निर्मला के खिलाफ टिप्पणी, महिला आयोग का राहुल गांधी को नोटिस

https://static.asianetnews.com/images/authors/bff11d14-81b3-52a9-a94b-86431321f9f4.jpg
First Published 10, Jan 2019, 1:20 PM IST
NCW notice to Rahul Gandhi for 'misogynistic, offensive' remark against Nirmala Sitharaman
Highlights

महिला आयोग ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बयान को 'नारी विरोधी, आक्रामक, अनैतिक और अपमानजनक' बताया।

राष्ट्रीय महिला आयोग ने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण को लेकर कथित तौर पर 'अपमानजनक' टिप्पणी करने को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को नोटिस जारी कर सफाई मांगी है। महिला आयोग ने मीडिया में आई खबरों का हवाला देते हुए कहा कि यह बयान 'नारी विरोधी, आक्रामक, अनैतिक और अपमानजनक' है। आयोग ने गांधी की कथित टिप्पणी की निंदा करते हुए कहा कि वह अपने 'गैरजिम्मेदाराना' बयान को लेकर संतोषजनक स्पष्टीकरण दें।

बुधवार को राजस्थान में एक रैली के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा था कि प्रधानमंत्री डर गए हैं और अपने बचाव के लिए उन्होंने महिला मंत्री को सामने कर दिया है। राहुल के इस बयान पर केंद्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कड़ी प्रतिक्रिया दी थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी उनके बयान को अपमानजनक बताया था। 

दरअसल, राहुल ने कहा कि 56 इंच की छाती वाले प्रधानमंत्री लोकसभा में कदम नहीं रख पाए। उन्होंने अपने बचाव के लिए महिला मंत्री को आगे कर दिया, लेकिन वह ढाई घंटे में भी कांग्रेस के प्रश्नों का उत्तर नहीं दे पाईं। राहुल ने कहा, 'कांग्रेस ने राफेल सौदे पर जनता की अदालत में सवाल उठाए। कांग्रेस ने कहा कि हम अपनी बात रखेंगे और मोदी अपनी बात रखें। आपने देखा होगा कि 56 इंच की छाती वाले पीएम लोकसभा में एक मिनट के लिए भी नहीं आ पाए। चौकीदार जनता की अदालत से भाग गया। ढाई घंटे रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने भाषण दिया। वह हमारे सवाल का जवाब नहीं दे पाईं।'

पीएम मोदी ने भी इस बयान को देश की सभी महिलाओं का अपमान बताया था। उन्होंने कहा, हमारी रक्षा मंत्री ने संसद में विपक्षी दलों के हर सवाल पर उनके छक्के छुड़ा दिए, उनके हर झूठ को बेनकाब कर दिया। इससे वे इतना बोखला गए हैं कि अब एक महिला रक्षा मंत्री का अपमान  कर रहे हैं। ये केवल उनका नहीं, बल्कि पूरे देश की महिला शक्ति का अपमान है।

राहुल गांधी ने मोदी की इस टिप्पणी पर कहा कि ‘महिलाओं के सम्मान की शुरुआत घर से होती है' और मोदी को राफेल से जुड़े उनके सवालों का जवाब देना चाहिए।'  गांधी ने ट्वीट करके कहा, ‘मोदी जी से ससम्मान यह कहना चाहता हूं कि हमारी संस्कृति में महिलाओं के सम्मान की शुरुआत घर से होती है।' उन्होंने कहा, ‘बातों को घुमाना बंद करिये, मर्द बनिए और मेरे सवाल का जवाब दीजिए कि जब आपने वास्तविक राफेल सौदे को बदला तो क्या रक्षा मंत्रालय और वायुसेना ने आपत्ति जताई थी? हां? या ना?' 

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी राहुल पर महिला विरोधी बयान के लिए हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर कहा,  'राहुलजी के अहम को चोट इतनी पहुंची की संयम खो बैठे, आखिर एक सामान्य महिला की हिम्मत कैसे हुई राहुल को ललकारने की?'

loader