बहारों फूल बरसाओ.. विराट कोहली आया है..

First Published 4, Dec 2018, 7:14 PM IST
Team India vs Australia
Highlights

शायद हर ऑस्ट्रेलियन क्रिकेटप्रेमी इसी बात को लेकर चिंतित है.. इस बात का उदाहरण है ऑस्ट्रेलिया के अखबार का यह पहला पन्ना.. जहां विशेष तौर पर लिखा गया है की विराट कोहली की सेना एडिलेड पहुंच चूकी है. और हो भी क्यों ना भाई, चर्चा होना लाज़मी भी है. भारतीय कप्तान विराट कोहली ने जिस तरह से पिछले दौरे पर कंगारू खिलाड़ियों की धुनाई की है उसे देखते हुए यह श्रृंखला विराट बनाम ऑस्ट्रेलिया ही मानी जा रही है. 

स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर जैसेअनुभवी खिलाड़ियों से मरहूम कंगारू टीम के तरकश में ऐसे कोई भी तीर बाकी नहीं लग रहे जो उन्हें टीम  इंडिया से बचा सकें. 
हर दम अपनी जुबानी जंग से विपक्षी टीम का स्वागत करने वाली मेजबान कंगारू टीम तो मानो अपने ही घर में चारों खाने चित दिखायी दे रही है. टेस्ट सीरिज़ से पहले माइंड गेम में महारत हासिल रखने वाली यह टीम लंबी चौड़ी भारतीय बल्लेबाजी फौज़ के सामने अपने आपको बौना साबित होती दिखायी दे रही है. इसी बीच पिछले अफ्रीका और इंग्लैंड दौरे पर विपक्षी टीम के २० विकेट लेने वाले  भारतीय तेज़ गेंदबाज़ों ने मेहमान टीम के चिंता में और इजाफ़ा कर दिया है.    

खैर.. यह तो रही कोहली की बात, मगर जहां तक भारतीय टीम का जिक्र किया जाए टी-20  सीरिज़ के बाद टीम इंडिया खिलाड़ियों के तेवर बदले बदले से लगरहे है. जुबां पर आत्मविश्वास साफ़ तौर पर छ़लक रहा है. वो भी ऐसे खिलाड़ी की मुंह से जो शायद ही किसी विवाद को अंज़ाम देने में विश्वास रखता है. टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने प्रेस कांफ्रेन्स में यह बात कह कर लोगों को अचंभित कर दिया कि ऑस्ट्रेलियन टीम भारतीय टीम से बेहतर है. अब आप इसे माइंडगेम कह लें या कुछ और.. मगर टीम इंडिया के खिलाड़ियों के शारीरिक हावभाव को देख कर यही प्रतीत होता है की यह टीम कांगारूओं से हारने नहीं बल्कि हराने आयी है. 

प्रैक्टिस सेशन के पहले दिन ओपनर पृथ्वी शॉ को छोड़ इंडिया के सभी खिलाड़ी मैदान पर दिखे. मगर सलामी बल्लेबाजी की समस्या अभी भी टीम इंडिया को सताती दिखाई दे रही है. के एल राहुल नैट्स में तेज़ गेंदबाज उमेश यादव, मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह के सामने थोड़े से गड़बडाते नज़र आए. बुमराह की एक गेंद तो राहुल की गिल्लियां बिखेर कर चली गई. वहीं शमी के बाउंसर से राहुल अपने आप को बचा नहीं पाए. तेज़ गेंदबाजों की आगे गिरती गेंदो को खेलने में भी राहुल को दिक्कतें आ रही थी. टीम के चीफ़ कोच रवि शास्त्री उसी नैट्स पर नज़रे गड़ाए हुए थे जहां पर राहुल बल्लेबाजी कर रहे थे. पहले टेस्ट के लिए राहुल का खराब फॉर्म टीम इंडीया के लिए दिक्कतें जरूर पैदा करता हुआ दिखाई दे रहा है. पिछले दौरे में अपने दूसरे टेस्ट में शतकीय पारी से टेस्ट जीवन की सफ़ल आगाज़ करने वाले राहुल पर संपूर्ण रूप से दबाव दिखायी दे रहा है.

वहीं अभ्यास मैच की पहली पारी में मौका न मिलने वाले सलामी बल्लेबाज मुरली विजय ने दूसरी पारी में शतक जड़ा था, शायद उसी फॉर्म को लेकर वो एडिलेड के नैट्स में उतरे थे. चोटिल पृथ्वी शॉ की अनुपस्थिति में  विजय और पुजारा काफ़ी आत्मविश्वास के साथ बल्लेबाजी करते हुए दिखे, 

वहीं कप्तान कोहली नैट्स पर भारतीय तेज़-तर्रार गेंदों पर पूल शॉट्स मारते हुए दिखाई दिए

loader