राजकोट टेस्टः भारत ने वेस्टइंडीज को तीन दिन में रौंदा, सीरीज में 1-0 से आगे

First Published 6, Oct 2018, 4:45 PM IST
Rajkot test: India beat West Indies by innings and 272 runs
Highlights

वेस्टइंडीज की टीम लंच से पहले पहली पारी में 48 ओवर में 181 रन पर सिमट गई थी। फॉलोआन के बाद उसके खिलाड़ी दूसरी पारी में भी बेहतर बल्लेबाजी नहीं कर सके और अंतिम सत्र में पूरी टीम 50.5 ओवर में 196 रन पर आल आउट हो गई। 


भारतीय टीम ने घरेलू परिस्थितियों का पूरा फायदा उठाते हुए शनिवार को यहां पहले क्रिकेट टेस्ट में वेस्टइंडीज को तीन दिन के भीतर पारी और 272 रन से रौंद दिया। यह भारत की वेस्टइंडीज पर सबसे बड़ी जीत है। भारत ने दबदबा बनाते हुए पहली पारी नौ विकेट पर 649 रन पर घोषित की थी जिसके बाद उसने अपने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर वेस्टइंडीज को तीसरे दिन दो बार समेट दिया जिससे दो मैचों की सीरीज में उसने 1-0 से बढ़त हासिल कर ली। 

वेस्टइंडीज की टीम लंच से पहले पहली पारी में 48 ओवर में 181 रन पर सिमट गई थी और उम्मीद के अनुरूप उसे फॉलोआन मिला। लेकिन उसके खिलाड़ी दूसरी पारी में भी बेहतर बल्लेबाजी नहीं कर सके और फिर अंतिम सत्र में पूरी टीम 50.5 ओवर में 196 रन पर आल आउट हो गई। 

रविचंद्रन अश्विन (पहली पारी में 37 रन देकर चार विकेट) ने सुबह के सत्र में शानदार गेंदबाजी की लेकिन दूसरी पारी में कुलदीप यादव (57 रन देकर पांच विकेट) ने विपक्षी बल्लेबाजों को बड़ी पारी खेलने का मौका नहीं दिया। इस तरह कुलदीप ने टेस्ट में पहली बार पांच विकेट भी अपने नाम किए। 

दूसरा और अंतिम टेस्ट हैदराबाद में 12 से 16 अक्टूबर तक खेला जाएगा। राजकोट में लचर प्रदर्शन करने वाली वेस्टइंडीज टीम को अब अपने खेल में सुधार करना होगा। कप्तान जेसन होल्डर और तेज गेंदबाज केमार रोच की अनुपस्थिति से भी उनकी परेशानी बढ़ गई है। 

भारत के लिए यह मुकाबला पृथ्वी शॉ के टेस्ट पटल पर शानदार उदय के लिए याद रखा जाएगा जिन्होंने पदार्पण मुकाबले में शतक जड़कर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में प्रवेश किया और टेस्ट में ऐसा करने वाले देश के सबसे युवा खिलाड़ी बने। उनके अलावा इस टेस्ट में विराट कोहली और रविंद्र जडेजा भी शतकवीर रहे। 

शनिवार को चाय के सत्र तक स्पष्ट हो गया था कि खेल तीन दिन के अंदर ही खत्म हो जाएगा क्योंकि कुलदीप के पांच विकेट से वेस्टइंडीज ने 185 रन में आठ विकेट खो दिए थे। दूसरी पारी में कीरान पावेल को छोड़कर वेस्टइंडीज का कोई बल्लेबाज नहीं टिक सका जिन्होंने 93 गेंद में आठ चौकों और चार छक्कों की मदद से 83 रन बनाए। 

सुबह के सत्र में आर अश्विन का दबदबा था जबकि दूसरे सत्र में कुलदीप ने कहर बरपाया। कैरेबियाई बल्लेबाजों को गैर जिम्मेदाराना शाट्स खेलने का खामियाजा भुगतना पड़ा। कुलदीप ने शाइ होप को पहला शिकार बनाया जिसके बाद शिमरोन हेटमायेर अपना विकेट गंवा बैठे। सुनील अंबरीश भी उनकी गेंद पर आउट हुए।

इससे पहले अश्विन के शानदार स्पैल की मदद से भारत ने वेस्टइंडीज को पहली पारी में 181 रन पर समेटकर फालोआन खेलने के लिए मजबूर कर दिया। अपने शुक्रवार के स्कोर छह विकेट पर 94 रन से आगे खेलते हुए वेस्टइंडीज टीम ने बाकी विकेट एक घंटे और 10 मिनट के भीतर गंवा दिये। रोस्टन चेस (53) और कीमो पाल (47) ने 73 रन की साझेदारी की।

अश्विन ने 11 ओवर में 37 रन देकर चार विकेट लिए। कैरेबियाई पारी 48 ओवर में सिमट गई। भारत ने कुलदीप और मोहम्मद शमी के रूप में स्पिन और तेज आक्रमण एक साथ उतारा। चेस और पाल को हालांकि यादव को खेलने में ज्यादा दिक्कत नहीं आई। पाल ने उन्हें दो चौके भी लगाए। उमेश यादव ने पाल को पवेलियन भेजा जो पुल शाट खेलने के प्रयास में मिडविकेट पर कैच दे बैठे। इसके बाद अश्विन ने चेस को आउट किया। दसवें और 11वें नंबर के बल्लेबाज भी अश्विन की फिरकी का शिकार हुए। ( इनपुट भाषा)

loader