे देश और विदेश के मीडिया तक प्रचारित किया जाएगा। 
 

loader