तुर्की के न्यूज चैनल का दावा, खशोगी के शव के टुकड़े सूटकेस में ले जाए गए दूतावास से बाहर

https://static.asianetnews.com/images/authors/bff11d14-81b3-52a9-a94b-86431321f9f4.jpg
First Published 31, Dec 2018, 6:28 PM IST
Khashoggi murder: Channel airs video showing men takes journalist remains in suitcase
Highlights

‘वाशिंगटन पोस्ट' सऊदी अरब के पत्रकार जमाल खशोगी की दो अक्टूबर, 2018 को हत्या कर दी गई थी।  

सऊदी अरब के पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। तुर्की के एक टेलीविजन चैनल ने एक सीसीटीवी फुटेज का प्रसारण करते हुए दावा किया कि इस्तांबुल में सऊदी अरब के महावाणिज्य दूत के निवास से सूटकेस और बैग में सऊदी अरब के दिवंगत पत्रकार जमाल खशोगी के शवों के टुकड़ों को ले जाया गया था। 

‘ए हेबर' टेलीविजन पर दिखाए गए दृश्यों में इस्तांबुल में सऊदी अरब के महावाणिज्य दूत के निवास की ओर तीन व्यक्ति पांच सूटकेस और काले रंग के दो बड़े बैग ले जाते हुए दिख रहे हैं। सऊदी वाणिज्य दूतावास से कुछ दूरी पर आवास है। अक्टूबर में दूतावास के भीतर जाने के बाद खशोगी की हत्या कर दी गी थी।

तुर्की के गुमनाम स्रोत्रों के हवाले से ‘ए हेबर' ने कहा है कि खशोगी के शव के टुकड़े इन पेटियों और बैगों में बंद थे।‘वाशिंगटन पोस्ट' में लिखने वाले खशोगी की हत्या दो अक्टूबर को कर दी गई थी। यह घटना तब हुई जब वह दूतावास के भीतर गए थे। तुर्की के अधिकारियों ने अक्टूबर में वाणिज्य दूतावास और निवास के साथ ही कई स्थानों को खंगाला था लेकिन खशोगी का शव नहीं मिला। चैनल ‘ए हेबर' ने कहा है कि बैग और सूटकेस को एक मिनीबस में रखा गया। यह बस वाणिज्य दूतावास से आवास के गैरेज की ओर गई। इसके बाद वे लोग उसे भीतर ले गए।

तुर्की के अधिकारियों और अलग-अलग मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक सऊदी सरकार के आलोचक रहे खशोगी की हत्या के लिए 15 लोग सऊदी अरब से ही आए थे।  उन लोगों ने खशोगी की हत्या करने के बाद उनके शव को टुकड़ों में काट डाला और फिर उसे तेजाब की मदद से नष्ट करने का प्रयास किया। तुर्की प्रशासन ने खशोगी के शव को सऊदी दूतावास समेत कई जगहों पर खोजने का प्रयास किया, लेकिन अब तक कुछ भी बरामद नहीं किया जा सका है। 
 

loader