अध्यात्म

<p>rahu</p>

वृषभ राशि में 23 सितंबर से प्रवेश कर रहे हैं राहु, जानें आपकी राशि के लिए क्या हैं मायने

ज्योतिष की गणना के मुताबिक राहु ग्रह आगामी 18 महीने की अवधि के बाद 23 सितंबर से वृषभ राशि में प्रवेश कर रहे हैं। राहु को ज्योतिष में सबसे अधिक आशंका वाला ग्रह माना जाता है। जो दुर्घटनाओं, बुरे चरित्र, धोखा, भ्रष्टाचार, भय, विदेशियों, कठिन समय, उन्माद, जहर, कारावास, कर्म और बैक्टीरिया का प्रतिनिधित्व करता है। राहु के "वृषभ" राशि में प्रवेश करने के बाद 12 राशियों की किस्मत में बदलाव होगा। आचार्य जिज्ञासु जी बता रहे हैं कि आपकी राशि में राशि के वृषभ में प्रवेश करने के बाद क्या परिवर्तन होंगे।   हालांकि राहु के प्रकोप से बचने के लिए जातक पूजा और उसके उपाय  भी कर सकते हैं। 

undefined
undefined
<p>लेकिन क्या आप जानते हैं ये त्योहार भाई-बहन की नहीं, बल्कि पति-पत्नी का त्योहार है। जी हां, आप हैरान रह गए होंगे। जिसे आजतक आपने भाई-बहन का त्योहार समझा वो पति-पत्नी का त्योहार है।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>
undefined
undefined
undefined
undefined
undefined
<p>ಈ ವರ್ಷ, ನಾಗ ಪಂಚಮಿ ಜುಲೈ 25, 2020 ರಂದು ಶನಿವಾರ ಆಚರಿಸಲಾಗುವುದು.&nbsp;</p>
undefined
<p>prashant sharma yogi</p>
undefined
undefined
undefined
undefined
undefined
undefined
undefined
undefined
undefined
undefined
<p>loard shiv</p>
undefined
undefined
undefined