अमेरिका में राष्ट्रपति पद की रेस में उतरेंगी हिंदू अमेरिकी सांसद ‘तुलसी’

https://static.asianetnews.com/images/authors/bff11d14-81b3-52a9-a94b-86431321f9f4.jpg
First Published 12, Jan 2019, 1:32 PM IST
Tulsi gabbard can contest in American president election
Highlights

अमेरिका में अगले साल यानी साल 2020 में होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनाव में हिंदू अमेरिकी सांसद तुलसी गेबार्ड भी उतरेंगी। उन्होंने शुक्रवार को यह ऐलान किया है। उनके सामने डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से भारतीय मूल की अमेरिकी कमला हैरिस भी अगले सप्ताह अपनी उम्मीदवारी का ऐलान कर सकती हैं। यानी हो सकता है कि अमेरिका का अगला राष्ट्रपति कोई भारतीय या हिंदू बने।   

अमेरिका में 2020 में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में हिंदू सांसद तुलसी गेबार्ड भी अपनी किस्मत आजमाएंगी। अमेरिका की पहली हिंदू सांसद गेबार्ड (37) ने शुक्रवार को ऐलान किया कि वह अगले साल होने जा रहा राष्ट्रपति चुनाव लड़ेंगी।

वहीं भारतीय मूल की अमेरिकी कमला हैरिस (54) भी अगले सप्ताह डेमोक्रेटिकपार्टी की ओर से अपना उम्मीदवारी का ऐलान कर सकती हैं।

अनुमान यह भी लगाया जा रहा है कि संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की स्थाई प्रतिनिधि रह चुकी निकी हेली भी रिपब्लिकन पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद की दौड़ में शामिल होने की तैयारी कर रही हैं। 

खबर है कि डोनाल्ड ट्रंप अगले साल राष्ट्रपति चुनाव में दोबारा इस पद के लिए चुनाव नहीं लड़ेंगे। क्योंकि उन्होंने अभी तक दोबारा राष्ट्रपति बनने की मंशा नहीं जताई है। 
इसलिए अगले राष्ट्रपति पद को लेकर अटकलें लगाई जा रही हैं। 

तुलसी गेबार्ड भारतीय मूल की नहीं हैं। लेकिन वह एक हिंदू परिवार के आती हैं। वह हवाई से सीनेटर हैं। उन्होंने अपने पद की शपथ गीता पर हाथ रखकर ली थीं।

तुलसी पहली बार 2011 में प्रतिनिधि सभा में चुनी गई थीं। उन्होंने सीएनएन को साक्षात्कार में बताया ‘‘मैं राष्ट्रपति चुनाव लडऩे का फैसला किया है और मैं अगले सप्ताह इस बारे में औपचारिक ऐलान करूंगी।’’ 

गेबार्ड भारत, अमेरिका संबंधों की समर्थक रही हैं। वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी समर्थक हैं। उन्होंने पाकिस्तान को अमेरिका की आर्थिक मदद में कटौती की वकालत भी की थी।

वहीं निकी हेली अमेरिकी कैबिनेट में शामिल होने वाली भारतीय मूल की पहली अमेरिकी नागरिक हैं।
 

loader