Women's Day: फिल्म ‘मर्दानी’ से लेकर ‘पिंक’ तक के यह 7 शानदार सीन

First Published 8, Mar 2019, 1:53 PM IST

मर्द खाना बनाए तो खाली है, औरत बनाए तो उसका फर्ज है।

मर्द खाना बनाए तो खाली है, औरत बनाए तो उसका फर्ज है।

इन लड़कों को पता होना चाहिए 'ना' का मतलब ना होता है, उसे ना बोलने वाली लड़की फिर चाहे उसकी परिचित हो, दोस्त हो, कोई सेक्स वर्कर हो या फिर उसकी अपनी बीवी ही क्यों न हो...। 'ना' का मतलब ना ही होता है।

इन लड़कों को पता होना चाहिए 'ना' का मतलब ना होता है, उसे ना बोलने वाली लड़की फिर चाहे उसकी परिचित हो, दोस्त हो, कोई सेक्स वर्कर हो या फिर उसकी अपनी बीवी ही क्यों न हो...। 'ना' का मतलब ना ही होता है।

आज तक हम सब गलत राह पर परिश्रम करते आए हैं, हमें अपने लड़को को समझाना चाहिए न की लड़कियों को क्योंकि अगर लड़को को समझा दिया तो लड़किया खदबखुद सुर्क्षित हैं।

आज तक हम सब गलत राह पर परिश्रम करते आए हैं, हमें अपने लड़को को समझाना चाहिए न की लड़कियों को क्योंकि अगर लड़को को समझा दिया तो लड़किया खदबखुद सुर्क्षित हैं।

कभी किसी को इतना भी मत डराओ, की डर ही खत्म हो जाए।

कभी किसी को इतना भी मत डराओ, की डर ही खत्म हो जाए।

कुछ करने के लिए कायदे की नहीं, इरादे की जरूरत होती है।

कुछ करने के लिए कायदे की नहीं, इरादे की जरूरत होती है।

दौड़ में हार उसकी नहीं होती जो फिसल जाता है, हार उसकी होती है जो फिसल कर नहीं उठता।

दौड़ में हार उसकी नहीं होती जो फिसल जाता है, हार उसकी होती है जो फिसल कर नहीं उठता।

अच्छे पति में अच्छा दोस्त शायद ना मिले, लेकिन अच्छे दोस्त में अच्छा पति मिलता है।

अच्छे पति में अच्छा दोस्त शायद ना मिले, लेकिन अच्छे दोस्त में अच्छा पति मिलता है।

loader