Shivanand Tiwari  

(Search results - 4)
  • Lalu's party is moving towards scattering in the war of inheritance, Tejashwi demand for executive president but tej will be rebel

    News17, Aug 2019, 8:08 AM

    विरासत की जंग में बिखराव की तरफ बढ़ रही है लालू की पार्टी, तेजस्वी अड़े कार्यकारी अध्यक्ष पर तो तेज प्रताप होंगे ‘बागी’

    फिलहाल राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव जेल में है और वह दोषी घोषित होने के बाद सजा काट रहे हैं। हालांकि अभी लालू रांची की रिम्स में भर्ती हैं। लेकिन अब वह वहां से अपनी गैरमौजूदगी में पटना में पार्टी का बिखराव देख रहे हैं। लालू के परिवार में चार लोग अभी पूरी तरह से सक्रिय राजनीति में हैं। इसमें राबड़ी देवी, मीसा भारती, तेजस्वी और तेजप्रताप प्रताप शामिल हैं। लेकिन परिवार की पार्टी होने के बावजूद अब पार्टी में ही बिखराव देखने को मिल रहा है। तेजस्वी यादव ने पार्टी से पूरी तरह से दूरी बनाकर रखी है।

  • NITISH

    News22, Jul 2019, 5:07 PM

    क्या एक बार फिर बीजेपी को धोखा देने की तैयारी में हैं नीतीश, देखिए तीन अहम संकेत

    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की राजनीतिक चालों का अंदाजा उनके विरोधी तो छोड़िए मित्र भी नहीं लगा सकते हैं। पहले उन्होंने आरजेडी के साथ मिलकर बिहार में विधानसभा चुनाव लड़ा। फिर उसे किनारे करके बीजेपी का हाथ पकड़ लिया। लेकिन इन दिनों लगता है कि वह फिर से बीजेपी से हाथ छुड़ाकर आरजेडी से नाता जोड़ने की फिराक में हैं। 
     

  • Lalu Prasad

    News20, Jul 2019, 5:05 PM

    जेल से ही झारखंड चुनाव की रणनीति बना रहे हैं लालू यादव, आज की बेटे तेजस्वी से मुलाकात

    राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो लालू यादव भले ही जेल में बंद हों, लेकिन उनकी राजनीति लगातार चालू है। आज उनसे मिलने तेजस्वी यादव पहुंचे। इसके अलावा राजद के दो और प्रमुख नेताओं ने लालू से मुलाकात की। झारखंड में जल्दी ही विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। शायद इसीलिए लालू की राजनीतिक गतिविधियां बढ़ गई हैं। पिछले दिनों उन्होंने झारखंड के कई नेताओं से जेल में मुलाकात की है। 
     

  • tejashwi yadav made distance from party foundation day, senior leaders scoled him

    News6, Jul 2019, 2:26 PM

    तेजस्वी यादव ने राजद के स्थापना दिवस से बनाई दूरी, जानें किसने लगाई फटकार

    ऐसा कहा जा रहा कि तेजस्वी यादव मान गए हैं और इसके बाद वह राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल होने के लिए पहुंचे। जबकि सुबह उन्होंने पार्टी के स्थापना दिवस के कार्यक्रम से पूरी तरह से दूरी बनाकर रखी थी। जिसके बाद राजनैतिक गलियारों में तरह तरह के कयास लगने शुरू हो गए थे। हालांकि कल ही तेजस्वी ने कहा था कि वह आज पार्टी के स्थापना दिवस पर अपनी चुप्पी तोड़ेंगे।